हैलो दोस्तों Hindi Sahayta में आपका स्वागत है। आज हम आपको बताने जा रहे है Li-Fi Kya Hai यदि आप भी जानना चाहते है की Li-Fi का प्रयोग कैसे किया जाता है तो आप बिल्कुल सही पोस्ट पढ़ रहे है। आज की पोस्ट के द्वारा आपको हम Li-Fi की पूरी जानकरी देंगे

Li-Fi Full Form भी आज आप इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे। और हम आपको यह बिल्कुल सरल भाषा में समझाएँगे। आशा करते है की आपको हमारी सभी पोस्ट पसंद आ रही होगी। और इसी तरह आप आगे भी हमारे ब्लॉग पर आने वाली सारी पोस्ट पसंद करते रहे।

इंटरनेट ने आज दुनिया की तस्वीर को बदल कर ही रख दिया है। आज हर व्यक्ति इंटरनेट का प्रयोग करता है इंटरनेट का इस्तेमाल आज इतना ज्यादा बढ़ता जा रहा है की हम अपना सारा काम इसी के माध्यम से घर बैठे ही कर लेते है। इसकी मदद से समय की बहुत बचत होती है।

टेक्नोलॉजी हर दिन बढती ही जा रही है। इससे हम इंटरनेट की सभी सुविधाओं का इस्तेमाल कर सकते है। अगर हमें इंटरनेट का इस्तेमाल करना होता है तो हम अपने मोबाइल का इंटरनेट इस्तेमाल करते है या फिर  Wi-Fi Network का। लेकिन अब आप इंटरनेट इस्तेमाल करने के लिए Wi-Fi से भी ज्यादा एडवांस नेटवर्क का इस्तेमाल कर सकते है जिसका नाम है Li-Fi

तो आईये जानते है अब Li-Fi Kya Hai Hindi Me अगर आपको इसकी जानकारी प्राप्त करना है तो यह पोस्ट What Is Li-Fi Technology In Hindi शुरू से अंत तक ज़रुर पढ़े। तभी आप इसकी पूरी जानकारी प्राप्त कर पाएँगे। और इसका इस्तेमाल कर पाएँगे।

Li-Fi Kya Hai

इसका आविष्कार प्रोफेसर हेराल्ड हास ने 2011 में किया था। यह भी एक वायरलेस नेटवर्किंग सुविधा है। Li-Fi एक हाई स्पीड नेटवर्क टेक्नोलॉजी है। यह  Wi-Fi की तरह ही इस्तेमाल किया जाता है।

जरूर पढ़े: Wi-Fi Kya Hai? Hotspot Kya Hai? – Wi-FI और Hotspot Kaise Use Kare जानिए विस्तार से!

लेकिन यह Wi-Fi से कई गुना तेज होता है। इसमें Visible Light Communication (VLC) का प्रयोग होता है। Li-Fi की मदद से डाटा ट्रान्सफर करने के लिए नेटवर्क के बीच में Led लाइट का प्रयोग किया जाता है।

Li-Fi Full Form

Light Fidelity

Working Of Li-Fi In Hindi

यह भी सारे इंटरनेट डिवाइस की तरह ही काम करता है। इसमें मुख्य रूप से इन तीन कंपोनेंट्स का इस्तेमाल किया गया है:

  • Lamp Driver
  • Led Lamp
  • Photo Detector

इंटरनेट सोर्स Lamp Driver से जुड़ा रहता है। Lamp Driver Internet Cables से जो Information आती है उसको Led Bulb के अंदर ट्रांसमिट करता है। उसके बाद Led Bulb में जो लाइट आती है वह Photo Detector से टकराते ही Photo Detector में जो बदलाव होते है उसे आसानी से पहचान जाता है।

अब Photo Detector Lights Signals को बाइनरी डाटा में कन्वर्ट कर देता है। फिर कंप्यूटर और स्मार्ट-फोन पर प्रोसेस होने के लिए भेज देता है। जिस तरह से Lamp Driver से होते हुए Led Lamp और उसके बाद Photo Detector से डाटा मोबाइल के पास आता है उसी तरह इसके विपरीत मोबाइल से वापस डाटा Led Lamp से होते हुए Receiver के पास जा सकता है।

अगर आप Light Source के नीचे खड़े है और अगर आप Move भी कर रहे तो आपका कनेक्शन नहीं कटेगा। अगर आप एक Light Spot से निकल कर दूसरी Light Spot में जाते है तो वह Automatically दूसरी Light Spot में Switch हो जाएगा।

Wi-Fi Aur Li-Fi Me Antar

Wi-Fi और Li-Fi में अपने कार्यों और क्षमता के आधार पर विभिन्न अंतर पाए जाते है। जिसके बारे में हम आपको आगे बता रहे है:

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: Internet Kya Hai? Internet Ka Aavishkar Kisne Kiya – क्या है Internet के फायदे और नुकसान जानिए हिंदी में!

  • Li-Fi में Lights के द्वारा डाटा ट्रांसमिशन किया जाता है। और  Wi-Fi में रेडियो वेव्स के द्वारा डाटा ट्रांसमिशन होता है।
  • Li-Fi में Lights दूसरी तरफ ना जाने के कारण यह नेटवर्क सिक्योर रहता है।  Wi-Fi का नेटवर्क ओपन रहने के कारण यह सिक्योर नहीं होता है।
  • Li-Fi एक Led Bulb डिवाइस होता है तथा  Wi-Fi Wireless Router होता है।
  • Li-Fi की डाटा ट्रान्सफर स्पीड 1 Gbps होती है और  Wi-Fi की डाटा ट्रान्सफर स्पीड 150 Mbps होती है।
  • Li-Fi 10 मीटर तक की Distance Coverage कर सकता है।  Wi-Fi 32 मीटर (Wlan 802.11b/11g) तथा ट्रांसमिशन पॉवर और ऐन्टेना पर निर्भर होता है।

Li-Fi के फायदे

अगर हम इस नेटवर्क का इस्तेमाल करते है तो हमें इससे विभिन्न प्रकार के फायदे होते है। इससे होने वाले फायदे के बारे में हम आगे जानेंगे:

  • इसका सबसे पहला फायदा यह होता है की इसमें लाइट दीवार के दूसरी तरफ नहीं जा सकती। जिससे की बाहर का कोई भी यूज़र आपका नेटवर्क एक्सिस नहीं कर सकेगा और आपका नेटवर्क भी सिक्योर बना रहता है।
  • तथा कम समय में हम अधिक डाटा ट्रान्सफर कर सकते है। यह  Wi-Fi से 100 गुना ज्यादा तेज होती है।
  • जब हम अपने कई डिवाइस में लैपटॉप, मोबाइल, टेबलेट में एक साथ  Wi-Fi का इस्तेमाल करते है तो स्पीड में कमी आ जाती है। Li-Fi में आपको Multiple डिवाइस इस्तेमाल करने से स्पीड में कोई फर्क नहीं आता है।

Conclusion

आज की पोस्ट के माध्यम से आपने जाना की Li-Fi Kya Hai और इसके साथ ही  Wi-Fi Aur Li-Fi Me Antar भी आपको जानने को मिला। आशा करते है की हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी।

Li-Fi Technology In Hindi की जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारी इस पोस्ट की मदद ज़रुर ले। Difference Between  Wi-Fi And Li-Fi In Hindi आज की पोस्ट के माध्यम से आप जान गये होंगे। और आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके बताये।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: IOT Kya Hai? How IOT Works? Applications Of IOT – जानिए Internet Of Things Examples In Hindi!

इस पोस्ट की जानकारी आप अपने फ्रेंड्स को भी दे। तथा सोशल मीडिया पर भी यह पोस्ट What Is Li-Fi In Hindi ज़रुर शेयर करे। जिससे और भी ज्यादा लोगों के पास यह जानकारी पहुँच सके। हमारी पोस्ट Li-Fi Kya Hai में आपको कोई परेशानी है या आपका कोई सवाल है इस पोस्ट से सम्बन्धित तो आप कमेंट करके हमसे पूछ सकते है। हमारी टीम आपकी मदद ज़रुर करेगी।

अगर आप हमारी वेबसाइट के Latest Update पाना चाहते है, तो आपको हमारी Hindi Sahayta की वेबसाइट को सब्सक्राइब करना होगा। फिर मिलेंगे आपसे ऐसे ही आवश्यक जानकारी लेकर तब तक के लिए अलविदा दोस्तों हमारी पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद, आपका दिन शुभ हो।

Li-Fi Kya Hai? Wi-Fi Aur Li-Fi Me Antar Kya Hai – जानिए Working Of Li-Fi In Hindi!
Rate this post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here