Home » Technology » NDRF Kaise Join Kare – NDRF क्या है इससे जुड़ी पूरी जानकारी!

NDRF Kaise Join Kare – NDRF क्या है इससे जुड़ी पूरी जानकारी!

भारत चारों ओर से प्राकृतिक सौंदर्य से घिरा हुआ है, पर क्या आप जानते हैं, कि प्रकृति का संतुलन बिगड़ने पर भारत में कई बार बाढ़, सुनामी, भूकंप जैसी समस्याएं उत्पन्न हो चुकी हैं, जिसके चलते लोगों को कई समस्याओं का सामना करना पडा और हजारों-लाखों की संख्याओं में लोग मारे गए। इसी समस्या के निवारण के लिए भारत सरकार ने NDRF Ki Sthapna की जो एक प्रकार की फोर्स है, जिसका कार्य भूकंप, बाढ़ और सुनामी जैसी प्राकृतिक आपदाओं में फसे लोगों की सहायता करना है। अगर आप भी NDRF में शामिल होना चाहते हैं, तो आपको NDRF Kaise Join Kare इसकी पूरी जानकारी बहुत जरुरी है, जिसकी जानकारी आज आप इस लेख के द्वारा प्राप्त करेंगे।

आप भी जानते हैं कि भारत में मौसम ऋतुओं के हिसाब से बदलता रहता है। वर्षा ऋतु जितना भारत के सौंदर्य को बढ़ाती है, उतना ही इस मौसम से भारत के कई राज्यों को बाढ़ आने और भू-स्खलन होने का ख़तरा रहता है। इन प्राकृतिक संकट के समय मुसीबत में फसे लोगों को समय पर मदद और राहत सुविधा पहुँचाने का कार्य NDRF (National Disaster Response Force) का होता है।

अगर आपका सपना भी NDRF ज्वाइन करके लोगों की मदद करना है, तो आज मैं आपको इस लेख में एनडीआरएफ योग्यता (NDRF Recruitment Eligibility) एनडीआरएफ भर्ती 2021 ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया के बारे में सम्पूर्ण जानकारी बताने जा रही हूँ।

[toc]

NDRF क्या है?

एनडीआरएफ एक राष्ट्रीय स्तर का सुरक्षा पुलिस बल है, जो प्राकृतिक आपदा अथवा आपातकाल के समय लोगों की मदद करती है, उन्हें सुरक्षित स्थान पर ले जाकर उन तक राहत सुविधा पहुँचाती है।

NDRF का निर्माण तब हुआ जब 90के दशक में पहली बार भारत सरकार ने सोचा की भारत में एक ऐसी फोर्स होना चाहिए जो लोगों को प्राकृतिक और मानव निर्मित आपदाएं जैसे- भूकंप, सुनामी, बाढ़, तूफान, चक्रवात जैसी कोई भी समस्या आने पर उन्हें बचा कर एक सुरक्षित स्थान पर ले जा सके।

NDRF Full Form:

NDRF Ka Full Form – National Disaster Response Force और हिंदी में “राष्ट्रीय आपदा मोचन बल” होता है।

सन 1999 में भारत के एक राज्य ओडिसा में सुपर चक्रवात आया था, सन 2001 ने गुजरात के अंदर भूकंप आया और फिर सन 2004 में भारत में सुनामी आयी जिसमें बहुत जनहानि हुई थी। जिसके चलते सरकार ने एक ऐसी फोर्स बनाने के ऐलान किया जो सभी प्रकार की आपदाओं में जल्द से जल्द पहुँच कर लोगों को राहत और सुरक्षा प्रदान कर सके।

इस तरह से सन 2005 में एनडीआरएफ की स्थापना हुई। इस फोर्स को 12 बटालियन में बाँटा गया है। जिसमें हर एक जवान को सभी प्रकार की आपदाओं से निपटने की स्पेशल ट्रेनिंग दी जाती है। यह फोर्स भारत के प्रधान मंत्री के अधीन काम करती है। इसके पास सभी आपदाओं का डट के सामना करने के लिए इंटरनेशनल स्टैंडर्ड के 310 उपकरण उपस्थित है।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: NDA Kaise Join Kare? – जानिए NDA के लिए योग्यता, आयु सीमा, सिलेबस व एग्जाम पैटर्न!

एनडीआरएफ के बारे में जानकारी

भारत की एनडीआरएफ फोर्स में 12 बटालियन है। जिसकी हर एक बटालियन में 1149 सैनिक है। इनका काम प्राकृतिक और मानव निर्मित आपदा में फसे लोगों को सही सलामत निकालना होता है। इन बटालियन में राहत विशेषज्ञ (एक्सपर्ट) के रूप में इंजीनियर, तकनीशियन, इलेक्ट्रीशियन, डॉग स्क्वायड और डॉक्टर शामिल होते है।

भारत की राष्ट्रीय आपदा मोचन बल अभी तक देश-विदेश में 73 के आस-पास ऑपरेशन कर चुकी है। इन सभी ऑपरेशन के लिए उन्हें देश-विदेश से बहुत सराहना मिली है और उनके काम की हमेशा तारीफ़ की गई है। यह आज तक के सभी ऑपरेशन में 4,70,000 से ज़्यादा लोगों का जीवन बचा चुकी है और इन एनडीआरएफ ऑपरेशन के दौरान यह अभी तक 5,52,857 लोगों को एक सुरक्षित जगह पर पहुँचाने में भी सफल रही है।

NDRF ने अभी तक लोगों को जागरूक करने के लिए 5,268 कार्यक्रम किए है। जिससे 51,75,537 लोगों को लाभ मिला है। इसने अभी तक 1,524 स्कूल कार्यक्रम भी किये है। जिसके अंतर्गत स्कूलों के 6,44,225 विद्यार्थियों को आपदा से निपटने के तरीके सिखाए गए है।

जरूर पढ़े: Indian Navy Kaise Join Kare? – इंडियन नेवी में ऑफिसर बनने के लिए योग्यता, परीक्षा व भर्ती 2019!

एनडीआरएफ भर्ती 2021

NDRF भारत की पैरामिलिट्री लाइंस फोर्स है, जिसमें आप किसी भी तरीके से सीधे भर्ती नहीं हो सकते हैं। इसमें जाने के लिए आपको 12वीं पास होना होगा और उसके बाद आपको SSB, ITBP या CRPF में से किसी भी एक पैरामिलिट्री फोर्स में भर्ती होना होगा। उसके बाद आप उस सेना के माध्यम से NDRF फोर्स में जा सकते है। NDRF की 12 बटालियन में से 3 BSF, 3 CRPF, 2 ITBP, 2 CISF और 2 SSB इसी तरह से इन फोर्स के जवानों को सेट किया जाता है। अगर आप NDRF Me Kaise Jaye के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप NDRF की आधिकारिक वेबसाइट “www.ndrf.gov.in” पर जा सकते है।

NDRF Kaise Join Kare 

अगर आप NDRF में जाने के लिए SSB, ITBP या CRPF में से किसी भी एक फोर्स में शामिल हो चुके है तो अब आपको 3-4 साल उन्ही फोर्स में अपनी सेवाएं देना होगी। उसके बाद आप उन्ही फोर्स में रहते हुए NDRF में जाने के लिए आवेदन कर सकते है। अब कुछ प्रक्रिया के बाद आवेदन करने वाले सभी सैनिकों को NDRF की विशेष ट्रेनिंग दी जाती है। ट्रेनिंग पूरी होने के बाद कुछ मापदंड के हिसाब से कुछ जवानों को NDRF फोर्स में शामिल कर लिया जाता है। इसके बाद भारत में किसी भी जगह आपदा की स्थिति में इन जवानों को वहाँ राहत कार्य करने पहुँचाया जाता है।

एनडीआरएफ Salary

यदि आप NDRF की सैलरी के बारे में पता करना चाहते है तो वह भारत में रैंक के हिसाब से 8,460 रूपए से लेकर 79,000 रूपए तक हो सकती है।

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: Bhartiya Vayu Sena Me Kaise Jaye? – इंडियन एयरफोर्स भर्ती 2019-20 में शामिल होने के लिए योग्यता व परीक्षा!

NDRF Battalions List

भारत में एनडीआरएफ की 12 बटालियन पैरामिलिट्री लाइंस फोर्स के रूप में अलग-अलग जगह पर तैनात है। इन सभी जगह पर फोर्स के लिए खास ट्रेनिंग की व्यवस्था भी होती है। NDRF फोर्स के केंद्र उस जगह पर है। जहाँ सबसे ज़्यादा प्राकृतिक आपदा आने की संभावना होती है। इसी लिए यह फोर्स 24 घंटे निरंतर काम करती रहती है। तो आईये अब जानते है NDRF Training सेंटर कहाँ-कहाँ है पर स्थित है।

संख्याएनडीआरएफ बटालियनसीपीएफराज्य
1.एनडीआरएफ कोलकाताबीएसएफपश्चिम बंगाल
2.एनडीआरएफ गुवाहाटीबीएसएफअसम
3.एनडीआरएफ गाज़ियाबादआईटीबीपीउत्तरप्रदेश
4.एनडीआरएफ भटिंडाआईटीबीपीपंजाब
5.एनडीआरएफ मुन्डलीसीआईएसएफउड़ीसा
6.एनडीआरएफ पुणेसीआरपीएफमहाराष्ट्र
7.एनडीआरएफ अराकोरमसीआईएसएफतमिलनाडु
8.एनडीआरएफ पटनाबीएसएफबिहार
9.एनडीआरएफ गांधीनगरसीआरपीएफगुजरात
10.एनडीआरएफ वाराणसीएसएसबीउत्तरप्रदेश
11.एनडीआरएफ विजयवाड़ासीआरपीएफआन्ध्र प्रदेश
12.एनडीआरएफ इटानगरएसएसबीअरुणाचल प्रदेश

Conclusion:

आज हर कोई देश अपने आप को शक्तिशाली देश बनाने में लगा हुआ है और कुछ देश इसमें कामयाब भी हो चुके है। लेकिन कोई भी देश कितना भी शक्तिशाली या समृद्ध हो जाए, वह प्राकृतिक आपदाओं से नहीं बच सकता है। जिनमें से कुछ आपदाएं तो हम हमारे लिए निर्मित कर देते है, जिसकी वजह से हर साल कई लोगों का जीवन काल समाप्त हो जाता है। भारत में भी हर साल प्राकृतिक और मानव निर्मित कई आपदाएं आती रहती है, जो लोगों के जीवन पर बहुत बुरा असर डालती है।

इसलिए भारत सरकार ने इन परिस्थितियों में लोगों को बचाने और सुरक्षित जगह पर पहुँचाने के एनडीआरएफ फोर्स का निर्माण किया, जिसकी पूरी जानकारी मैंने आपको इस लेख में ऊपर प्रदान कर दी है। अगर आपको यह जानकारी पसंद आयी हो तो हमारी आज की पोस्ट एनडीआरएफ भर्ती 2021 ऑनलाइन आवेदन को ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करे, धन्यवाद!

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 4.6 / 5. Vote count: 154

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

एडिटोरियल टीम

एडिटोरियल टीम, हिंदी सहायता में कुछ व्यक्तियों का एक समूह है, जो विभिन्न विषयो पर लेख लिखते हैं। भारत के लाखों उपयोगकर्ताओं द्वारा भरोसा किया गया।Email के द्वारा संपर्क करें - [email protected]

Leave a Comment