विज्ञान ने आज बहुत तरक्की कर ली है। विज्ञान के क्षेत्र में प्रत्येक दिन किसी ना किसी तरह की खोज होती रहती है। इनमें से एक खोज है DNA जो मनुष्य शरीर के सबसे आवश्यक अणुओं में से एक है। जिसके द्वारा किसी व्यक्ति के आपसी संबंध या पारिवारिक संबंध का पता लगाना बहुत आसान है और आज हम इसी विषय पर बात करेंगे और जानेंगे की डीएनए की परिभाषा क्या है।

विज्ञान के इस दौर में अब 1200 तरह के DNA Test किये जा सकते है। नवजात बच्चों की बीमारी का पता भी DNA के द्वारा लगाया जा सकता है। DNA की सबसे अधिक मात्रा बाल और त्वचा पर पायी जाती है। तो चलिए अब जानते है डीएनए का मतलब क्या है और डीएनए की पूरी जानकारी।

DNA Kya Hai

मानव शरीर विभिन्न तरह की कोशिकाओं और अणुओं से मिलकर बना होता है। इनमें एक अणु होता है DNA यह अणु मनुष्य के शारीरिक संबंध को बताता है, जिससे परिवार और वंश के बारे में पता लगाया जा सकता है जैसे- भाई-बहन, माता-पिता तथा परिवार का पता लगा सकते है, मतलब DNA में जेनेटिक गुण पाए जाते है। डीएनए प्रतिकृति एक घुमावदार सीढ़ी की तरह होती है।

DNA Full Form

DNA Ka Full Form होता है।DEOXYRIBONUCLEIC ACID

DNA Ki Khoj Kisne Ki/DNA Ki Khoj Kab Hui

डीएनए के खोजकर्ता जेम्स वाटसन और फ्रैंकिस क्रिक है जिन्होंने 1953 में डीएनए की खोज की थी।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: Scientist Kaise Bane? – इसरो में साइंटिस्ट बनने के लिए योग्यताएं व परीक्षा की पूरी जानकारी!

DNA Ke Prakar

डीएनए न्यूक्लियोटाइड नाम के अणुओं से मिलकर बना होता है। हर एक न्यूक्लियोटाइड के भी 3 प्रकार होते है फास्फेट अणु, शुगर अणु, नाइट्रोजन बेस। नाइट्रोजन बेस भी 4 प्रकार के होते है जो DNA Ki Sanrachna बनाते है।

  • एडेनिन
  • ग्वानिन
  • थायमिन
  • साइटोसिन

यह नाइट्रोजन बेस के 4 प्रकार है। इस तरह से डीएनए संरचना तैयार होती है।

जरूर पढ़े: Biotechnology Kya Hai? Biotechnology Me Career Kaise Banaye? – जानिए Scope Of Biotechnology In Hindi!

DNA Ke Karya

शरीर में डीएनए का क्या कार्य होता है, यह क्यों महत्वपूर्ण है इसके बारे में आगे बताया गया है। जानते है डीएनए के कार्य क्या होते है।

  • डीएनए शरीर की आनुवांशिक क्रियाओं का संचालन करता है।
  • जितने भी प्रोटीन संश्लेषण होते है उनको नियंत्रण में रखना भी डीएनए का कार्य होता है।
  • डीएनए का सबसे महत्वपूर्ण कार्य जेनेटिक कोड को प्रयोग में लेकर प्रोटीन में पाए जाने वाले Amino Acid अवशेष का जो अनुक्रम होता है उसे एन्कोड करना है।

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: AIDS Kya Hai? AIDS Ke Lakshan Kya Hai? – जानिए AIDS Aur HIV Se Bachne Ke Tarike हिंदी में!

DNA Ke Rochak Tathya

आगे हम DNA Ke Baare Mein कुछ रोचक DNA Facts आपको बताने वाले है।

  • डीएनए परीक्षण करने के लिए गाल की कोशिकाएं, मूत्र का सैंपल तथा खून का इस्तेमाल किया जाता है।
  • प्रत्येक दिन शरीर में लगभग 1,000 से 10 लाख तक DNA नष्ट हो जाते है।
  • मनुष्य शरीर में जो DNA होता है वह केले, गोभी और चिम्पांजी के DNA की संरचना के समान होता है।
  • सबसे हैरान कर देने वाला तथ्य है की केवल एक चम्मच DNA में दुनिया की जितनी भी प्रजाति है उनकी जानकारी को रख सकते है।
  • पुरे विश्व के इंटरनेट डाटा को सिर्फ 2 ग्राम DNA में स्टोर किया जा सकता है।
  • मानव शरीर में बीस हजार से पच्चीस हजार जीन होते है।
  • DNA मनुष्य की प्रत्येक कोशिका में होता है। जब कोशिकाएं विभाजित होती है तब डीएनए अपनी एक कॉपी बनाता है जिससे की दोनों तरह की कोशिकाओं में एक-एक डीएनए पहुँच सके।
  • यदि डीएनए को पूरी तरह से फैलाये तो 600 बार यह पृथ्वी से सूरज तक जाकर दोबारा आ सकता है।
  • सभी मनुष्यों का DNA 99.9 प्रतिशत सामान ही होता है।
  • सूर्य की UV किरणों से DNA नष्ट हो सकता है।

Conclusion:

डीएनए हमारे शरीर के लिए बहुत आवश्यक होता है, इसके द्वारा बहुत सी आवश्यक बातों का पता लगाया जा सकता है। आपराधिक जांच में भी DNA का प्रयोग किया जाता है। जेनेटिक समस्याओं को सुलझाने में भी DNA का प्रयोग करते है। तो दोस्तों डीएनए क्‍या है यह जानकारी अपने सोशल मीडिया ग्रुप में भी शेयर करे और उम्मीद है आपको DNA Ki Jankari अच्छी लगी होगी। यदि आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो पोस्ट को Like ज़रुर करे, धन्यवाद!

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here