हैलो दोस्तों Hindi Sahayta में आपका स्वागत है। आज हम आपको बताने जा रहे है MNP Kya Hai अगर आपको भी अपनी सिम पोर्ट करना है और आपको इसकी जानकारी नहीं है तो आप बिल्कुल सही पोस्ट पढ़ रहे है। क्योंकि आज आप Sim Port Karne Ka Tarika जानेंगे

MNP Ke Fayde भी आज आप इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे। हम आपको यह बिल्कुल सरल भाषा में समझाएँगे। आशा करते है की आपको हमारी सभी पोस्ट पसंद आ रही होगी। इसी तरह आप आगे भी हमारे ब्लॉग पर आने वाली सारी पोस्ट पसंद करते रहे।

मोबाइल नंबर आज सिर्फ बात करने के लिए नहीं है बल्कि बहुत सी जगह पर मोबाइल नंबर का उपयोग किया जाता है। ज्यादा बार मोबाइल नंबर बदलने से आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। मोबाइल नंबर को हम बार-बार नहीं बदल सकते है इसलिए आप उसे Port भी करवा सकते है।

अगर आप अपने सिम कार्ड ऑपरेटर से परेशान हो गए है तो आप अपना पुराना नंबर बदले बिना भी दूसरे टेलीकॉम कंपनी में Switch कर सकते है। इसके लिए आपको Sim Port Karne Ki Jankari होना चाहिए जो आज आपको पता चलेगी। आप बहुत आसानी से अपने नंबर को Port करवा सकते है।

तो आइये जानते है Sim Port Kaise Hoti Hai यदि आप भी सिम पोर्ट करवा रहे है तो यह पोस्ट Mobile Number Ko Port Kaise Kare शुरू से अंत तक ज़रुर पढ़े। पोस्ट को पूरी पढने के बाद ही आपको इसकी पूर्ण जानकारी प्राप्त होगी।

MNP Kya Hai

MNP का मतलब है की आप अपने नंबर Change किये बिना ही किसी दूसरे मोबाइल ऑपरेटर में Switch कर सकते है। MNP सेवा की शुरुआत 25/09/2010 को हुई थी। आप भारत के किसी भी स्टेट से हो आप इस सेवा का फ़ायदा ले सकते है।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: E Sim Kya Hai? E Sim Kaise Kaam Karti Hai – जानिए E Sim Kis Device Me Kaam Karegi हिंदी में!

जैसे अगर आप वोडाफ़ोन कनेक्शन का इस्तेमाल करते हो और आप किसी भी कारण से वोडाफ़ोन ऑपरेटर को बदलकर एयरटेल में जाना चाहते है तो आप अपने मोबाइल नंबर Change किये बिना वोडाफ़ोन ऑपरेटर से एयरटेल ऑपरेटर में आ सकते है। इसे ही MNP कहते है।

MNP Full Form

Mobile Number Portability

MNP Ke Liye Documents

Sim Port Karne Ke Liye भी कुछ डाक्यूमेंट्स की जरुरत होती है जो आपको फॉर्म जमा करते समय लगाने होते है:

  • पहचान पत्र
  • एड्रेस प्रूफ़
  • पासपोर्ट साइज़ के 2 फ़ोटो

Mobile Number Port Kaise Kare

आप अपने मोबाइल नंबर यदि पोर्ट करवा रहे है तो उसके लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होता है। तो सिम पोर्ट करवाने के पहले इन बातों का ज़रुर ध्यान रखे:

  • आप अभी जो सिम इस्तेमाल कर रहे है और उसे आप पोर्ट करवाना चाहते है तो वो सिम दो महीने पुरानी होनी चाहिए।
  • अगर आपका कोई पुराना Pending Bill है और नंबर पोर्ट हो चुका है तो बिल भरने के लिए आपको 3 महीने का समय दिया जाएगा नहीं तो आपका नंबर बंद कर दिया जाएगा।
  • एक बार UPC (Unique Porting Code) प्राप्त होने के बाद समय से आपने इसका इस्तेमाल नहीं किया तो यह रद्द कर दिया जाएगा।
  • अगर आपके पुराने सिम कार्ड में कुछ बैलेंस है, कोई सी सर्विस एक्टिवेट है तो पोर्ट करवाने के बाद आपको नए सिम में वो सर्विस नहीं मिलेगी।

Sim Port Kaise Karte Hai

किसी भी मोबाइल नंबर को पोर्ट करवाने के लिए यह प्रोसेस फॉलो करे। तो आगे जानते है Sim Port Karne Ke Liye Kya Kare:

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: Call Details Kaise Nikale? Idea Call Details Kaise Nikale – जानिए Jio Se Call Details Kaise Nikale हिंदी में!

  • Sim Port Karne Ke Liye आपको अपने मोबाइल से एक मैसेज करना होता है जैसे – मैसेज में पहले Capital Letter में Port लिखे फिर Space देकर अपने मोबाइल नंबर लिखे जिसे आप Port करना चाहते है उसके बाद 1900 पर Send कर दे। कुछ इस तरह से आपको मैसेज करना है Port <Space> Mobile Number लिखकर 1900 पर Send करना है।
  • इस मैसेज को करने के बाद आपको एक मैसेज प्राप्त होगा जिसमें Sim Port Karne Ka Code UPC (Unique Porting Code) होगा, जिसे कहीं नोट करके रख ले।
  • उसके बाद अपने नज़दीकी कस्टमर सर्विस सेंटर या फिर जिस कंपनी में आप Sim Port करवाना चाहते है उसके रिटेलर के पास जाये।
  • वहां से आपको MNP का एप्लीकेशन फॉर्म मिलेगा। फॉर्म को पूरा सही-सही भरे Sim Port Karne Ka Number सही से लिखे फिर उसमें आवश्यक दस्तावेज़ लगा दे और रिटेलर को जमा कर दे।
  • रिटेलर द्वारा आपको एक खाली सिम प्रदान की जाएगी। अब जिस नंबर को आप Port करना चाहते है उस पर MNP Request का एक मैसेज आ जाएगा।

अब आपकी Sim Port करवाने की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। इसके बाद 6-7 दिन में आपकी Port Request स्वीकार हो जाएगी। जब आपकी पुरानी नेटवर्क की सिम में नेटवर्क आना बंद हो जाए तब आप अपनी नई सिम को अपने फोन में लगा ले। आपका पुराना नंबर आपके नए ऑपरेटर के साथ स्टार्ट हो जाएगा।

MNP Ke Fayde

यदि आप अपना नंबर पोर्ट करते है तो उसके भी कुछ फायदे होते है देखते है पोर्ट करवाने के क्या फायदे है:

  • अगर आप पोस्टपेड इस्तेमाल करते है तो उसे प्रीपेड में भी पोर्ट किया जा सकता है।
  • मोबाइल नंबर को CDMA से GSM में भी बदला जा सकता है।
  • यदि आप शहर बदल रहे है तो आपको अपना नंबर नहीं बदलना होगा आप हमेशा एक ही नंबर का इस्तेमाल कर सकते है।
  • आप देश में कहीं भी जाए आप अपना नंबर पोर्ट करवा सकते है।

Conclusion

आज की पोस्ट के माध्यम से आपने जाना Sim Port Kaise Karwaye इसके साथ ही MNP Ke Liye Documents क्या लगते है यह भी आपने जाना। आशा करते है की हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी।

Sim Ko Port Karne Ka Tarika जानने के लिए हमारी इस पोस्ट की मदद ज़रुर ले। MNP Ke Fayde भी आज की पोस्ट के द्वारा आप जान गये होंगे। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके बताये।

जरूर पढ़े: Mobile Network Signal Kaise Badhaye? Mobile Network Setting Kaise Kare – जानिए Jio Ka Network Kaise Badhaye हिंदी में!

इस पोस्ट की जानकारी आप अपने फ्रेंड्स को भी दे। तथा सोशल मीडिया पर भी यह पोस्ट MNP Kya Hai ज़रुर शेयर करे। जिससे ज्यादा लोगों के पास यह जानकारी पहुँच सके। हमारी पोस्ट MNP Process In Hindi में आपको कोई परेशानी है या आपका कोई सवाल है इस पोस्ट से सम्बन्धित तो आप कमेंट करके हमसे पूछ सकते है। हमारी टीम आपकी मदद ज़रुर करेगी।

अगर आप हमारी वेबसाइट के Latest Update पाना चाहते है, तो आपको हमारी Hindi Sahayta की वेबसाइट को सब्सक्राइब करना होगा। फिर मिलेंगे आपसे ऐसे ही आवश्यक जानकारी लेकर तब तक के लिए अलविदा दोस्तों हमारी पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद, आपका दिन शुभ हो।

MNP Kya Hai? Mobile Number Port Kaise Kare – जानिए Sim Port Kaise Karte Hai इन बेहद आसान तरीको से!
2 (40%) 1 vote

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here