GPS Kya Hai? GPS Kaise Kaam Karta Hai जानिए हिंदी में - Hindi Sahayta
Akansha Panwar Tech

हैलो दोस्तों Hindi Sahayta में आपका स्वागत है। आज की पोस्ट में आप जानेंगे की GPS Kya Hai इस पोस्ट में हम आपको GPS Meaning In Hindi के बारे में बताएँगे। यदि आप भी GPS की जानकारी प्राप्त करना चाहते है। तो इस पोस्ट के जरिये आपको हम इसकी पूरी जानकारी देंगे।

GPS Kaise Chalaye यह भी आप इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे। और हम आपको यह बिल्कुल सरल भाषा में समझाएँगे। आशा करते है की आपको हमारी सभी पोस्ट पसंद आ रही होगी। और इसी तरह आप आगे भी हमारे ब्लॉग पर आने वाली सारी पोस्ट पसंद करते रहे।

आज Technology इतनी ज्यादा बढ़ गई है जिससे हम अपने सारे काम Online ही मोबाइल पर कर सकते है। आज सभी Smartphone Users इन Technology का उपयोग करते है। और इन्हीं में से एक है GPS आप GPS की मदद से किसी भी Location को जान सकते है। उसका पता लगा सकते है।

Contents

आपने भी अपने मोबाइल में GPS का इस्तेमाल तो किया होगा। या आपने Google Map अपने मोबाइल में चलाया होगा। तो इसके लिए Phone में सबसे पहले हमें GPS On करना पड़ता है। हम अपने मोबाइल में जब भी कुछ Location से Related Apps का इस्तेमाल करते है तो हमें GPS On करना होता है।

तो आइये दोस्तों अब जानते है GPS Kya Hota Hai In Hindi के बारे में और साथ ही हम आपको GPS Ka Full Form भी बताएँगे। अगर आप इसकी पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो यह पोस्ट GPS Kya Hai In Hindi शुरू से अंत तक ज़रुर पढ़े।

GPS Kya Hai

GPS का इस्तेमाल किसी भी जगह की Location को पता करने के लिए किया जाता है। यह एक Global Navigation Satellite System है। आप इसकी मदद से कितनी भी दूरी का पता लगा सकते है।

इसका इस्तेमाल सबसे ज्यादा आज Location को पता करने के लिए किया जाता है। जैसे किसी की Location Track करने में, Map बनाने में भी इसका उपयोग किया जाता है।

जरूर पढ़े: Android App Kaise Banaye? – Android App बनाने का सबसे आसान तरीका हिंदी में!

आज आपको यह सुविधा सभी Smartphone में मिलेगी। लेकिन सभी लोग इसका इस्तेमाल नहीं करते है। GPS को सबसे पहले अमेरिका के Defence Department ने 1960 में बनाया था।

इसका सबसे ज्यादा उपयोग रास्ता ढूंढने के लिए होता है। GPS Train, Aircraft, Bus आदि Transportation Service में बहुत ज्यादा उपयोग की जाती है।

GPS Full Form

Global Positioning System

GPS Full Form In Hindi

वैश्विक स्थान-निर्धारण प्रणाली

GPS Kaise Use Kare

GPS का उपयोग किस तरह से किया जाता है। यह हम आपको नीचे बता रहे है। इस Technology का इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है। तो जानते है अब GPS Kaise Chalaye

इसके लिए आपको सबसे पहले अपने मोबाइल में GPS के Option को On करना है। GPS को अपने मोबाइल में On करने के बाद Search Box में उस Location का नाम या जगह का नाम डाले, जो आपको Search करना है। जैसे आप कहीं जाना चाहते है या आप अपनी Location पता करना चाहते है तो आपकी Screen पर एक Green Colour का Point दिया होगा।

वो Point जहाँ पर आपको दिखाई दे रहा है उस जगह पर ही आपकी Location है। GPS में बहुत सी Settings होती है। आप अपने अनुसार उसकी Setting कर सकते है। आप यह भी पता लगा सकते है की आप अपनी Location से कितनी दूर है।

GPS Kaise Kaam Karta Hai

यह Satellite के द्वारा काम करता है। इन Satellite से पृथ्वी पर Signal भेजे जाते है। GPS इन Signals को जोड़ता है। Satellite से जो Signals आते है GPS उन Signals को Map में Show करता है। अमेरिका ने 50 से भी ज्यादा GPS Satellite Launch किये है|

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: TeamViewer Kya Hai? TeamViewer Kaise Download Kare – जानिए TeamViewer Ko Computer Aur Mobile Me Kaise Use Kare हिंदी में!

प्रत्येक Satellite 24 घंटे Signal भेजते रहता है। Receiver उन Signals का समय और दूरी को भी Receive करता है यदि आपका Phone Signal Receive करता है तो आपको अपनी Location का पता लग जाता है। मोबाइल में 2 तरह के GPS का प्रयोग किया जाता है जिनकी जानकारी आपको नीचे दी गई है:

  • Assistant GPS

इस GPS का प्रयोग जब GPS Positioning System शुरू होता। है तो उसकी Process की Speed को बढ़ाने के लिए करते है। तथा जब Signal Lock होता है तब Assistant GPS Position को Lock करने के लिए Receiver की मदद करता है। इसे Web Based Internet Server कहा जाता है। जो पहले से Satellite की जानकारी को Store करके रखता है।

  • Simultaneous-GPS

इससे मोबाइल को GPS और Voice Data एक ही समय में मिलते है। Network Carrier के लिए Satellite पर आधारित Reporting को Improve करने के लिए यह तरीका अपनाया जाता है। इससे ही Network Provider, Location Service Provide करते है।

  • GPS Locking

हमें जब किसी चीज का बिल्कुल सही पता लगाना होता है तब GPS Locking का प्रयोग किया जाता है। इससे हम किसी भी Device की बिल्कुल सही Location पता कर सकते है।

GPS Lock Tracker की Speed पर निर्भर करता है। अगर कोई Driving कर रहा है तो उसकी Speed कम हो जाती है। तथा उसकी Location का पता लगाने में समय लगेगा। GPS Locking 3 प्रकार की होती है। जिनके बारे में आपको हम नीचे बता रहे है।

  • Hot Start

अगर GPS को आपकी Last Location पता होती है। तथा साथ ही Utc Time भी पता होता है। तो यह उस Satellite की मदद लेता है।

और उस जानकारी के अनुसार नई Location का पता लगाता है। तथा यह प्रक्रिया आपकी Location के उपर भी निर्भर होती है। यदि GPS Receiver Last Position के नज़दीक होता है तो Tracking की Speed तेज हो जाती है।

  • Warm Start

इसमें GPS इस जानकारी के साथ ही पहले वाली जानकारी को भी Store करके रखता है। इस प्रकार से Receiver पूरे Data को Reset कर देता है। और नई Location का पता करने के लिए Satellite Signals का इस्तेमाल करता है। ये थोड़ा Slow होता है लेकिन कुछ ही समय में Tracking कर लेता है।

  • Cold Start

इसमें कोई भी जानकारी पहले से नहीं होती है। यह अपनी Tracking शुरू से ही Start करता है। इसलिए इसमें Location को Trace करने में समय ज्यादा लग जाता है।

Conclusion

आज की पोस्ट के माध्यम से आपने जाना की GPS Kya Hai और आपको इस पोस्ट के द्वारा हमने GPS Ka Full Form Kya Hai यह भी बताया। आशा करते है की आपने इस पोस्ट के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त की होगी।हमारी पोस्ट GPS Kya Hai में आपको कोई परेशानी है या आपका कोई सवाल है, इस पोस्ट के बारे में तो Comment Box में Comment करके हमसे पूछ सकते है। हमारी Team आपकी Help ज़रुर करेगी।

GPS Full Form And Meaning In Hindi यह जानकारी भी हमने आपको इस पोस्ट में दी। आप भी अब अपने मोबाइल में GPS का इस्तेमाल करके अपनी Location की दूरी को पता कर सकते है। और आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें Comment करके बताये।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: Freelancer Kya Hai? Freelancer Par Account Kaise Banaye – जानिए Freelancer Se Paise Kaise Kamaye विस्तार से!

GPS Kaise Kaam Karta Hai यह भी आज आपने जाना। इस पोस्ट की जानकारी आप अपने Friends को भी दे। तथा Social Media पर भी यह पोस्ट GPS Kya Hota Hai In Hindi ज़रुर Share करे। जिससे और भी ज्यादा लोगों के पास यह जानकारी पहुँच सके।

यदि आप हमारी Website के Latest Update पाना चाहते है, तो आपको हमारी Hindi Sahayta की Website को Subscribe करना होगा। फिर मिलेंगे आपसे ऐसे ही New Technology की जानकारी लेकर तब तक के लिए अलविदा दोस्तों हमारी पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद, आपका दिन शुभ हो।

Leave a comment

अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न

हिंदी सहायता क्या है?







हिंदी सहायता एक वेबसाइट है जिस पर अनेक प्रकार की जानकारियों को लेखों के माध्यम से पाठकों तक पहुँचाया जाता है। जिन्हें हिंदी भाषा में लिखकर सरल रूप में समझाया जाता है।

हिंदी सहायता की शुरुआत किसने की?







हिंदी सहायता 15 अगस्त 2017 को नीरज जीवनानी के द्वारा शुरू की गई थी।

हिंदी सहायता का उद्देश्य क्या है?







हमारी वेबसाइट हिंदी सहायता का सबसे मुख्य उद्देश्य लोगों तक इंटरनेट और आधुनिक तकनीकों से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारियों को प्रदान करना है। इसके साथ ही देश की मातृभाषा हिंदी के महत्व को बनाये रखना भी है। जो भारत देश की सबसे प्रिय भाषा है।

हिंदी सहायता पर किस प्रकार के लेख मौजूद है ?







हिंदी सहायता पर कई तरह के लेख है जिनके बारे में जानना आपके जीवन के लिए आवश्यक है जैसे – शिक्षा संबंधी लेख, तकनीकी संबंधी लेख, स्वास्थ्य संबंधी लेख, ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए तथा और भी विभिन्न प्रकार के लेख मौजूद है। जिनसे आपको बहुत कुछ सीखने को भी मिलता है और आपका काम भी आसान हो जाता है।

हिंदी सहायता अन्य वेबसाइट से क्यों बेहतर है ?







इस वेबसाइट पर आपको बहुत ही सरल भाषा में जानकारी दी जाती है लेख इस प्रकार से लिखे गए होते है जो आसानी से समझ में आ सके शब्दों को बिल्कुल सामान्य रूप में अभिव्यक्त किया जाता है

क्या हिंदी सहायता पर मेरे सवालों का उत्तर दिया जाएगा ?







हाँ आपके सभी सवालों के जवाब दिए जाएँगे आपको किसी लेख में कोई परेशानी आती है तो आप हमसे जरुर पूछे लेखों से जुड़ी परेशानी को दूर करने में हम आपकी मदद करेंगे

अपना बहुमूल्य सुझाव दे |