Home » Health » Appendix Kya Hota Hai? जानिए Appendix Kyun Hota Hai और अपेंडिक्स क्या खाने से होता है।

Appendix Kya Hota Hai? जानिए Appendix Kyun Hota Hai और अपेंडिक्स क्या खाने से होता है।

दोस्तों आज हम आपको Appendix Kya Hota Hai के बारे में बताने जा रहे हैं, Appendix हमारे शरीर के विभिन्न भीतरी अंगों में से एक अंग है, यह मनुष्य के शरीर में पेट के दायी ओर पाया जाने वाला आंत का एक टुकड़ा होता है, जो एक ट्यूब के समान होता है, यह छोटी और बड़ी आँत दोनों के बीच होता है, इस ट्यूब दो सिरे होते है जिसमें से एक सिरा बंद और दूसरा सिरा खुला रहता है अगर इस खुले सिरे से अपेंडिक्स में खाना चला जाता है, तो वह दोबारा बाहर नही आ पाता इससे अपेंडिक्स में इन्फेक्शन होने लगता है, जिससे धीरे-धीरे पेट के दायीं ओर सूजन और दर्द होने लगता है और इससे Appendix की बीमारी हो जाती है, इस बीमारी को डॉक्टरी भाषा में अपेंडिसाइटिस कहते हैं।

[toc]

क्या आप जानते हैं अपेंडिक्स क्या खाने से होता है और Appendix Kaise Hota Hai तो अपेंडिक्स 10 से 30 वर्ष के व्यक्तियों को अधिक होती है यह हमारे पेट से जुड़ी बीमारी होती है जिससे पेट में असहनीय दर्द होता है ये दर्द तेज़ तब होता है जब पेट से मल नही निकल पता और अपेंडिक्स ब्लाक हो जाता है। जिस कारण अपेंडिक्स पर अवरोध के कारण दबाव पड़ता है और इस अंग में दर्द शुरू हो जाता है और रक्त प्रवाह पर भी प्रभाव पड़ता है अगर समय रहते इसका इलाज नही करवाया जाता है तो यह फट भी सकती है जिससे एब्डोमेन में संक्रमण फैल सकता है।

तो अगर आप भी Appendix in Hindi से जुड़ी पूरी जानकारी पाना चाहते है तो इसके लिए आपको हमारी इस पोस्ट Appendix Kyu Hota Hai को शुरू से लेकर अंत तक पढना होगा तभी आप अपेंडिक्स में क्या नहीं खाना चाहिए और Appendix Me Kya Khana Chahiye के बारे में जान पाएंगे हमे उम्मीद है की हमारी यह पोस्ट आप सभी के लिए उपयोगी होगी और आपको ज़रूर पसंद आयेगी।

 

Appendix Kya Hota Hai

Appendix यह मनुष्य के शरीर में पेट के दायी और पाई जाने वाले पतली ट्यूब होती है जो छोटी आँत और बड़ी आँत के मिलने वाले स्थान के पास स्थित होती है। यह ट्यूब लगभग 4 इंच लंबी होती है। अपेंडिक्स छोटी और बड़ी आँत दोनों के बीच होती है, इस ट्यूब का एक छोर बंद और दूसरा छोर बड़ी आँत से जुड़ा होता है। इस बीमारी के होना का कारण गलत खान-पान और लाइफ स्टाइल होता है। बड़ी आँत से जुड़े होने के कारण इससे हमारे शरीर में अन्य बीमारियों के बढ़ने की समस्या बढ़ सकती है, कई बार इलाज में देरी होने के कारण यह बीमारी गंभीर रूप ले लेती है इसलिए समय रहते इसका इलाज करवा लेना चाहिये।

CT स्कैन और MRI स्कैन से इसका पता आसानी से लगाया जा सकता है।  इस वजह से सर्जरी के दौरान अपेंडिक्स को हमारे शरीर का अनुपयोगी अंग समझकर बाहर निकाल दिया जाता है। लेकिन ऐसा मानना है की अपेंडिक्स बैक्टीरिया के लिए एक अच्छे भंडार गृह के रूप में कार्य करती है जो दस्त की बीमारियों के बाद हमारे पाचन तंत्र को मजबूत करती है।

आइये अब आगे Appendix Kyun Hota Hai और Appendix Kaha Hota Hai के बारे में जानते हैं।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: Acidity Kaise Hoti Hai? Acidity Hone Ke Karan क्या है – जानिए Acidity Se Bachne Ke Upay विस्तार में!

Appendix Kyu Hota Hai

Appendix एक एक पेट से जुड़ी बीमारी है जिसे डॉक्टरी भाषा मे अपेंडिसाइटिस कहा जाता है। अपेंडिक्स हमारी आँत का एक छोटा सा हिस्सा होता है जिसके दो सिरे होते है जिसमे एक सिरा बंद और एक सिरा खुला रहता है अगर खुले सिरे से अपेंडिक्स में खाना चला जाता है तो वह दोबारा बाहर नही आ पाता इससे अपेंडिक्स में इन्फेक्शन होने लगता है जिससे धीरे-धीरे पेट के दायीं ओर सूजन और दर्द होने लगता है और इस दर्द से बचने के लिए लोग ऑपरेशन का सहारा लेते है जिसको करवाते समय आपको बहुत दर्द सहन करना पड़ता है।  Appendix बीमारी है।

उम्मीद है कि आप ऊपर हमारे द्वारा बताई गई जानकारी के अनुसार Appendix Meaning in Hindi अथवा Appendix Kya Hai और अपेंडिक्स क्यों होता है के बारे में जान गए होंगे अब आगे हम आपको Appendix Bimari के लक्षण और अपेंडिक्स से बचाव के बारे में बताएँगे:

Appendix Ke Lakshan

तो चलिए अब Appendix Bimari के लक्षण क्या-क्या होते हैं, के बारे में जानते है।

  • पीठ में दर्द
  • मलाशय, पीठ और पेट में दर्द
  • ठंड से शरीर कांपना
  • भूख में कमी आना
  • उल्टी और चक्कर आना
  • दस्त या कब्ज होना
  • पेशाब करते समय दर्द
  • गैस नही निकल पाना

अपेंडिक्स से बचाव

तो अगर आप भी Appendix Se Kaise Bache के बारे जानना चाहते हैं तो हम आपके लिए अपेंडिक्स से बचाव के कुछ घरेलू उपाय लेकर आए हैं आईये जानते हैं, उनके बारे में।

पालक: आप सभी जानते है की पालक हमारे शरीर के लिए कितना अच्छा होता है अपेंडिक्स हमारे शरीर की आँत के बीच में होता है इससे बचने के लिए रोजाना पालक का सूप या सब्जी बनाकर खाए।

अदरक: अपेंडिक्स के दर्द और सूजन को दूर करने के लिए अदरक सबसे अच्छा स्रोत होता है रोजाना दो बार अदरक की चाय बनाकर पीने से कुछ ही दिनों में आपको फर्क दिखाई देने लगेगा।

तुलसी: भारत के हर घर में आपको तुलसी मिल जाएँगी तुलसी हमारे पेट के लिए सबसे लाभकारी होती है रोजाना तुलसी वाली चाय पीने से पेट संबंधित बीमारी नही होती आप चाहे तो रोजाना सुबह तुलसी को चबाकर भी खा सकते है इससे आपको अपेंडिक्स में राहत मिलेगी।

छांछ: इस समस्या से राहत पाने का एक घरेलू तरीका यह भी है रोजाना छांछ में कला नमक डालकर पीने से अपेंडिक्स के दर्द से राहत पाई जा सकती है इससे आपके शरीर में जमा गंदगी बाहर हो निकल जाती है।

सेंधा नमक: इस समस्या से संबंधित व्यक्तियों को अपने खाने-पीने पर विशेष ध्यान देना चाहिये खाना खाने के 1 घंटे पहले एक टमाटर काटकर उसमें सेंधा नमक डालकर खाने से कुछ ही समय में पेट के दर्द और सूजन में राहत मिलेगी।

Appendix Ka Ilaj

अपेंडिक्स का इलाज डॉक्टर द्वारा दो तरह से किया जाता है तो आईये जानते है इसके बारे में कि अपेंडिक्स का ऑपरेशन कैसे होता है।

आपेंडेक्टोमी (Appendectomy)

अपेंडिक्स को हटाने के लिए इस सर्जरी को आपेंडेक्टोमी कहा जाता है इसे अपेंडिक्स के उपचार के सभी मामलों में शामिल की जा सकती है। अपेंडिक्स के उपचार के लिए आपेंडेक्टोमी का बहुत ज्यादा उपयोग किया जाता है। आपेंडेक्टोमी की मदद से डॉक्टर पेट में एक बड़ा कट लगाकर या Laparoscopy (पेट में छोटा छेद कर अंदर देखने के लिए कैमरा का उपयोग कर सकते है) इसमें सर्जरी से पहले कुछ एंटीबायोटिक दवाएँ दी जाती है ऐसा इसलिए किया जाता है की अगर पेट में अपेंडिक्स टूट जाती है और पेट की गुहा में फैलती है तो यह हमारे जीवन के लिए खतरनाक होती है यह पेरिटोनिटीस (Peritonitis) नामक स्थिति कहलाती है।

एंटीबायोटिक्स (Antibiotics)

कुछ मामलों में अपेंडिक्स का इलाज एंटीबायोटिक्स से भी किया जा सकता है अध्ययन में ऐसा पाया गया है की कुछ रोगियों में एंटीबायोटिक्स दवाओं से अपेंडिक्स की स्थिति में काफी सुधार आया है लेकिन एंटीबायोटिक्स अपेंडिक्स के इलाज में प्रभावी ढंग से उपयोगी नही है।

जरूर पढ़े: Depression Kya Hai? Depression Kyu Hota Hai? – जानिए Depression Se Bachne Ke Upay क्या होते है विस्तार में!

Appendix Ke Prakar

अपेंडिक्स मुख्यता दो प्रकार के होते है तो अगर आप भी अपेंडिक्स के प्रकार के बारे में जानना चाहते है तो आईये जानते है इसके बारे में।

एक्यूट अपेंडिक्स (Acute Appendix)

एक्यूट अपेंडिक्स बहुत तेजी से बढती है कई बार तो यह 2-3 घंटो में या कुछ ही दिन में पैदा हो जाती है जिस समय यह शरीर में पैदा होती है तब इसके कई लक्षण दिखाई देते है जैसे- कब्ज, उल्टी इत्यादि इन लक्षणों को पहचान कर शुरुआती दिनों में इसका इलाज करवा सकते है।

क्रोनिक अपेंडिक्स (Chronic Appendix)

इस तरह की अपेंडिक्स ज्यादा नही होती और इसके लक्षण जो कम देखने को मिलते है यह कुछ समय के बाद अपने आप ही खत्म हो सकती है।

Appendix Me Kya Khana Chahiye

एक स्वस्थ खाना अपेंडिक्स के इलाज और उसके जोखिम को कम करने में बहुत मदद कर सकता है डॉक्टर द्वारा अपेंडिक्स पीड़ित व्यक्ति को कुछ विशेष खाद्य पदार्थ खाने को कहा जाता है तथा कुछ ऐसे भी खाद्य पदार्थ होते है जिनके सेवन से बीमारी और गंभीर हो सकती है।
तो चलिए जानते है अपेंडिक्स में किन खाद्य पदार्थों का सेवन करना सेहत लाभकारी रहता है।

  • सुबह उठने के बाद एक चम्मच शहद का सेवन करे
  • गर्म पानी और ताज़ा नीम्बू के रस का सेवन करे
  • नट्स के साथ फल का सेवन करे
  • सब्जी, सलाद और अंकुरित बिज
  • गाजर, ककड़ी और चकुंदर का ज्यूस
  • ताजे फल और सब्जियों का जूस
  • मैथी के बीज से बनी चाय

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: CT Scan Kya Hai? CT Scan Aur MRI Scan Kaise Hota Hai? – जानिए Difference Between MRI And CT Scan In Hindi!

Appendix Me Kya Nahi Khana Chahiye

अपेंडिक्स की समस्या को कम करने और सर्जरी के बाद भी कुछ खाद्य पदार्थों से बचने की सलाह दी जाती है तो आईये जानते है अपेंडिक्स के दौरान किन-किन खाद्य और पेय पदार्थों से परहेज करना चाहिये।

  • उच्च वसा वाले भोजन जैसे- अंडा, मांस, दूध, पनीर, चोकलेट, आइसक्रीम, तला हुआ खाना, मक्खन आदि का सेवन नही करना चाहिये।
  • ज्यादा शर्करा युक्त सामग्री जैसे- मिठाई, केक, आइसक्रीम आदि।
  • पैक्ड खाद्य पदार्थ और जूस
  • शराब
  • मसाले और काली मिर्च
  • बेकरी की चीजें
  • गैस से बनने वाले सब्ज़ियाँ जैसे- बीन्स और क्रुसीफेरस आदि।

हमें उम्मीद है कि अब आपको Appendix Kya Hota Hai (अपेंडिक्स क्या होता है), Appendix Kyu Hota H और Appendix Me Kya Khana Chahiye in Hindi से जुड़ी पूरी जानकारी प्राप्त हो गई होग।

Conclusion

तो दोस्तों ये थी हमारी आज की पोस्ट Appendix Kya Hota Hai आशा करते है की आपको अपेंडिक्स क्यों होता है और कहाँ होता है के बारे में सब कुछ अच्छे से समझ में आया होगा अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आयी हो तो Comment Box में Comment करके जरूर बताएं।

Appendix Me Kya Khana Chahiye Aur Kya Nahi में आपको कोई भी परेशानी हो तो आप हमे जरूर बताएं हमारी Team आपकी Problem को हल करने की पूरी कोशिश करेगी अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे ताकि वे भी Appendix Meaning In Hindi  के बारे में जाने।

दोस्तों अगर आप हमारी Website के Latest Update पाना चाहते है तो हमारी Hindi Sahayta के Notification को ज़रूर Subscribe करे इससे आपको हमारी आने वाली New पोस्ट के बारे में Latest Update मिलते रहेंगे तो Friends आज के लिए बस इतना ही फिर मिलेंगे आपसे तब तक के लिए अलविदा आपका दिन मंगलमय रहे।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 4.5 / 5. Vote count: 110

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

Neeraj Jivnani

नीरज जीवनानी हिंदी सहायता के फाउंडर है। इन्होंने ही हिंदी सहायता वेबसाइट की शुरुआत की और इन्हें टेक्नोलॉजी से जुड़े रहने में काफी मज़ा आता है, न्यूज़ राइटिंग के अलावा इन्हें किताबें पढ़ने का काफ़ी शौक है। नीरज जीवनानी से आप इनके ईमेल [email protected] के माध्यम से जुड़ सकते है।

Leave a Comment