Home » Technology » Percentage Kaise Nikale – प्रतिशत निकालने का सूत्र एवं आसान तरीका।

Percentage Kaise Nikale – प्रतिशत निकालने का सूत्र एवं आसान तरीका।

गणित में, Pratishat या Percentage एक संख्या या अनुपात है जिसे 100 के फ्रैक्शन के रूप में व्यक्त किया जाता है। इसे मुख्य रूप से प्रतिशत चिह्न, “%” का उपयोग करके दर्शाया जाता है। अगर हमे किसी संख्या के प्रतिशत की गणना करनी है तो हमे उसको पूर्ण संख्या से विभाजित करके, उसमें 100 से गुणा करना होगा। हालांकि बहुत से स्टूडेंट्स को Percentage Kaise Nikale इस बात को लेकर उलझन रहती है।

[toc]

अगर आप भी उन स्टूडेंट्स में से एक हैं जो इस सवाल को लेकर परेशान रहते है कि, प्रतिशत कैसे निकालते हैं तो अब आपको परेशान होने की बिलकुल आवश्यकता नहीं है, क्यूंकि आज के लेख में हम आपको बताएँगे कि Percent Kaise Nikaalte Hain और प्रतिशत निकालने का सूत्र क्या है।

Percentage Kaise Nikale

Percentage किसे कहते है?

प्रतिशत या Percentage शब्द से तात्पर्य ‘सौ’ के आंकड़े से होता है। जिसे सरल भाषा में ‘प्रति सौ’ कहा जाता है। प्रति सौ का मतलब है कि जब भी आप किसी आंकड़े या संख्या को 100 से भाग देते है तो उस आंकड़े के आगे प्रतिशत (%) का चिन्ह लग जाता है। जैसे कि, संख्या 50 को 100 से भाग देने पर (50/100) उसके आगे प्रतिशत (50%) लग जाता है।

Percentage Kaise Nikale

प्रतिशत की गणना मूल्य को कुल मूल्य से विभाजित करके और फिर परिणाम को 100 से गुणा करके की जा सकती है। प्रतिशत की गणना करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला सूत्र है: (मान/कुल मूल्य)×100%

शब्द “प्रतिशत” लैटिन शब्द “प्रति सेंटम” से लिया गया था, जिसका अर्थ है “सौ द्वारा”। प्रतिशत वे भिन्न (Fraction) होते है जिनमें हर के रूप में 100 होते है। दूसरे शब्दों में, यह भाग और संपूर्ण के बीच का संबंध है जहां पूर्ण का मान हमेशा 100 के रूप में लिया जाता है।

ये तो बात हुई Pratishat Kaise Nikaalte Hain या Percentage Kaise Nikalte Hain के बारे में, चलिए अब विस्तारपूर्वक जानते हैं Percentage Nikalne Ka Tarika या Pratishat Nikalne Ka Tarika क्या होता है।

क्या आपने इसे पढ़ा: CGPA Kya Hai? CGPA Full Form in Hindi

Percentage Nikalne Ka Formula

प्रतिशत सूत्र का उपयोग 100 के संदर्भ में एक पूरे के हिस्से को खोजने के लिए किया जाता है। इस सूत्र का उपयोग करके, आप एक संख्या को 100 के अंश के रूप में प्रस्तुत कर सकते है। यदि आप ध्यान से देखें, तो निचे दिखाए गए ‘परसेंटेज कैसे निकलते है’ के सभी तीन तरीकों की गणना आसानी से की जा सकती है। नीचे दिए गए सूत्र का उपयोग करके Percentage Kese Nikale के बारे में जाने:

1. ऐसे निकाले Percentage

Percentage Kaise Nikala Jata Hai इसका पता लगाने का सबसे आसान तरीका होता है कि, परीक्षा में जितने अंक आपको मिले है उसको 100 से गुणा (Multiply) दें, इसके बाद जो भी परिणाम आपको प्राप्त होगा, उसे कुल अंकों से भाग (Divide) दें दें।

Percentage Ka Formula होता है –

 Scored Marks × 100 ÷ Total Marks = Percentage 

जैसे- एक स्टूडेंट को 1000 में से 800 मिले हैं तो उसका Percentage इस तरह निकाला जायेगा:

800*100÷1000= 80%

2. Percentage से नंबर या अंक पता करें

कभी-कभी ऐसा होता है की हमारे पास Percentage मौजूद होता है मगर हमे इस बात का ज्ञान नहीं होता की हमें कितने नंबर मिले है। इस परिस्थिति में Pratishat Kaise Nikale ये सवाल खड़ा हो जाता है।

हालाँकि, इसका पता लगाने के लिए अपने अंक को एक वैल्यू में मानना होगा जैसे कि, आपको अपने अंक को X मानना होगा। इसके बाद आपको कुल नंबर को 100 से गुणा (Multiply) करना होगा। अब आपके पास जो भी अंक आए है, उसको Percentage से Divide करना होगा।

जैसे – एक स्टूडेंट ने 1000 अंक का पेपर दिया है और उसका Percentage 60% है तो स्टूडेंट अपने नंबर का पता लगाने के लिए ये परसेंटेज फार्मूला इस्तेमाल करेगा:

 1000*60/100 = 600 

3. Percentage से निकाले कुल नंबर

कभी-कभी ऐसा होता है कि, हमें यह नहीं पता होता है कि हमारा पेपर कुल कितने मार्क्स का था। अगर आप अपने पेपर के कुल मार्क्स का पता लगाना चाहते हैं तो आपको जितने नंबर मिले है उसे 100 नंबर से गुणा करना होगा। इसके बाद आपको जो भी रिजल्ट प्राप्त हो, उसे अपने Percentage से भाग (Divide) करना होगा। ऐसा करने पर आपको पेपर के कुल मार्क्स के बारे में पता चल जायेगा।

जैसे- एक स्टूडेंट को एग्जाम में 400 मार्क्स मिले है और उसका Percentage 60% बना है तो वो इस तरह से कुल मार्क्स का पता लगाएगा:

 400*100 ÷ 60% = 800 

इसे भी पढ़े: Admit Card Kaise Nikale – एडमिट कार्ड देखने के लिए पूरी प्रोसेस।

Percentage Formula In Hindi

1. प्रतिशत एरर फार्मूला (Percentage Error Formula)

  % एरर = एरर × 100 / वास्तविक कीमत
(% error = error × 100 / actual price) 

उदाहरण:

Q. रेखा ने अपने पेन की लंबाई 16 सेमी मापी। जबकि वास्तव में लंबाई 14 सेमी है, तो रेखा की Calculation में Percentage Error कितना है?

हल – इसमें रेखा द्वारा मापने में 2 सेमी Error हुआ है।

% एरर = 2× 100 / 14 = 14.28 %

2. असली कीमत फार्मूला (Percentage Original Value Formula)

  मूल मूल्य = नया मूल्य × 100 / 100 + % परिवर्तन
(Original Price = New Price × 100 / 100 + % Change) 

उदाहरण:

Q. सुनिधि एक पर्स खरीदती है और उसे 2000 में बेचकर 25% लाभ कमाती है। पर्स की लागत ज्ञात कीजिए।

हल- पर्स की लागत ज्ञात करने के लिए हम इस फार्मूला का इस्तेमाल करेंगे:

2000 × 100

—————– =1600

100 + 25

पर्स की लागत 1600 है।

3. प्रतिशत परिवर्तन फार्मूला (Percentage Change Formula)

  % परिवर्तन = नया मूल्य – मूल मूल्य × 100 / मूल कीमत
(% Change = New Price – Original Price × 100 / Original Price) 

उदाहरण:

Q. एक Pineapple की कीमत 42 से 56 हो जाती है। अनन्नास की कीमत में कितने प्रतिशत की वृद्धि हुई है?

हल- % परिवर्तन = 56–42× 100 / 42 = 33.33%

4. प्रतिशत वृद्धि और ब्याज फार्मूला (Percentage Increase And Interest Formula)

  नया मान = 100 + प्रतिशत वृद्धि × मूल मूल्य / 100
(New Value = 100 + Percentage Increase × Original Value / 100) 

उदाहरण:

Q. मनोज ने अपने बैंक खाते में 1000 रूपये डाले जिससे उसे प्रतिवर्ष 8% ब्याज मिलता है। जब वो 1 साल के बाद अपना पैसा निकलेगा तो, नया मूल्य कितना होगा?

हल- नया मूल्य = (100 + 8 × 1000) / 100 = 1080 रूपये

एक नज़र इस पर भी: Typing Speed Kaise Badhaye – अपनाएं ये 5 शॉर्टकट तरीके।

Discount Percentage Kaise Nikale M.R.P Se

अगर आप MRP से किसी प्रोडक्ट का डिस्काउंट Percentage Kaise Nikale Formula पता करना चाहते है तो इसके लिए आपको डिस्काउंट अमाउंट निकालने का फार्मूला और परसेंटेज का फार्मूला इस्तेमाल करना होगा। आगे हमने आपको डिस्काउंट प्रतिशत निकालने का आसान तरीका उदाहरण से समझाया है।

उदाहरण- माला अपने लिए सूट खरीदने बाज़ार गयी। जिसका पहले दाम 800 रूपये था, अब वही सूट उसे 600 में मिल रहा है, बताएं माला को उस कपड़े पर कितना प्रतिशत डिस्काउंट मिल रहा है?

उत्तर- डिस्काउंट निकालने के लिए सबसे पहले आपको प्रोडक्ट के ओरिजिनल प्राइस से सेलिंग प्राइस को घटना होगा।

 डिस्काउंट अमाउंट फार्मूला = M.R.P – Selling Price (SP) 

डिस्काउंट अमाउंट = 800 – 600
डिस्काउंट अमाउंट = 200

अब डिस्काउंट परसेंटेज निकालने के लिए,

 डिस्काउंट पर्सेंटेज फार्मूला = डिस्काउंट अमाउंट x100/M.R.P 

डिस्काउंट पर्सेंटेज = 200×100/800 = 20000/800
डिस्काउंट पर्सेंटेज = 25

यानी माला को कपड़ों पर 25% डिस्काउंट मिल रहा है।

अब ज़्यादातर कस्टमर्स को डिस्काउंट परसेंटेज तो पता होता है लेकिन उन्हें डिस्काउंट के बाद कितना प्राइस देना होगा यह नहीं पता होता। तो चलिए जानते है एक उदाहरण से की प्रोडक्ट का डिस्काउंट परसेंटेज पता होने पर Selling Price कैसे निकालें या जो दाम कस्टमर को देना है वो कैसे पता करें।

जैसे- राधा को एक पर्स बहुत पसंद आया जिसका MRP 2000 रूपये था और उस पर डिस्काउंट ऑफर 30% लिखा हुआ था, तो बताइए राधा को वो पर्स खरीदने के लिए कितने रूपये दुकानदार को देना होगा।

 सेलिंग प्राइस फार्मूला = MRP – (डिस्काउंट परसेंटेज x MRP) 

सेलिंग प्राइस = 2000 – (30% x 2000) = 2000 – (30/100 x 2000)

सेलिंग प्राइस = 2000 – 600
सेलिंग प्राइस = 1400

यानी, राधा को वो पर्स खरीदने के लिए 1400 रूपये दुकानदार को देने होंगे।

Calculator se Percentage Kaise Nikale

यदि आप कैलकुलेटर से % Kaise Nikale जानना चाहते है तो इसके लिए कैलकुलेटर में सबसे पहले वो नंबर लिखे जिसकी परसेंटेज आप निकलना चाहते है, फिर उस नंबर के बाद इस ‘%’ चिन्ह पर क्लिक करें और इस ‘=’ चिन्ह वाले बटन को दबा दें, जवाब आपके सामने होगा। आइये इसे उदाहरण से समझने का प्रयास करते हैं।

जैसे- आपको कैलकुलेटर में किसी प्रोडक्ट का डिस्काउंट परसेंटेज कैसे निकालते हैं ये जानने के लिए आपको कैलकुलेटर में सबसे पहले MRP से Selling Price घटाना होगा, फिर जो नंबर आये उसके आगे प्रतिशत का चिन्ह दबा कर, ये ‘=’ दबाने से डिस्काउंट परसेंटेज आ जायेगा।

जैसे- अगर MRP 300 रूपये है और सेलिंग प्राइस (SP) 150 रूपये है तो कैलकुलेटर में,

300 – 150 = 150 (डिस्काउंट अमाउंट)

अब डिस्काउंट प्रतिशत निकलने के लिए,

 150×100/300 = 50 

यानी, 50% डिस्काउंट है।

प्रतिशत वृद्धि की गणना कैसे करें?

जब नई वैल्यू ओरिजिनल वैल्यू से अधिक होती है, तो वैल्यू में प्रतिशत परिवर्तन ओरिजिनल संख्या में प्रतिशत वृद्धि दर्शाता है। जिसकी कैलकुलेशन या गणना इस प्रकार की जा सकती है:

 मूल्य में वृद्धि = नया मूल्य (New Value) – मूल मूल्य (Original Value) 

प्रतिशत में कमी की गणना कैसे करें?

जब नई वैल्यू ओरिजिनल वैल्यू से कम होती है, तो वैल्यू में प्रतिशत परिवर्तन ओरिजिनल संख्या में प्रतिशत कमी को दर्शाता है। जिसकी कैलकुलेशन या गणना इस प्रकार की जा सकती है:

 मूल्य में कमी = मूल मूल्य (Original Value) – नया मूल्य (New Value) 

Percentage का इस्तेमाल कहाँ-कहाँ किया जाता है?

प्रतिशत या Percentage मैथ्स का एक ऐसा टर्म है जिसका इस्तेमाल ज़्यादा से ज़्यादा जगह किया जाता है। Percentage Kaise Nikaalte Hain इसका जवाब तो आपको मिल गया होगा, पर वो कौनसी जगह है जहाँ Percentage का सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया जाता है:

  • Percentage का सबसे ज़्यादा इस्तेमाल दो Quantities की तुलना करने के लिए किया जाता है।
  • Profit और Loss निकालने के लिए भी Percentage का इस्तेमाल किया जाता है।
  • Results को Review करते समय या उसका Comparison करते समय, Percentage सहायक होता है।
  • Data का Valuation करते समय Percentage का इस्तेमाल किया जाता है।
  • Numerical Data को आसानी से निकालने के लिए Percentage का इस्तेमाल किया जाता है।

Conclusion

तो इस तरह आपने सीखा कि Percent Kaise Nikale या प्रतिशत में वृद्धि एवं कमी की गणना कैसे करते है। आज के लेख में हमने आपके सभी डाउट को दूर करने का प्रयास किया है और हमे आशा है कि, Percent Kaise Nikaalte Hain इस सवाल का जवाब अब आपको मिल गया होगा। फिर भी इस लेख Parsent Kaise Nikale से जुड़े आपके कोई डाउट, सवाल या सुझाव हो तो आप हमे कमेंट करके जरूर बताये, हम आपसे जरूर संपर्क करेंगे। अगर आपको हमारा आज का लेख  Percentage Kaise Nikale In Hindi पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तों और सहपाठियो के साथ ज़रूर Share करें।

FAQs

1. प्रतिशत क्या है?

प्रतिशत का मतलब होता है ‘सौ में से’। इसका इस्तेमाल Fraction और Decimals की तरह किया जाता है।

2. प्रतिशत का फार्मूला क्या है और प्रतिशत कैसे निकाले?

प्रतिशत =  वास्तविक मूल्य x 100% ÷ कुल मूल्य

3. हमें प्रतिशत की आवश्यकता क्यों होती है?

यह आसानी से 2 Values के बीच का Difference निकालने के लिए और उनके बीच का Comparison करने में मदद करता है।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 4.8 / 5. Vote count: 553

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

एडिटोरियल टीम

एडिटोरियल टीम, हिंदी सहायता में कुछ व्यक्तियों का एक समूह है, जो विभिन्न विषयो पर लेख लिखते हैं। भारत के लाखों उपयोगकर्ताओं द्वारा भरोसा किया गया।Email के द्वारा संपर्क करें - [email protected]

Leave a Comment