नमस्कार दोस्तों ! Hindi Sahayta में आपका स्वागत है, आज हम आपको बतायेंगे की IAS Ki Taiyari Kaise Kare हमने हमारी पिछली पोस्ट में बताया की IAS क्या है or IAS kaise bane, नए पाठको से निवेदन है की वे आईएस की पूरी जानकारी के लिए हमारी पिछली पोस्ट अवश्य पढ़ ले |

हमारे देश में सबसे कठिन परीक्षा IAS (UPSC) मानी जाती है, जो “Union Public Service Commission” द्वारा आयोजित की जाती है ! “Union Public Service Commission’” (UPSC) भारत की केंद्रीय संस्था है| यह संस्था सिविल परीक्षा को तीन चरणों में पूरा करती है:

  1. प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination)
  2. मुख्य परीक्षा (Main Examination)
  3. साक्षात्कार (Interview)

UPSC द्वारा आयोजित सिविल परीक्षा में नई परीक्षा प्रणाली के अनुसार वर्तमान में प्रारंभिक परीक्षा में दो प्रश्नपत्र शामिल होते है, यह क्वालीफाइंग पेपर के रूप में होते है, दोनों प्रश्नपत्र 200 – 200 अंको के होते है !

प्रारंभिक परीक्षा में वस्तुनिष्ठ (ऑब्जेक्टिव) प्रश्न पूछे जाते है , जिसमे हमे 4 जवाबो में से किसी एक सही जवाब का चयन करना होता है|

पहले प्रश्नपत्र (सामान्य अध्ययन) में 2-2 अंको के 100 प्रश्न होते है , तथा दुसरे प्रश्नपत्र (CSAT) में 2.5-2.5 अंको के 80 प्रश्न होते है | दोनों प्रश्नपत्रो में नेगेटिव (मायनस मार्किंग) रहती है| समय न बर्बाद करते हुए हम सीधे अपने विषय पर आते है की ias ki taiyari kaise kare |

सबसे पहले हमे “IAS Syllabus” पता होना चाहिए हमारे पास जब सही विषयवस्तु का ज्ञान होगा तभी हम सही रणनीति बना पाएंगे और सफलता प्राप्त कर पाएंगे, “IAS Syllabus” और आईएएस की पूरी जानकारी हमारी पिछली पोस्ट में बतायी गयी है |

आईएएस की तैयारी कैसे करें – IAS Ki Taiyaari Kaise Kare

सबसे पहले हमे IAS का पाठ्यक्रम (सिलेबस)पता होना चाहिए हमारे पास जब सही विषयवस्तु का ज्ञान होगा तभी हम सही रणनीति बना पाएंगे और सफलता प्राप्त कर पाएंगे, आईएएस का सिलेबस व् आईएएस की पूरी जानकारी हमारी पिछली पोस्ट में बतायी गयी है| आइये दोस्तों तो शुरू करते है आईएएस की तैयारी |

सही रणनीति बनाना

सिविल सेवा परीक्षा के लिए 1 या 2 वर्ष का समय पर्याप्त होता है लेकिन अभ्यर्थी को यदि विषयवस्तु की आधारभूत समझ नहीं है तो इस परीक्षा में कभी भी सफलता नहीं पा सकता है।

सिलेबस की जानकारी का यह मतलब नही है की कोन –कोन से विषय है किस –किस विषय में से क्या आएगा | सही रणनीति के लिए हमे सिलेबस की डिटेल्स में जानकारी होना अति आवश्यक है|

क्या आपने ये पोस्ट देखी: English Bolna Aur Padhna Kaise Sikhe? – 5 सरल और आसान तरीको से केवल कुछ दिनों में अंग्रेजी बोलना सीखिए!

स्नातक (Under Graduate) के दौरान छात्र विषयव्स्तु के आधारभूत समझ को बढ़ा सकता है । स्नातक कर रहे छात्रों को पूरे तीन वर्ष का समय मिलता है, इन तीन वर्षो का अच्छे से सदुपयोग कर एक योजना बना कर पुरे पाठ्यक्रम को पढ़ा जा सकता है ताकि स्नातक होने के बाद ही सिविल सेवा परीक्षा में भाग लेकर उसमे सफलता प्राप्त की जा सके । इसके लिए NCERT की किताबों का अध्ययन करना काफी लाभदायक होगा ।

NCERT की किताबों का कोई विकल्प नहीं हैँ, स्नातक शिक्षा के दौरान ही सिविल सेवा परीक्षा के पाठ्यक्रम सिलेबस) के हिसाब से अध्ययन शुरू कर देना चाहिए। स्नातक के छात्र के लिय सबसे बड़ा लाभ है कि स्नातक में लिए हुए विषय को ही सिविल सेवा परीक्षा के मुख्य परीक्षा के एक विषय के रूप में ले सकता है। इसलिए स्नातक के दौरान ही उक्त विषय का गंभीर अध्ययन शुरू कर देना चाहिए।

सही रणनीति तब बनती है जब हमे उक्त विषय का ज्ञान होता है, हमे ये पता होना चाहिए की हमे क्या पढना है ,क्या नहीं पढना है,केसे पढना है|सिविल सेवा परीक्षा ऐसी परीक्षा है जिसमे जितना पढो उतना कम होता है इसलिए हमे समझदारी दिखाते हुए पढाई करनी है याद रहे ये 10वी या 12वी की परीक्षा नही है, इसमें रटना नहीं है|

इसका पाठ्यक्रम समझना है तथा सही रणनीति से पढाई करना है| छात्रों को अध्ययन की शुरुआत कठिन किताबों के स्थान पर सरल किताबो से करनी चाहिए ताकि धीरे धीरे उसकी क्षमता बढाई जा सके |

सही रणनीति बनाने के बाद हमे निम्न तरीकों से शुरुआत करनी होगी:

  • ग्रेजुएशन के साथ ही UPSC सिविल सेवा परीक्षा की तैयार शुरू कर दे|
  • NCERT की कक्षा 6वी से लेकर कक्षा 12वी तक की किताबो का अध्ययन|
  • सिलेबस की पूरी समझ रखे|
  • न्यूज़ पेपर व् समाचार पढने की आदत डाले|
  • आत्मविश्वास बनाये और समझ कर अध्ययन करे|
  • सिलेबस की चीजों के अलावा भारत के इतिहास और राजनीति पर लिखने वाले जाने-माने लेखकों की किताबें जरूर पढ़ें|

अध्ययन केसे करें

हाँ तो दोस्तों जब हमे सही पाठ्यक्रम का ज्ञान हो चूका हो व् सही रणनीति भी बनाकर तैयार कर ली हो तो उसके बाद यह सवाल हमारे मन में जरुर आता है की अब इसको पढ़े केसे|

पढ़ना ना भूले: IAS क्या है or IAS Kese Bane? – IAS के लिए आयु, फुल फॉर्म, कार्य एवं IAS बनने की तैयारी से जुड़े आपके सभी प्रश्नों के उत्तर |

यह दुविधा लगभग सभी छात्रों के मन में रहती है,लेकिन अगर हम आत्मविश्वास बनाये रखे और बिना डर के समझ-समझ कर विषयों का अध्ययन करे तो इस परेशानी से भी छुटकारा पाया जा सकता है,तो आइये हम आपको बताते है की आपको किस प्रकार पढना है |

समय पर ध्यान

UPSC सिविल सेवा परीक्षा एक बहुत बड़ी प्रतियोगी परीक्षा है जिसमे सभी राज्यों के लाखो उम्मीदवार भाग लेते है, किन्तु सफल कुछ ही हो पाते है, सफल व्यक्ति कोई अलग काम नही करते है बल्कि वो अपना काम अलह ढंग से करते है, जैसा की आप और हम जानते है की किसी भी एग्जाम को पास करने के लिए अच्छी पढाई की आवश्यकता होती है, और अच्छी पढाई के लिए अच्छा समय देने की भी आवश्यकता है|

आपको सबसे पहले एक टाइम टेबल बनाना होगा की किस टाइम पढाई की जाये, यह आपकी दिनचर्या पर निर्भर है टाइम टेबल को प्रतिदिन फॉलो करना होगा तभी हम परीक्षा में सफल हो पाएंगे| प्रत्येक विषय के लिए एक समय सीमा निर्धारित कीजिये|

NCERT की किताबें

UPSC सिविल सेवा परीक्षा में आईएएस की पढाई की तैयारी के लिए सर्वप्रथम हमे भारत सरकार की NCERT की कक्षा 6वी से लेकर कक्षा 12वी तक की किताबो का अध्ययन ध्यान पूर्वक व् समझ – समझ कर करना होगा | क्युकी इसी के द्वारा हमारा बेस मज़बूत होगा|

पाठ्यक्रम (सिलेबस)

सिविल सेवा परीक्षा के लिए NCERT की किताबो के अध्ययन के बाद IAS का सिलेबस पढना होगा, हम सब जानते है की सिविल सेवा परीक्षा का सिलेबस कितना बढा होता है, लेकिन अगर हम IAS के सिलेबस को बाँट ले तो हमारे लिए थोडा आसन हो जायेगा, बाटने के बाद हम विषयों को आसानी से पढ़ सकते है | किसी भी परीक्षा के तैयारी हेतु उसके पाठ्यक्रम को देखना सबसे महत्वपूर्ण होता है |

हमें अध्ययन सिलेबस के अनुसार ही करना चाहिए | IAS परीक्षा संबंधी सिलेबस के सभी विषयों पर नजर रखते हुए , विषय जैसे – हिंदी, इतिहास, भूगोल, विज्ञान, भौतिक विज्ञान, रसायन शास्त्र, जीवविज्ञान, गणित, आंकड़े, लेखांकन, नागरिक शास्त्र, अर्थशास्त्र, राजनीतिशास्त्र, समाजशास्त्र, बिजनेस स्टडीज विषय होते है | जिन पर फोकस करना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है |

अन्य चीजों के द्वारा अध्ययन

सिविल सेवा परीक्षा हेतु और भी काफी चीजों से हम तैयारी करने हेतु सहायता प्राप्त कर सकते है | जो हमारे दैनिक जीवन का हिस्सा भी है जैसे – यदि छात्र रोज एक राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्र पढ़ने की आदत डाल ले तो, वह समसामयिक मुद्दो की जानकारी तो एकत्रित करेगा ही बल्कि परीक्षा में सफलता हेतु संभावना भी बढ़ जाएगी ।

ये भी पढ़े: SSC Ki Taiyari Kaise Kare – बिना कोचिंग के कैसे करे एसएससी की तैयारी

  • साथ ही टीवी या रेडियो के माध्यम से न्यूज़ सुनना भी परीक्षा के दृष्टिकोण से लाभदायक साबित हो सकता है |
  • इसके अलावा इंटरनेट या किसी एप्लीकेशन की सहायता ले रहें है तो यह भी आपकी तैयारी में सहायता करेगा |
  • IAS की तैयारी हम ऑनलाइन (online) भी कर सकते है |

कुछ महत्वपूर्ण बातें

IAS की तैयारी हेतु सबसे महत्वपूर्ण होता है कि हमारे अंदर आत्मविश्वास की कमी नहीं होनी चाहिए | बिना आत्मविश्वास के यह परीक्षा पास करना तो संभव ही नहीं है | इसलिए आत्मविश्वाश कभी भी कम न होने दें, मोटीवेट होने के लिए अपने घरवालो, अच्छे दोस्तों या मोटिवेशन विडियो व् प्रेरक कहानियों की भी सहायता ले सकते हैं |

सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी की लिए आपकी मेहनत और ईमानदारी बहुत मायने रखती है, अगर आप सच में IAS बनना चाहते है, समाज में अपना नाम बनाना चाहते है या देश दुनिया में हो रहे अत्याचार रोकना चाहते है तो उसके लिए बस आपको पूरी मेहनत लगन व् ईमानदारी से पढने की आवश्यकता है, तो देर किस बात की दोस्तो ! आज से ही जुट जाइये अपने सपनो को साकार करने में |

Conclusion

तो दोस्तों आपको हमारी पोस्ट केसी लगी ? आज हमने आपको बताया की IAS Ki Taiyari Kaise Karein आशा करते है की आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होगी |

अगर आपके मन में अब भी कुछ सवाल हे तो कमेंट बॉक्स में अपने सवाल पूछ सकते है | हम और हमारी टीम आपकी सहायता जरुर करेगी, और हम कामना करते है की आप आईएएस की तैयारी में अवश्य सफल हो | धन्यवाद, आपका दिन शुभ हो |

IAS Ki Taiyari Kaise Kare? – IAS से जुडी पूरी जानकारी हिंदी में!
4.4 (87.78%) 18 votes

6 COMMENTS

  1. Sir hume aap hume ye bataye ki abhi humara b,a ist year ka exam diya hu mak kaise prepare kru sir ias ki our kha se kru

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here