Home » Technology » CDPO Full Form in Hindi – सीडीपीओ क्या है और कैसे बने।

CDPO Full Form in Hindi – सीडीपीओ क्या है और कैसे बने।

CDPO Full Form in Hindi बाल विकास परियोजना अधिकारी (Child Development Project Officer) होता है। यह एकीकृत बाल विकास सेवा (ICDS) विभाग में जिला स्तर का अधिकारी होता है। सीडीपीओ क्षेत्र स्तर पर इस योजना के कार्य और संगठन, प्रशासन के लिये जिम्मेदार है। साथ ही CDPO अधिकारी, नवजात बच्चों से लेकर 6 साल तक के आयु वर्ग के बच्चों के स्वास्थ्य की रिपोर्ट रखते है। इस लेख में जाने CDPO Kya Hota Hai, इसके लिए योग्यता, परीक्षा की पूरी जानकारी।

[toc]

एक सीडीपीओ अधिकारी राज्य स्तर नियुक्त पर किया गया, वह अधिकारी होता है जो बच्चों और गर्भवती महिलाओं के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए काम करता है। CDPO अधिकारी बनकर आप अपने देश के हित में कार्य करके देश के आंतरिक और बाहरी विकास में मदद कर सकते है।

अगर आपने अपना ग्रेजुएशन पूरा कर लिया है और गवर्नमेंट जॉब प्राप्त करना चाहते है तो यह आपके लिए अच्छा करियर विकल्प हो सकता है। हालाँकि इससे पहले आपको CDPO Kaise Bane, CDPO Ke Liye Qualification, CDPO वेतन आदि पूरी जानकारी प्राप्त कर लेना चाहिए।

CDPO Full Form in Hindi

CDPO Full Form in Hindi

CDPO Ka Full Form “Child Development Project Officer” होता है, जबकि हिंदी में सीडीपीओ फुल फॉर्म “बाल विकास परियोजना अधिकारी” होता है। एक सीडीपीओ ऑफिसर का कार्य गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की देखभाल और बच्चों के मानसिक और शारीरिक विकास को बेहतर बनाना है।

सीडीपीओ (CDPO) के अंतर्गत आंगनबाड़ी संचालित होती है। इस योजना को अच्छे तरीके से संचालित करने की जिम्मेदारी इसी पद पर कार्यरत कर्मचारी की होती है। इसके अधीन सभी सुपरवाइजर, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी सहायिका आती हैं।

  • CDPO Full Form in Anganwadi – बाल विकास परियोजना अधिकारी
  • CDPO Full Form in Gujarati – બાળ વિકાસ પ્રોજેક્ટ અધિકારી

तो ये थे C.D.P.O Full Form in Hindi चलिए अब आगे आपको सीडीपीओ क्या होता है इस बारे में बताते है।

CDPO Kya Hota Hai

CDPO वह सरकारी अधिकारी होता है जिसे राज्य सरकार द्वारा नियुक्त किया जाता है। सीडीपीओ का कार्य 6 वर्ष से कम आयु के बच्चों का विकास करना तथा गर्भवती महिलाओं के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर करना है। इसके साथ ही CDPO छोटे बच्चों और गर्भवती महिलाओं को पोषण युक्त आवश्यक सुविधाएँ प्रदान करता है, जिससे बच्चे कुपोषित ना हों।

सीडीपीओ का मुख्य उद्देश्य बाल विकास और गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य स्तर को बेहतर बनाना है, जिससे बच्चों को बिमारियों से बचाया जा सके और देश में शिशु मृत्यु दर कम हो।

CDPO का पूरा नाम चाइल्ड डेवलपमेंट प्रोजेक्ट ऑफिसर होता है। CDPO के अन्तर्गत आप महिला बाल विकास अधिकारी के लिये आवेदन कर सकते है। ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं और बच्चों के सम्पूर्ण विकास के लिए काम कर सकते है। इस क्षेत्र में नौकरी करके आप अपने देशहित में काम कर सकते है। जिससे देश में आतंरिक और बाहरी रूप से विकास होगा।

तो अगर आप भी सीडीपीओ सिलेबस, Bal Vikas Pariyojana Adhikari Salary और CDPO की तैयारी कैसे करें? की पूरी जानकारी पाना चाहते है तो आइये इसके बारे में विस्तार से जानते है।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: BDO Kaise Bane – बीडीओ ऑफिसर कैसे बने की पूरी जानकारी।

CDPO Kaise Bane

सीडीपीओ (CDPO) बनने के लिए आपका ग्रेजुएशन होना आवश्यक है, इसके बाद आपको राज्य सरकार द्वारा आयोजित की जाने वाली PCS की परीक्षा जो कि तीन चरणों में होती है, प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू। दोनों लिखित परीक्षा में अच्छे अंकों से पास हो जाने के बाद आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। अगर आप Interview क्लियर कर लेते है, तो इसके बाद आप CDPO के पद लिए के लिए नियुक्त कर दिए जाते है।

अगर आप PCS क्या है और कैसे बने के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो दी लिंक पर क्लिक करके जान सकते है।

CDPO Ke Liye Qualification

अगर आप भी Bal Vikas Pariyojana Adhikari या CDPO बनना चाहते है तो इसके लिए आपको कुछ जरुरी योग्यताएं पूरी करनी होगी। निचे आपको CDPO Ke Liye Qualification क्या-क्या होनी चाहिए यह बताया गया है –

  • CDPO में आवेदन करने के लिए अभ्यार्थी का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन डिग्री होना आवश्यक है।
  • आवेदन करने वाले अभ्यार्थी की आयु 18 से 37 वर्ष के बीच होना अनिवार्य है। आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए इसमें छूट निर्धारित है।
वर्गआयु सीमापरीक्षा के प्रयास (Attempts)
General21-32 साल6 प्रयास
OBC21-35 साल (+3 साल की राहत)9 प्रयास
SC/ST21-37 साल (+5 साल की राहत)कोई सीमा नहीं

CDPO Syllabus In Hindi

आगे आपको Child Development Project Officer के सिलेबस के बारे में बताया गया है जिससे आपको CDPO Exam की तैयारी करने में सहायता मिलेगी। मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिये आपको हिंदी व्याकरण पर ज्यादा ध्यान होगा, जिसमें की विलोम शब्द, पर्यायवाची शब्दों का सही प्रयोग और मानसिक योग्यता पर जो भी प्रश्न आधारित हैं उन पर ज्यादा ध्यान दें।

UP CDPO परीक्षा के लिये भी आप इसी तरह से तैयारी कर सकते है। और इस परीक्षा में सफलता प्राप्त कर सकते है। UP CDPO Syllabus In Hindi भी इसी तरह का होता है।

CDPO की परीक्षा 3 चरणों में आयोजित की जाती है, आइये इसके बारे में विस्तार से जानते है –

प्रारंभिक परीक्षा

प्रारंभिक परीक्षा में सामान्य ज्ञान से जुड़े वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते है, जिसके लिए आपको 2 घंटों का समय दिया जाता है। इस परीक्षा को पास कर लेने के बाद आपको मुख्य परीक्षा के लिए बुलाया जाता है।

मुख्य परीक्षा

प्रारंभिक परीक्षा पास कर लेने के बाद आपको मुख्य परीक्षा देना होता है, यह भी एक लिखित परीक्षा होती है, इसमें गृह विज्ञान, मनोविज्ञान, समाजशास्त्र और श्रम एवं समाज कल्याण से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है, जिसके लिए आपको 3 घंटे का समय दिया जाता है। इस मुख्य परीक्षा में पास हो जाने के बाद आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है।

इंटरव्यू

जब आप प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा पास कर लेते हैं, तो आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है, जिसमें कुछ विशेष अधिकारीयों की टीम द्वारा आपसे कुछ प्रश्न पूछे जाते है। अगर आप उनके सवालों के सही जवाब दे देते है, और आप Interview राउंड क्लियर कर लेते है, तो आपको CDPO के पद के लिए चुन लिया जाता है।

एक नज़र इस पर भी: Patwari Kaise Bane – पटवारी कैसे बने, योग्यता, एग्जाम पैटर्न, सिलेबस, भर्ती 2022

सीडीपीओ एग्जाम पैटर्न 2022

परीक्षा का नामपैटर्न ऑफ़ एग्जामविषयअंकसमय
प्रारंभिक परीक्षावैकल्पिकसामान्य ज्ञान150 अंक2 घंटे
मुख्य परीक्षाडिस्क्रिप्टिवसामान्य हिंदी100 अंक3 घंटे
सामान्य अध्ययन-1300 अंक3 घंटे
सामान्य अध्ययन-2300 अंक3 घंटे
वैकल्पिक विषय

  • गृह विज्ञान
  • मनोविज्ञान
  • समाजशास्त्र
  • श्रम एवं समाज कल्याण
300 अंक3 घंटे
साक्षात्कार120 अंक

CDPO Ki Taiyari Kaise Kare

किसी भी परीक्षा की तैयारी करने से पहले अपना लक्ष्य तय कीजिये, अगर आपने CDPO परीक्षा के लिये आवेदन किया है तो आपको कुछ इस तरह से तैयारी करनी होगी।

  • सीडीपीओ की तैयारी करने के लिये सबसे पहले अपना टाइम टेबल बनायें।
  • परीक्षा के मुख्य बिंदुओं पर ध्यान दें।
  • परीक्षा के पाठ्यक्रम के अलावा आप सामान्य ज्ञान, न्यूज की जानकारी और कर्रेंट अफेयर पर विशेष ध्यान दें।
  • CDPO परीक्षा की तैयारी में आपको हिंदी विषय पर भी ज्यादा ध्यान देना होगा।
  • प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी के लिए आपको तकनीकी, इतिहास, सविंधान, जीवविज्ञान और सामान्य विज्ञान की मुख्य पहलुओं पर ध्यान देना होगा।
  • आपके राज्य और ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं और बच्चों की स्वास्थ्य स्थिति कैसी है, इसके बारे में जानें।
  • अगर समाजशास्त्र आपका वैकल्पिक विषय है तो इस विषय पर ज्यादा ध्यान दें।
  • राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय परिदृश्य में समसामयिक मुद्दों के महत्व और कर्रेंट अफेयर्स पर भी अध्ययन करे।

बाल विकास परियोजना अधिकारी के कार्य

CDPO ऑफिसर का मुख्य कार्य देश के बच्चों के अच्छे स्वास्थ्य के लिये सुविधाएं उपलब्ध करवाना है। इसके अलावा भी CDPO के कार्य कई सारे है –

  • CDPO का कार्य देश में 0-6 वर्ष के बच्चों के सम्पूर्ण विकास के बारे में ग्रामीण क्षेत्रों से जानकारी लेना।
  • कुपोषित बच्चों के लिये पोषण सामग्री उपलब्ध कराना।
  • गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी लेना।
  • बच्चों में होने वाले रोगों से बचाव और रोकथाम के लिये मदद प्रदान करना।
  • बच्चों और महिलाओं को अच्छे स्वास्थ्य के प्रति जागरुक करना।

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: Sub Inspector Kaise Bane – जानिए SI से जुड़ी पूरी जानकारी।

Bal Vikas Pariyojana Adhikari Salary

जैसा कि आप जानते है कि CDPO एक सरकारी नौकरी है जिसमें अन्य सरकारी नौकरी की तरह ही अच्छी सैलरी मिलती है और प्रत्येक वर्ष यह सैलरी बढ़ती भी है तथा इसमें कुछ उच्च स्तर की पोस्ट भी होती है। तो चलिए अब जानते है कि 7वे वेतन आने के बाद CDPO Salary कितनी होगी।

CDPO Salary In MP / CDPO Salary In UP:

पे स्केल9300 – 34800 रु.
ग्रेड पे4800 रु.
प्रति माह औसत वेतन रु.50,000 रु.

Conclusion

आशा करते है कि आपको अपने सभी सवालों के जवाब जैसे- CDPO Kya Hota Hai, सीडीपीओ फुल फॉर्म इन हिंदी क्या है, CDPO Ki Taiyari कैसे करे और प्रत्येक राज्य में CDPO की सैलरी कितनी होती है यह जानने में आपकी मदद मिली होगी। अगर आपके दोस्त भी गवर्नमेंट जॉब की तैयारी कर रहे है तो उनके साथ भी हमारी यह पोस्ट शेयर करे, ताकि उन्हें भी सीडीपीओ के कार्य एवं उसके लिए योग्यता क्या होती है के बारे में जानने को मदद मिले।

FAQs

  • सीडीपीओ की सैलरी कितनी होती है?

एक सीडीपीओ ऑफिसर की सैलरी 9, 300 रूपये से 34,800 रूपये प्रति माह तक होती है। इसके अलावा 4800 रूपये प्रतिमाह ग्रेड पे व अन्य वेतन भत्ते मिलते है।

  • सीडीपीओ के लिए कौन सी डिग्री सबसे अच्छी है?

CDPO के लिए आप किसी भी स्ट्रीम साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स से अपनी ग्रेजुएशन डिग्री पूरी कर सकते है।

  • सीडीपीओ के लिए न्यूनतम आयुसीमा क्या है?

CDPO के लिए न्यूनतम आयुसीमा 18 वर्ष एवं अधिकतम आयुसीमा 37 वर्ष है, हालांकि कुछ आरक्षित वर्गों को इसमें छूट दी जाती है।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 4.7 / 5. Vote count: 168

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

एडिटोरियल टीम

एडिटोरियल टीम, हिंदी सहायता में कुछ व्यक्तियों का एक समूह है, जो विभिन्न विषयो पर लेख लिखते हैं। भारत के लाखों उपयोगकर्ताओं द्वारा भरोसा किया गया।Email के द्वारा संपर्क करें - [email protected]

1 thought on “CDPO Full Form in Hindi – सीडीपीओ क्या है और कैसे बने।”

Leave a Comment