जनता को अपनी कमाई का एक भाग टैक्स के रूप में सरकार को जमा करना होता है चाहे व्यक्ति नौकरी करता हो या व्यवसाय। आप जो Income Tax भरते है उसे Income Tax Slab के अनुसार ही तय किया जाता है।

देखे आज की ताज़ा ख़बर ...

यदि आप भी अब Income Tax जमा करना शुरू कर रहे है तो इस पोस्ट Income Tax Return Kaise Bhare की सहायता जरूर ले। इनकम टैक्स भरने से पहले आपको इनकम टैक्स स्लैब के बारे में पता होना चाहिए। इसलिए आज हम आपको Income Tax Slab Ki Jankari विस्तार में देंगे।

सरकार इस Income Tax के पैसों का इस्तेमाल आम जनता को दी जाने वाली सुविधा और प्रशासन के कामों को सुचारु रूप से चलाने के लिए करती है। सरकार ने 1 फरवरी 2019 को इस वर्ष का बजट पेश कर दिया है और Income Tax Slab में कोई परिवर्तन नहीं किया है। आइये जानते है Income Tax Slab 2019-20 India की कुछ ज़रुरी बाते जिसमें आपको बजट के अनुसार Income Tax Ka Slab पता चलेगा।

नमस्ते, मेरा नाम नीरज जीवनानी है, मैं हिंदी सहायता का संस्थापक हूँ। मैं उम्मीद करता हूँ आपको हमारा काम इस वेबसाइट पर पसंद आ रहा होगा। हम दिन रात मेहनत करके पूरी टीम के सहयोग से यह साइट को चलाते है और आप तक बेहतरीन, एक से बढ़कर एक आर्टिकल्स पहुंचाने का प्रयास करते है। हिंदी सहायता को एक नयी ऊंचाई पर ले जाने के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए, हमने अभी हिंदी सहायता का एक मोबाइल एप्प लॉन्च किया है, इस एप्लीकेशन को आप यहां से डाउनलोड कर सकते है।यहाँ पर आप सभी महत्वपूर्ण जानकारियाँ सबसे पहले हासिल कर पाएंगे तो कृपया आप हमारा एप्प इनस्टॉल करके हमारा साथ ज़रूर दे ताकि हम आप तक हमेशा सभी महत्वपूर्ण आर्टिकल्स पहुँचाते रहे।

नीरज जीवनानी
संस्थापक

Income Tax Slab Kya Hai

सरकार सभी से एक जैसा Tax नहीं लेती है। बल्कि उनकी कमाई के आधार पर सरकार द्वारा Tax लिया जाता है और सभी का इनकम टैक्स रेट अलग होता है। यदि आपकी कमाई बढ़ेगी तो Tax Rate भी बढ़ता जाएगा। आपकी कुल कमाई कितनी है उससे Tax का Rate तय किया जाता है जिसे Income Tax Ka Slab कहते है।

Income Tax Slab 2019-20 India

इनकम टैक्स स्लैब २०१९-२० में किसी तरह का बदलाव नहीं किया गया है। लेकिन Income Tax छूट की सीमा को 2 गुना कर दिया गया है।

60 वर्ष से कम उम्र के करदाताओं के लिए इनकम टैक्स स्लैब:

[table “56” not found /]

टैक्स रिबेट

Tax की गणना Tax Slab के अनुसार होती है और Tax Calculation के बाद सिर्फ भारतीय नागरिकों को 12,500 रुपये टैक्स रिबेट के रूप में मिलते है लेकिन नागरिकों की वार्षिक आय 5 लाख रूपए तक ही होना चाहिए। इनकम टैक्स स्लैब अंतरिम बजट में रिबेट को बढ़ा दिया गया है।

सरचार्ज

  • यदि वार्षिक आय 50 लाख से 1 करोड़ रुपए है तो कुल टैक्स ऋण का 10% सरचार्ज भी देना होगा।
  • अगर वार्षिक आय 1 करोड़ रुपए से ज्यादा है तो कुल टैक्स ऋण का 15% सरचार्ज  देना होगा।

एजुकेशनल सेस

कुल टैक्स ऋण और सरचार्ज के कुल पर 4% एजुकेशनल सेस देना होगा और जितने भी आयवर्ग के व्यक्ति उन सभी को इसे चुकाना होता है।
सबसे पहले Tax Slab के हिसाब से Tax Calculation किया जाता है। इसमें से Tax Rebate की राशि 12,500 रूपए निकाल देने के बाद जो Tax शेष रह जाता है उस Tax पर 4% एजुकेशनल सेस लगता है।

Income Tax Slab Senior Citizen (60-80 वर्ष)

[table “57” not found /]

Senior Citizen के स्लैब में सरचार्ज, एजुकेशनल सेस और रिबेट के जो नियम है वह सामान्य Taxpayers के हिसाब से वैसे ही रहते है।

सुपर सीनियर सिटिज़न के लिए इनकम टैक्स स्लैब

[table “58” not found /]

सुपर सीनियर सिटिज़न के स्लैब में भी सरचार्ज, एजुकेशनल सेस के जो नियम है वह सामान्य Taxpayers के हिसाब से वैसे ही रहते है। सुपर सीनियर सिटिज़न के स्लैब में Tax Rebate नहीं बनता है क्योंकि सुपर सीनियर सिटिज़न पर 5 लाख रूपए तक की इनकम पर किसी तरह का Tax नहीं लगता है और रिबेट का लाभ उन्हीं को मिलता है जिनकी 5 लाख रूपए तक की इनकम हो।

Income Tax Slab For Women

ऊपर आपको जो Income Tax Ka Slab बताया गया है वह महिलाओं पर भी लागू होता है। इस इनकम टैक्स स्लैब के द्वारा आप अपने Tax की जानकारी देख सकते है।

टैक्स पर छूट

2019 में Tax Rebate को 5 गुना बढ़ा दिया गया है और सरकार द्वारा इनकम टैक्स पर 12,500 रूपए की छूट दी जा रही है और यह उन्हें दी जा रही जिन व्यक्तियों की 5 लाख रूपए से कम टैक्सेबल इनकम है। इसके पहले यह छूट 2500 रूपए थी। यह उन्हें मिलती थी जिनकी इनकम 3.5 लाख रुपये से कम होती थी।

स्टैण्डर्ड डिडक्शन

सरकार ने स्टैण्डर्ड डिडक्शन को 10 हजार रूपए तक बढ़ा दिया है। जैसे यदि आपकी  Salary 7 लाख रूपए है तो इसमें से 50 हजार रूपए घटा दे और अब जो Salary बची है 6 लाख 50 हजार रूपए इसमें से ही आपके Income Tax को Calculate किया जाएगा।

Conclusion:

इस तरह से आप बड़ी ही आसानी से Income Tax Slab को जान सकते है और इसका सबसे अच्छा फ़ायदा 5 लाख रुपए तक कमाने वाले व्यक्तियों को होगा। तो अब आपको Income Tax Slabs In India 2019 के बारे में अच्छे से समझ में आ गया होगा। दोस्तों इस पोस्ट को अपने फ्रैंड्स के साथ भी Share करे जिससे की उन्हें भी Income Tax  Slab को समझने में आसानी हो। आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो पोस्ट को Like ज़रुर करे और नए अपडेट पाने के लिए जुड़े रहे हमारे साथ। हमारी पोस्ट पढने के लिए आपका धन्यवाद!

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here