विज्ञापन
विज्ञापन

Form 16 Kya Hai? – जरूर जाने फॉर्म 16A और 16B की इन महत्वपूर्ण बातों के बारे में!

अगर आप किसी कंपनी में काम करते है और आपकी वार्षिक आय इनकम टैक्स की न्यूनतम छूट सीमा 2,50,000 से अधिक है
विज्ञापन
विज्ञापन

Form 16 एक दस्तावेज या प्रमाण पत्र है, जो भारत में वेतनभोगी पेशेवरों को उनके संबंधित नियोक्ताओं द्वारा 1961 के आयकर अधिनियम की धारा 203 के तहत जारी किया गया है। यह फॉर्म इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) दाखिल करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण डाक्यूमेंट्स में से एक है। यह दस्तावेज या प्रमाण पत्र इस बात की पुष्टि करता है कि कर्मचारी की तरफ से अधिकारीयों के पास TDS काटा या जमा किया गया है। यदि आप भी Form 16 Kya Hai (What Is Form 16 In Hindi) के बारे में पूरी जानकारी पाना चाहते है तो इस लेख में हम आपको पूरी जानकारी देने जा रहे है।

Contents

विज्ञापन

अगर आप किसी कंपनी में काम करते है और आपकी वार्षिक आय इनकम टैक्स की न्यूनतम छूट सीमा 2,50,000 से अधिक है तो आपको आपकी सैलरी से TDS काटकर इनकम टैक्स भरना होगा और इनकम टैक्स भरने के लिए ही हमें फॉर्म 16 की आवश्यकता होती है। यह फॉर्म आपको आपकी कंपनी या नियोक्ता द्वारा प्रदान किया जाता है। इस फॉर्म की मदद से आप अपने अकाउंट से कट रहे TDS की पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते है। इसमें आपको TDS काट रहे नियोक्ता की भी जानकारी प्राप्त होगी और अगर आप Form 16 क्या है? के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो हमारे साथ अंत तक बने रहिए।

विज्ञापन
विज्ञापन

Form 16 Kya Hai

Form 16 Kya Hai

इनकम टैक्स के बारे में तो आपको पता ही होगा कि, जब आपकी सैलरी एक न्यूनतम सीमा से ज़्यादा होती है तो आपको इनकम टैक्स भरना होता है। यह प्रक्रिया आपकी कंपनी या नियोक्ता द्वारा की जाती है। इसमें नियोक्ता आपकी सैलरी से टैक्स काटकर सरकार को भेजता है, जिसे हम TDS कहते है। TDS कटौती और सरकार के पास जमा टैक्स की जानकारी को हम Form 16 में ऐड करते है।

ITR kya hai

फॉर्म 16 एक प्रकार का प्रमाण पत्र है जिसमे आपकी सैलरी से काटे गये TDS की जानकरी को जोड़ा जाता है। यह इस बात सबूत होता है कि, आपकी सैलरी से काटा गया TDS सही तरीके से सरकार को जमा करा दिया गया है इसलिए इसे सैलरी/TDS प्रमाण पत्र भी कहते है।

Form 16 को दो भागों में विभाजित किया गया है जिसमे पहला Form 16A और दूसरा Form 16B है।

विज्ञापन
विज्ञापन

Form 16A

इस पार्ट में आपके TDS की पूरी जानकारी होती है। यह आपके टैक्स भरने का प्रमाण पत्र होता है। इसमें TDS काटने वाले नियोक्ता की पूरी जानकारी होती है जैसे- नाम, पता, पिन नंबर, टेन नंबर आदि और इसमें TDS कटने वाले व्यक्ति की भी पूरी जानकारी जैसे- नाम, पता, पिन नंबर आदि होती है। इसमें आपकी सैलरी से संबंधित और भी बहुत सी जानकारी होती है।

Form 16B

इसमें आपकी सैलरी की गणना होती है और जिस हिस्से पर टैक्स कटता है उसकी गणना, साथ ही अन्य सभी तरह की छूट की गणना की जाती है। इसमें आपके लेन देन की गणना भी की जाती है। Section 80C के तहत बचत की गणना भी होती है और भी बहुत सी जानकारी की गणना इसमें एक के बाद एक की जाती है।

Form 16 Kaise Download Kare

फॉर्म 16 डाउनलोड करने की आवश्यकता बहुत कम होती है क्योंकि यह फॉर्म आपको, आप जिस संस्था में काम कर रहे है वहीं से या उस जगह के नियोक्ता से प्राप्त हो जायेगा। जिसे आप भर कर जमा कर सकते है और किसी कारण वश आपको इन दोनों ही से Form 16A और 16B प्राप्त नहीं होता है तो आप इनकम टैक्स की आधिकारिक वेबसाइट www.incometaxindia.gov.in से इसे डाउनलोड कर सकते है। यहाँ आपको फॉर्म 16 इन वर्ड फॉर्मेट और फॉर्म 16 डाउनलोड पीडीएफ़ दोनों में ही मिल जायेगा। इसके अलावा आपको यहाँ इनकम टैक्स से संबंधित सभी फॉर्म मिल जाएंगे।

Conclusion

यदि आप किसी कंपनी में एम्प्लॉई है और आपकी सैलरी इनकम टैक्स की न्यूनतम छूट सीमा 2,50,000 से अधिक है तो यह जानकारी आपके लिए जरूर महत्वपूर्ण है। आपको हमारी इस पोस्ट में फॉर्म 16 क्या है? और Form 16 Kaise Prapt Kare? इस बारे सभी जानकारी अच्छे से प्राप्त हो गई होगी। यदि आपको फॉर्म 16 से जुड़ी यह रोचक जानकारी पसंद आयी हो, तो इसे शेयर करना न भूले और अगर आप इसी तरह की जानकारी हमेशा पाना चाहते है तो जुड़े रहिये हमारे साथ हिंदी सहायता पर, धन्यवाद!

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 4.5 / 5. Vote count: 17

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

Default image
Neeraj Jivnani
Articles: 864

Leave a Reply