Internet Kya Hai? Internet Ka Aviskar Kisne Kiya जानिए
Neeraj Jivnani Tech

हैलों दोस्तों! Hindi Sahayta में आपका स्वागत है| आज हम आपको बताएँगे Internet Kya Hai और Internet Ka Aviskar Kisne Kiya, हमने हमारी पिछली पोस्ट में बताया था की Bajaj Finserv Card Kya Hai आशा करते है वो पोस्ट आपको पसंद आई होगी|

आज हम दिन-रात जिस चीज़ का इस्तेमाल करते है उसका नाम है Internet, हम और आप सभी आज Internet के द्वारा अपना काम करते है, लेकिन आपने कभी सोचा है की Internet Ka Aviskar Kisne Kiya, आपको शायद ये भी पता नहीं होगा की हमारे देश Bharat Me Internet Kab Shuru Hua Tha

Internet से जुड़ी ऐसी और भी बाते है जो आप लोग नहीं जानते है, क्योंकि Internet का क्षेत्र बहुत ही बड़ा और फैला हुआ है|

Contents

इसलिए आज हमारी हिंदी सहायता की टीम आपको Internet Ki Duniya से परिचित कराएगी और Internet Ki Jankari देगी, जो आपको और कही नहीं मिलेगी| चलिए तो शुरू करते है, आप बस ध्यान से पढिये हमारी पोस्ट|

Internet Kya Hai

Internet एक दुसरे से जुड़े कई कंप्यूटरों का जाल है जो राउटर एवं सर्वर के माध्यम से दुनिया के किसी भी कंप्यूटर को आपस में जोड़ता है|

जरूर पढ़े: URL KYA HOTA HAI? URL KAISE KAM KARTA HAI? – जानिए URL से जुडी सारी जानकारी हिंदी मे!

सरल भाषा में कहे तो सूचनाओ के आदान प्रदान करने के लिए TCP/IP Protocol के माध्यम से दो कंप्यूटरों के बीच स्थापित सम्बन्ध को Internet कहा जाता हैं, Internet विश्व का सबसे बड़ा नेटवर्क है|

Internet Ki Paribhasha

जब दो या दो से अधिक कंप्यूटर सूचनाओं का आदान प्रदान करने के लिए एक-दूसरे से कनेक्ट होते है तो एक जाल बनता है उसी जाल को Internet का नाम दिया गया है। हम अपने कंप्यूटर्स में सूचनाओं या दस्तावेज़ों का आदान प्रदान Internet के कारण ही कर पाते है|

Internet Full Form

जी हाँ क्या आपको पता था Internet Ka Full Form भी है, चलिए आपको बताते है Internet Ka Full Form

Internet Ka Full Form – International Network होता है |

History Of Internet In Hindi

Internet Ki Khoj Kab Hui अगर ये बात करे तो Internet की शुरुआत 60 के दशक में लगभग 1962 से 1969 के बीच में हुई थी इसको सबसे पहले US Department Of Defense ने बनाया था। दुनिया के सबसे पहले Internet का नाम ARPANET (Advanced Research Project Agency Network) था।

Arpanet का इस्तेमाल सबसे पहले 1969 में University Of California में एक संदेश भेजने के लिए किया गया था। इसके बाद यह लगभग सन 1972 तक दुनिया के काफी अलग-अलग देशों तक पहुँच चुका था। और इसी के साथ इसका नाम बदल कर Internet कर दिया गया, उसके बाद Internet में धीरे-धीरे कई बदलाव आते गए और यह आम लोगो के लिए भी उपलब्ध हो गया|

सन 1980 में ही बिल गेट्स का आईबीएम (IBM) कंपनी के कंप्यूटर्स पर एक माइक्रोसॉफ्ट ऑपरेटिंग सिस्टम लगाने के लिए सौदा हुआ और Internet का सही से इस्तेमाल करने के लिए 1984 में एप्पल (Apple) कंपनी ने पहली बार फाइलों और फ़ोल्डरों, ड्रॉप डाउन मेनू, माउस, ग्राफिक्स का प्रयोग आदि से युक्त आधुनिक सफल कम्प्यूटर लांच किया।

और Internet का सबसे ज्यादा इस्तेमाल तब होने लगा था जब 1989 में टिम बेर्नर ली ने Internet पर संचार को सरल बनाने के लिए ब्राउज़रों, पन्नों और लिंक का उपयोग कर के वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) बनाया और 1998 में गूगल के आने के बाद इंटरनेट का चेहरा ही बदल गया जिससे आज हम सब जानते हैं।

Internet Ka Aviskar Kisne Kiya

Internet Ka Aviskar किसी एक व्यक्ति ने नहीं किया था Internet को बनाने में कई लोगों का हाथ रहा है और बहुत से व्यक्तियो ने अपना सहयोग दिया है|

लेकिन Google की रिपोर्ट के अनुसार Vint Cerf और Robert Elliot Kahn को ही Internet के पिता के नाम से जाना जाता है, क्योंकि सबसे पहले इन्होंने TCP/IP Protocol Internet का निर्माण किया|

Bharat Me Internet Kab Shuru Hua Tha

अब आप सोच रहे होंगे की आखिर हमारे देश Bharat Me Internet Kab Aaya तो हम बताते है की Bharat Me Internet Kab Shuru Hua Tha.

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: IP ADDRESS KYA HAI? IP ADDRESS KAISE PATA KARE – जानिए IP ADDRESS के बारे में विस्तार से!

भारत में Internet की बात करें तो यहाँ Internet की शुरुआत 15 August सन 1995 में की गयी थी| भारत में 1995 से पहले Internet कही भी नही था, भारत में Internet की शुरुआत “VSNL” (Videsh Sanchar Nigam Limited) ने की थी।

इसके बाद से ही भारत में कई सारी बड़ी कंपनियों ने बाज़ार में अपना नाम बनाया और कई सारी कंपनियों ने अपनी शुरुआत की, इसके बाद से भारत में भी Internet का विस्तार बढता चला गया और आज हमारा देश भारत Internet इस्तेमाल करने में पूरी दुनिया में दूसरे नंबर पर है|

Internet Ke Fayde In Hindi

आज के ज़माने में आप Internet के द्वारा आपस में बातचीत कर सकते है, नए दोस्त बना सकते है,किसी भी फाइल को तुरंत ट्रान्सफर कर सकते है,घर बैठे Online पढाई कर सकते है, घर बैठे शॉपिंग कर सकते है, Internet के द्वारा मोबाइल, बिजली का बिल भी जमा कर सकते है|

इसके अलावा भी बहुत सारे काम हम Internet के द्वारा कर सकते है जैसे:

  • Internet से हम किसी भी तरह की जानकारी सर्च करके निकाल सकते है, हम Internet पर कई सारी चीज़ें पड़ सकते है।
  • Internet पर हम कई सारी चीजों से अपने आप का मनोरंजन भी कर सकते है।
  • अगर हमें कहीं भी जाना है तो हम Internet के द्वारा उस जगह की Online Ticket भी घर बैठे Book कर सकते है।
  • हम अपनी पढ़ाई से सम्बंधित सभी जानकारी जैसे टाइम टेबल या रिजल्ट घर बैठे देख सकते है।
    हम Online किसी भी विषय के बारे में पढाई भी कर सकते है|
  • Internet पर ही काम करके बहुत सारा पैसा भी आप कमा सकते है, आज Internet पर बहुत सी कंपनी काम करके पैसा कमा रही है जैसे Facebook और Google!

Internet Ke Nuksan In Hindi

जिस प्रकार Internet Ke Fayde है ठीक उसी प्रकार Internet Ke Nuksan भी है

  • Internet के जरिये हमारे कंप्यूटर और मोबाइल में Viruses और Malware आते है।
  • Internet पर कोई भी व्यक्ति कुछ भी शेयर कर सकता है लेकिन कुछ लोग इस बात का गलत फायदा भी उठाते है। झूठी खबरों के इतनी तेजी से फैलने का कारण भी Internet ही है।
  • Internet का इस्तेमाल हमारा समय तो बचाता है लेकिन कभी कभी इसकी लत लगने के कारण यह कई गुना ज्यादा हमारा समय भी बर्बाद कर देता है।

Conclusion

हाँ तो दोस्तों आपको हमारी आज की पोस्ट कैसी लगी आज हमने आपको बताया की Internet Kya Hai In Hindi और Internet Ka Aviskar Kisne Kiya और इसी के साथ आज आपने Internet Ke Fayde और Internet Ke Nuksan भी जाने, उम्मीद है आपको समझ आया होगा और पसंद भी आया होगा, क्योंकि आज हमने सरल भाषा में आपको सही और Update जानकारी बताई है, जो आपके लिए उपयोगी है|

हम आशा करते है आपके कई सवालों के जवाब आज आपको यहाँ मिले होंगे, अगर आपके मन में अब भी कुछ सवाल है तो वो भी आप Comment Box में Comment करके हमसे पूछ सकते है, हमारी टीम आपकी सहायता करने की कोशिश करेगी|

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: WWW KYA HAI? WWW का FULL FORM क्या होता है? – जानिए WWW का पूरा इतिहास हिंदी में!

अगर आपको हमारी आज की पोस्ट पसंद आई है तो आप Comment Box में Comment करके भी हमे बता सकते है और इसी प्रकार की अन्य जानकारी के लिए आप हमारी वेबसाइट Hindi Sahayta की Notification को Subscribe भी कर सकते है जिससे आपको हमारी नयी पोस्ट की जानकारी मिल सके|

आप हमारी पोस्ट अपने दोस्तों से भी शेयर कर सकते है और शेयर करके अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बता सकते है, तो दोस्तों आज के लिए बस इतना ही हम फिर नयी टेक्नोलॉजी और एजुकेशन से संबंधित पोस्ट लेकर हाज़िर होंगे तब तक के लिए अलविदा दोस्तों! आपका दिन शुभ हो|

अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न

हिंदी सहायता क्या है?







हिंदी सहायता एक वेबसाइट है जिस पर अनेक प्रकार की जानकारियों को लेखों के माध्यम से पाठकों तक पहुँचाया जाता है। जिन्हें हिंदी भाषा में लिखकर सरल रूप में समझाया जाता है।

हिंदी सहायता की शुरुआत किसने की?







हिंदी सहायता 15 अगस्त 2017 को नीरज जीवनानी के द्वारा शुरू की गई थी।

हिंदी सहायता का उद्देश्य क्या है?







हमारी वेबसाइट हिंदी सहायता का सबसे मुख्य उद्देश्य लोगों तक इंटरनेट और आधुनिक तकनीकों से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारियों को प्रदान करना है। इसके साथ ही देश की मातृभाषा हिंदी के महत्व को बनाये रखना भी है। जो भारत देश की सबसे प्रिय भाषा है।

हिंदी सहायता पर किस प्रकार के लेख मौजूद है ?







हिंदी सहायता पर कई तरह के लेख है जिनके बारे में जानना आपके जीवन के लिए आवश्यक है जैसे – शिक्षा संबंधी लेख, तकनीकी संबंधी लेख, स्वास्थ्य संबंधी लेख, ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए तथा और भी विभिन्न प्रकार के लेख मौजूद है। जिनसे आपको बहुत कुछ सीखने को भी मिलता है और आपका काम भी आसान हो जाता है।

हिंदी सहायता अन्य वेबसाइट से क्यों बेहतर है ?







इस वेबसाइट पर आपको बहुत ही सरल भाषा में जानकारी दी जाती है लेख इस प्रकार से लिखे गए होते है जो आसानी से समझ में आ सके शब्दों को बिल्कुल सामान्य रूप में अभिव्यक्त किया जाता है

क्या हिंदी सहायता पर मेरे सवालों का उत्तर दिया जाएगा ?







हाँ आपके सभी सवालों के जवाब दिए जाएँगे आपको किसी लेख में कोई परेशानी आती है तो आप हमसे जरुर पूछे लेखों से जुड़ी परेशानी को दूर करने में हम आपकी मदद करेंगे

अपना बहुमूल्य सुझाव दे |