Home » Tutorial » सोलर एनर्जी क्या है (What Is Solar Energy In Hindi) – सोलर एनर्जी का उपयोग।

सोलर एनर्जी क्या है (What Is Solar Energy In Hindi) – सोलर एनर्जी का उपयोग।

आप सभी ने अपने स्कूल में सोलर एनर्जी क्या है (What Is Solar Energy In Hindi) के बारे में जरूर पढ़ा होगा। Solar Energy (सौर ऊर्जा) वह होती है जो सूर्य से सीधे प्राप्त होती है। इस ऊर्जा को ना तो Generate किया जा सकता है और ना ही नष्ट किया जा सकता है। इसे सूर्य की किरणों से सीधे प्राप्त करके सोलर पैनल के द्वारा सोलर ऊर्जा में परिवर्तित किया जाता है। सौर ऊर्जा को प्राप्त करने का प्रमुख स्रोत सूर्य है। जिसके द्वारा पेड़-पौधों, जीव-जन्तुओं और हम सभी को ऊर्जा प्राप्त होती है। सौर ऊर्जा के द्वारा ही पेड़-पौधे अपने भोजन का निर्माण करते है और उनसे सभी जीव-जन्तुओ को और हमे भोजन प्राप्त होता है।

[toc]

आप सभी जानते है कि बिजली का हमारे दैनिक जीवन में कितना महत्व है। यह हमारी जीवन में कई सारी ज़रूरतों को पूरा करती है। लेकिन आज जनसंख्या बढ़ने से बिजली की खपत भी बढ़ती जा रही है इसलिए लोगों को Solar Energy की मदद से बिजली बनाने के लिए जागरूक किया जा रहा है। यह बिजली बनाने का ऐसा माध्यम है जिससे पर्यावरण को कोई हानि नहीं होती। हम सभी प्रतिदिन हवा, पानी और सूरज की रोशनी का प्रयोग करते है जो दोबारा से बन जाती है लेकिन Global Warming की वजह से अब मौसम में संतुलन नहीं बन पा रहा है जिस कारण समय पर बारिश और हवा पर्याप्त मात्रा में नहीं होती है।

यदि आप भी Solar Energy In Hindi की जानकारी पाना चाहते है तो इस पोस्ट में हम आपको Solar Energy Kya Hoti Hai और Importance Of Solar Energy In Hindi क्या है यह पूरी जानकारी देंगे।

What is Solar Energy In Hindi

Solar Energy Kya Hai

सोलर एनर्जी जिसे हम हिंदी में (Solar Energy In Hindi Meaning) ‘सौर ऊर्जा’ कहते है को सूर्य से प्राप्त किरणों से परिवर्तित करके बनाया जाता है। इसे सौर शक्ति के नाम से भी जाना जाता है। सूर्य से जो ऊर्जा प्राप्त होती है उसे विद्युत ऊर्जा में बदलना ही सौर ऊर्जा कहा जाता है। इसका उपयोग बड़े-बड़े कारख़ानों में कई तरह के कार्यों को करने के लिए किया जाता है। इसके अलावा वर्तमान में सोलर एनर्जी (Solar Energy) का उपयोग विभिन्न कार्यों में किया जा रहा है जैसे- सोलर पैनल से बिजली बनाने, सोलर वाटर हीटर से पानी गर्म करने, सोलर कुकर की मदद से खाना बनाने आदि।

Solar Energy Kya Hoti Hai और Solar Energy Definition In Hindi क्या है यह तो अब आप अच्छे से समझ गए होंगे लेकिन, क्या आप जानते है कि सोलर एनर्जी की खोज किसने की थी व इसका उपयोग किन कार्यों को करने में किया जाता है इसके बारे में आपको आगे बताया गया है।

Solar Energy Ki Khoj Kisne Ki

सोलर एनर्जी की खोज 1839 में अलेक्जेंड्रे एडमंड बेकरेल (Alexandre Edmond Becquerel) ने की थी। उन्होंने फोटोवोल्टिक इफ़ेक्ट के द्वारा बताया की सूर्य की किरणों से बिजली कैसे पैदा की जाती है।

Uses of Solar Energy In Hindi

रोशनी और ऊष्मा दोनों से जो सौर ऊर्जा प्राप्त होती है उसे कई तरह के कार्यों में उपयोग किया जाता है। आईये जानते है सोलर एनर्जी से प्राप्त Urja Ke Upyog किन कार्यों को करने के लिए किया जाता है।

  • सोलर एनर्जी का उपयोग खाना बनाने, पानी गर्म करने, कमरे को गर्म करने आदि में किया जाता है।
  • वह उपकरण जो बैटरी से संचालित होते है उन्हें फोटो इलेक्ट्रिक पैनल सिस्टम के माध्यम से सौर ऊर्जा से चार्ज किया जा सकता है।
  • यदि आपका सोलर सिस्टम महँगा है तो आप इससे अपने पूरे घर में बिजली दे सकते है।

Advantages Of Solar Energy In Hindi

सोलर एनर्जी एक बहुत ही महत्वपूर्ण तकनीक है इसके द्वारा आप ऊर्जा के क्षेत्र में कई साधनों का निर्माण कर सकते है आईये जानते है Solar Energy Ke Fayde क्या-क्या है।

  • सौर पैनल को स्थापित करके आप अपने घर के इलेक्ट्रिसिटी बिल को कम कर सकते है।
  • सौर ऊर्जा का उपयोग विभिन्न उद्देश्य के लिए किया जाता है इससे आप आप बिजली या गर्मी उत्पन्न कर सकते है।
  • सोलर सिस्टम को अधिक रखरखाव की आवश्यकता नहीं होती, केवल इन्हे कभी कभार साफ़ करने की जरूरत होती है।
  • सौर ऊर्जा की प्रणाली प्रतिदिन टेक्नोलॉजी की और बढ़ रही है आगे भविष्य में यह और बेहतर साबित होगी।

Disadvantages Of Solar Energy In Hindi

जिस तरह सोलर एनर्जी के कुछ फायदे है उसी तरह इसके कुछ नुकसान भी है जिसके बारे में जानना बहुत जरूरी है तो आईये जानते है इसके बारे में।

  • सोलर सिस्टम को खरीदने की लागत बहुत अधिक है लेकिन सरकार ने इसके लिए कई तरह की योजनाओं को शुरू किया है जिसमें सोलर सिस्टम खरीदने के लिए सब्सिडी दी जाती है।
  • सौर ऊर्जा को प्रभावी तौर पर इक्कठा करने के लिए सोलर पैनल पूरी तरह से सूर्य के प्रकाश पर निर्भर करता है। हालाँकि अब सौर ऊर्जा बारिश और बादल के दिनों में भी उत्पन्न की जा सकती है लेकिन इस मौसम में सोलर सिस्टम की Capacity कम हो जाती है।
  • सोलर एनर्जी को स्टोर करना काफी Expensive है क्योंकि इसके लिए बड़ी-बड़ी बैटरी की आवश्यकता होती है। इन बैट्रियों को दिन के दौरान चार्ज किया जाता है ताकि रात के समय ऊर्जा का उपयोग किया जा सके।
  • जितनी अधिक ऊर्जा आप एकत्रित करना चाहते है उतने ही सोलर पैनल और जगह की आपको आवश्यकता होगी।

Conclusion

तो दोस्तों इस तरह से आप भी सोलर पैनल के इस्तेमाल से सोलर एनर्जी को बना सकते है हाँ यह बात अलग है कि यह थोड़ा Expensive है। लेकिन यह खर्च सिर्फ एक बार का होता है। इसे एक बार लगाने के बाद आप बिजली के अधिक बिल आने की परेशानी से पूरी तरह से छुटकारा पा सकते है। तो अगर आपको Solar Energy Ke Baare Mein Jankari पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ अधिक से अधिक शेयर करे, ताकि उन्हें भी सोलर एनर्जी के फायदे के बारे में जानने को मिले।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 4.3 / 5. Vote count: 44

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

Neeraj Jivnani

नीरज जीवनानी हिंदी सहायता के फाउंडर है। इन्होंने ही हिंदी सहायता वेबसाइट की शुरुआत की और इन्हें टेक्नोलॉजी से जुड़े रहने में काफी मज़ा आता है, न्यूज़ राइटिंग के अलावा इन्हें किताबें पढ़ने का काफ़ी शौक है। नीरज जीवनानी से आप इनके ईमेल [email protected] के माध्यम से जुड़ सकते है।

Leave a Comment