भारतीय वायु सेना (IAF) भारतीय सशस्त्र बलों की हवाई शाखा है। शक्तिशाली हथियार के मामले में भारतीय वायु सेना दुनिया में चौथे स्थान पर आती है। इसका प्राथमिक मिशन भारतीय हवाई क्षेत्र को सुरक्षित करना और सशस्त्र संघर्ष के दौरान हवाई युद्ध करना है। भारत की सेना को तीन कमांड्स में बाँटा गया है- थल सेना, जल सेना और वायु सेना। वर्तमान में Bhartiya Vayu Sena Ke Adhyaksh एयर चीफ मार्शल बीरेंद्र सिंह धनोवा है जो 31 दिसम्बर 2016 से लेकर अब तक कार्यरत है।

हमारे देश की सेना के बारे में तो आपको पता होगा जो दुनिया की बेहतरीन सेनाओं में से एक है आपके आस-पास या परिवार में से भी कोई न कोई भारतीय सेना में ज़रूर होगा और आपको पता ही होगा की सेना में नौकरी करना अपने आप में गर्व की बात होती है अगर आपका सपना भी आसमान में उड़ने का है तो आपको Bhartiya Vayu Sena Bharti में शामिल ज़रूर होना चाहिए।

आज हम आपको Bhartiya Vayu Sena Bharti 2019 के बारे में कुछ जानकारी देंगे जिसकी मदद से आप 12वीं के बाद भारतीय वायु सेना की नौकरी पा सकेंगे। भारतीय वायु सेना में जाने के लिए आपके पास क्या योग्यता होना चाहिए और भर्ती आने पर आप इसमें कैसे आवेदन कर पाएंगे आदि सभी जानकारी आज आपको यहां पर मिलेगी।

Bhartiya Vayu Sena Me Kaise Jaye

Bhartiya Vayu Sena Me Kaise Jaye

जो उम्मीदवार भारतीय वायु सेना में जाने की इच्छा रखते है वे अपनी शैक्षणिक योग्यता के आधार पर फ्लाइंग, टेक्निकल या ग्राउंड ड्यूटी ब्रांच में एक अधिकारी के रूप में भारतीय वायु सेना में शामिल हो सकते है।

12वीं कक्षा के बाद

यदि आपका सपना बचपन से ही आसमान में उड़ने का है और आप स्कूल खत्म करने के तुरंत बाद भारतीय वायु सेना में शामिल होना चाहते है, तो इसके लिए आपको UPSC (यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन) द्वारा आयोजित NDA की परीक्षा में शामिल होना होगा। एनडीए की परीक्षा में शामिल होने के लिए आगे आपको को भारतीय वायुसेना में शामिल होने की पात्रता के बारे में बताया गया है:

शैक्षणिक योग्यता

  • भारतीय वायु सेना भर्ती 2019 में शामिल होने के लिए आपको इस भर्ती की शैक्षणिक योग्यता के बारे में पता होना चाहिए जैसे- 10वीं 12वीं के गणित, भौतिक और रसायन विज्ञान, में आपके 50% अंक होना चाहिए और अंग्रेजी में भी 50% अंक होना अनिवार्य है।
  • यदि किसी पॉलीटेक्निक संस्थान से डिप्लोमा कोर्स किया है तो उसमे भी 50% अंक से पास होना आवश्यक है और अगर उसमें अंग्रेजी विषय है तो उसमे भी 50% अंक होना चाहिए। यह आँकड़े पद (पोस्ट) के हिसाब से थोड़े बहुत अलग हो सकते है।

आयु सीमा

उम्मीदवार की आयु 16 वर्ष 6 माह से लेकर 19 वर्ष 6 माह के बीच होना चाहिए जबकि आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को आयु में छूट दी जाती है।

शारीरिक मापदंड

  • उम्मीदवार भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • आयु से हिसाब से उम्मीदवार का वजन होना चाहिए।
  • महिलाओं के लिए ऊंचाई 152.5 सेमी और पुरुष के लिए 157.5 सेमी है।
  • उम्मीदवार के सुनने की शक्ति दोनों कानों से 6 मीटर तक होना चाहिए।
  • पुरुष की छाती फुलाने पर 5 सेमी तक बढ़ना चाहिए।

ग्रेजुएशन होने के बाद

क्या आप 10वीं 12वीं कक्षा के बाद भारतीय वायु सेना में शामिल होने के अवसर से चूक गए है, तो चिंता न करे आपके पास ग्रेजुएशन (स्नातक) होने के बाद IAF में शामिल होने के बहुत सारे अवसर होते है। UPSC स्नातक उम्मीदवारों के लिए CDSE और NCC विशेष प्रवेश योजना परीक्षा आयोजित करता है।

CDSE Exam

फ्लाइंग ब्रांच में ट्रेनी पायलटों की भर्ती के लिए CDS परीक्षा आयोजित की जाती है, इस परीक्षा के लिए केवल वे उम्मीदवार ही आवेदन करने के लिए पात्र होते है जिनका ग्रेजुएशन होता है जैसा कि आप जानते होंगे कि हर साल दो बार UPSC द्वारा CDSE परीक्षा आयोजित की जाती है। इसमें जिन उम्मीदवारों को शार्ट लिस्ट किया जाता है उन्हें विशेष उड़ान प्रशिक्षण प्रतिष्ठान में प्रशिक्षित किया जाता है।

NCC Special Entry Exam

इंडियन एयरफोर्स भर्ती 2019-20 की फ्लाइंग शाखा में शामिल होने और NCC (राष्ट्रीय कैडेट कोर) के एयर विंग सीनियर डिवीजन ‘सी’ सर्टिफिकेट रखने वाले अभ्यर्थी एनसीसी स्पेशल एंट्री के लिए आवेदन करने के योग्य है।

इंजीनियरिंग के बाद

वे अभ्यर्थी जिनके पास इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन डिग्री है उनके पास भारतीय वायु सेना की IAF टेक्निकल ब्रांच में शामिल होने का विकल्प है। इच्छुक उम्मीदवार इंजीनियरिंग में अपनी डिग्री पूरी करने के बाद नीचे बताई गयी प्रवेश परीक्षा के माध्यम से Bhartiya Vayu Sena Me शामिल हो सकते है जिसका आयोजन UPSC के द्वारा किया जाता है।

  • UES
  • AFCAT

पोस्ट ग्रेजुएशन के बाद

फ्लाइंग शाखा के अलावा, आप भारतीय वायु सेना में ग्राउंड ड्यूटी शाखाओं में भी अपनी सेवा दे सकते है, जिसमें Administration Branch, Accounts Branch, Logistics Branch, Education Branch, और Meteorological Branch आदि शामिल है।

इंडियन एयरफोर्स भर्ती 2018-19

यदि आप भारतीय वायु सेना में जाना चाहते है तो इसके लिए आपको इसकी भर्ती की जानकारी से अपडेट रहना होगा इसके लिए आप इस भारतीय वायु सेना की आधिकारिक वेबसाइट indianairforce.nic.in पर जाकर इसकी जानकारी प्राप्त कर सकते है। जैसे ही भारतीय वायु सेना में किसी भी पद के लिए भर्ती होगी आपको इस वेबसाइट पर उसकी जानकारी मिल जाएगी और आप ऑनलाइन सेंटर पर जाकर इसका फॉर्म भर सकते है।

भारतीय वायु सेना में पहली महिला पायलट:

भारतीय वायु सेना की प्रथम महिला पायलट हरिता कौर दयाल थी, जिन्होंने 2 सितम्बर 1994 को पहली उड़ान AVRO HS-748 में भरी थी।

इंडियन एयरफोर्स भर्ती 2018-19 Syllabus

भारतीय वायु सेना में भर्ती होने के लिए आपको अलग-अलग पद के लिए अलग-अलग परीक्षा देना होती है। जिनके सिलेबस में अंग्रेजी, भौतिकी, गणित, तर्क, सामान्य जागरूकता आदि से प्रश्न पूछे जाते है आप जिस पद की तैयारी कर रहे उसका सिलेबस एक बार जरूर देख ले इससे आपको परीक्षा की तैयारी करने में मदद मिलेगी।

Conclusion:

सेना हर देश के लिए ज़रूरी मानी जाती है जो हमें पड़ोसी देशों के हमलों से बचाती है और अपने देश कि सेना में होना अपने आप में बहुत बड़ी बात है। इसी लिए आज हमने आपको भारतीय वायु सेना में भर्ती होने की आवश्यक जानकारी प्रदान की जिससे आप भारतीय वायु सेना में भर्ती की तैयारी अच्छे से कर सकेंगे।

अगर आप भारतीय वायु सेना में नौकरी करना चाहते है या सेना में जाकर देश के लिए कुछ करना चाहते है तो इसके लिए आपके पास भारतीय वायु सेना में शामिल होने की प्रक्रिया की पूरी जानकारी होना चाहिए नहीं तो आप इस भर्ती को पास नहीं कर सकेंगे। यदि आपको हमारी पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करे।

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here