देश के विकास के लिए अगर सबसे जरुरी है तो वो है शिक्षा, जिसमें सबसे बड़ा योगदान शिक्षक का होता है, क्योंकि शिक्षक जैसा पढ़ाएंगे वैसी ही शिक्षा छात्रों को मिलेगी। Teacher ऐसा होना चाहिए जो बच्चों को सही शिक्षा देकर उज्जवल भविष्य की राह दिखाए।

Teacher होना बहुत ही गर्व की बात है पर क्या आप एक Teacher बनकर अपने देश को शिक्षित करना चाहते है? तो इसके लिए आपको एक विशेष तरह के Course B.Ed की Degree प्राप्त करनी होगी

अगर आप भी एक अच्छे टीचर बनना चाहते है और आपको Teaching पसंद है तो आप B.Ed Course या D.Ed Course करके अपना सपना पूरा कर सकते है।

तो क्या आप जानते है B.Ed Kaise Karte Hai ?… अगर नहीं जानते तो आज की यह Post आपकी बहुत मदद करेगी जिसमें आप B.Ed के साथ ही D.Ed Course के बारे में भी जान सकेंगे।

आइये जानते है.…

teaching

D.Ed Kya Hai? (What is a D.Ed Degree)?

यदि आपको छोटे बच्चों को पढ़ाना पसंद है और आप 12th पास है तो आपके लिए D.Ed से अच्छा कोई और Course हो ही नहीं सकता

D.Ed Full Form

“Diploma In Education” होता है

यह एक Diploma Course है इस Course को करने के बाद आप Primary 1st To 8th Class के Teacher बन सकते है। D.Ed Course में Classroom Based Teaching के अलावा Practical, Internship, Training भी शामिल होती है। साथ ही इस Course में बच्चों को पढ़ाने के Latest Method भी सिखाये जाते है।

D.Ed Course करने के दौरान D.Ed कर रहे Students को Internship के लिए किसी School में Primary के बच्चों को पढ़ाना होता है। इस Course को करने के बाद आप किसी भी Private या Government School में पढ़ाने के योग्य हो जाएँगे।

B.ed books

D.Ed Kitne Saal Ka Course Hai?

तो अब आप समझ गए होंगे की D.Ed Course में क्या होता है 

लेकिन क्या आप जानते है की इस Course की Duration क्या है 

यह 2 साल का Course होता है। जिसे Regular Mode में किया जाता है। D.Ed का Exam Pattern Yearly होता है। इस कोर्स को आप 12th के बाद कर सकते है।

D.Ed Kaise Kare?

चाहे कोई सा भी Course हो उसके लिए एक आवश्यक योग्यता जरुर होती है

D.Ed करने के लिए जो योग्यता निर्धारित की गई है वह आपके पास होना चाहिए। उसके बाद आप D.Ed Course कर सकते है

आइये जानते है D.Ed करने की क्या योग्यता है

Qualifications

qualifications

D.Ed करने के लिए आपको बारहवीं कक्षा में 50% से पास होना अनिवार्य है। Sc, St के लिए यह 45% हो सकते है।

Age

age

D. Ed Course के लिए Minimum Age 17 साल और Maximum Age 35 साल हो सकती है। 

D. Ed के लिए Apply कैसे करे (How To Apply for D.ed)?

how to do D.Ed

D.Ed करने के लिए आपको कुछ Exams से गुजरना होगा जिसके बाद ही आपको College में Admission मिल सकता है।

D.Ed करने के लिए बहुत से कॉलेज में Entrance Exam ली जाती है जो इस Exam में पास हो जाते है उनकी Counseling होती है और उन्हें Percentage के आधार पर कॉलेज मिलता है।

इस Course में आप Entrance Exam के बिना भी Admission ले सकते है। इसके लिए आपको Counselling का Form डालना होता है। Counseling में 12th के Marks के आधार पर आपको College मिलेगा।

D.Ed करने के बाद School में पढ़ाने के लिए Teacher Eligibility Test या Central Teacher Eligibility Test (CTet) को Clear करना होता है। CTet Central Level Course है। इसे पास करने के बाद आप India में किसी भी School में 1st To 8th Class के बच्चों को पढ़ा सकते है।

एक State Level की Exam (Tet) होती है जिसे Clear करके आप किसी Particular State के किसी भी School में 1st To 8th तक के बच्चों को पढ़ा सकते हैं।

CTet और Tet के दो Paper होते है। पहला Paper पास करने के बाद आप 1st से 5th Class तक पढ़ा सकते है और दूसरा Paper पास करने के बाद आप 6th से 8th Class तक पढ़ाने योग्य हो जाते है।

B.Ed Kya Hai (B.Ed Course Details)

D.Ed Course के बारे में जानने के बाद अब जानते है B.Ed क्या होता है और B.Ed Kaise Karte Hai

B ed pattern

Government स्कूल में Teacher बनने के लिए आपको B.Ed Course करना होगा। B.Ed Ka Full Form “Bachelor Of Education” है। सरकार के द्वारा घोषणा की गई है की 2020 तक Private Teacher हो या Government Teacher दोनों के लिए B.Ed की Degree होना ज़रुरी है। B.Ed एक Post Graduate Course है। इस कोर्स को आप तभी कर सकते है जब आपका Graduation पूरा हो जाता है।

B.Ed Course Kaise Kare How to get admission for B.Ed?

what is b.Ed

B.Ed करने के लिए आपको सबसे पहले एक Entrance Exam देनी होती है जो Candidate Exam में पास हो जाते है उनकी Counselling की जाती है। Counselling  में Candidate को Rank के अनुसार College मिलते है। कुछ राज्यों में Graduation के प्रतिशत के आधार पर B.Ed में Admission दिया जाता है। तो कुछ राज्यों में B.Ed Entrance Exam कराई जाती है 

आप किसी भी Government और Private College से B.Ed कर सकते है यह परीक्षा जून-जुलाई महीने में आयोजित की जाती है और B.Ed Ki Pariksha होने के कुछ समय पहले ही B.Ed Exam Time Table घोषित कर दिया जाता है Candidate जो English Medium College में Admission चाहते है उन्हें B.Ed Cet Exam देना होती है B.Ed की Exam के 2 महीने बाद B.Ed Ka Result घोषित कर दिया जाता है 

दोस्तों अब जानते है की आपको B.Ed Karne Ke Liye Kya Karna होगा

B.Ed Ke Liye Qualification

qualifications

B.Ed करने के लिए किसी भी Subject में Graduation होना ज़रुरी है। आप किसी भी Subject में Graduation करने के बाद यह Course कर सकते है।

B.Ed Karne Ke Liye Kitne Percentage Chahiye

percentage

B.Ed Ka Course करने के लिए आपको कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ Graduation पास होना चाहिए और Graduation Recognized University से किया हो।

B.Ed Ke Liye Age Limit

age

B.Ed करने के लिए आपकी Age 21 से 28 साल होना चाहिए।

B.Ed Kitne Saal Ka Course Hai

years

B.Ed 2 साल का Course है। अगर आप यह 2 साल का Course कर लेते है तो आप School में शिक्षक के रूप में छात्रों को पढ़ा सकते है। 

B.Ed Ki Fees Kitni Hai

fees

B.Ed Ki Fees वैसे तो College पर Depend करती है की आप कौन से College से B.Ed कर रहे हो Government या Private लेकिन सामान्यतः B.Ed Ki Fees 20,000 से 50,000 रुपए तक होती है

B.Ed Me Kitne Subject Hote Hai (B.Ed Ka Syllabus)

दोस्तों अगर आप B.Ed करना चाह रहे है तो आपने सोचा तो ज़रुर होगा की B.Ed में आपको कौन से Subjects पढ़ने होंगे। 

तो आइये जानते है…

b ed exams

B.Ed Me Kon Kon Se Subject Hote Hai

  • Education, Culture And Human Values (शिक्षा संस्कृति और मानव मूल्य)
  • Educational Evaluation And Assessment (शैक्षिक मूल्यांकन और आकलन)
  • Educational Psychology (शैक्षणिक मनोविज्ञान)
  • Guidance And Counselling (मार्गदर्शन और परामर्श)
  • Holistic Education (समग्र शिक्षा)
  • Philosophy Of Education (शिक्षा का दर्शन)

तो B.Ed Ki Padhai करने के लिए आपको यह सारे B.Ed Ke Subject पढ़ने होंगे

B.Ed Karne Ke Fayde (Benefits)

अगर आपने इस Course को करने के बारे में सोचा है तो इससे मिलने वाले फ़ायदे भी आप जरुर जान लीजिये।

तो आगे हम बात कर रहे है B.Ed Ke Fayde क्या है

b ed teaching

  • B.Ed करने के बाद आप किसी भी Government या Private School में Teacher बन सकते है।
  • यह एक सम्मान-जनक नौकरी है। जिसमें आपको सम्मान प्राप्त होता है।
  • यह Course हमारी Skills को Develop करता है और Teaching के लिए हमारी समझ को बढ़ाता है, जिससे की Teachers Students को बेहतर शिक्षा दे सके।
  • B.Ed करके Teaching से Job Security और High Earnings होती है।
  • B.Ed करने के बाद Students, Indian Universities में M.Ed कर सकते है।
  • आप अपनी खुद की Coaching Classes भी Start कर सकते है।

तो यह थे वो फ़ायदे जो आपको B.Ed Course करने के बाद मिलेंगे।

B.Ed Ke Bad Kya Kare (Career And Jobs)

careerjobs

B.Ed Ke Exam पास करने के बाद आपके सामने सुनहरे भविष्य के बहुत सारे रास्ते खुल जाते है

तो आइये जानते है B.Ed Ke Baad आप क्या कर सकते है और कौन सी Field में अपना Career बना सकते है

  • Education Consultant
  • School Teachers
  • Education Researchers
  • Counselor
  • Content Writer
  • Instructor
  • Private Tutor
  • Online Tutor
  • Principal
  • Vice Principal

B.Ed Vs D.Ed – Which Course Is Better?

यह दोनों Courses Teaching Profession से सम्बन्ध रखते है लेकिन फिर भी इन दोनों में कुछ अंतर पाए जाते है।

तो आखिर क्या है वो अंतर जो दोनों ही Teaching Profession Courses होते हुए भी एक-दूसरे से अलग है।

Difference Between B.Ed And D.Ed In Hindi

comparison

  • B.Ed Graduation के बाद किया जाता है और D.Ed को 12 Th पास करने के बाद भी किया जा सकता है।
  • यदि आप B.Ed करते है तो इसमें Vacancy ज्यादा निकलती है, लेकिन D.Ed के लिए इतनी Vacancies नहीं निकलती।
  • B.Ed करने के बाद अगर आप Teacher बनते है तो आपकी Salary अधिक होती है। D.Ed की Salary B.Ed से कम होती है।
  • B.Ed करने के बाद आप 12 Th Class तक के Students को पढ़ा सकते है और D.Ed करने के बाद आप सिर्फ 8th तक के Students को ही पढ़ा सकते है। 

B.Ed और D.Ed दोनों ही Degree की अपनी-अपनी ख़ासियत है। अगर आप दोनों में से किसी एक Course को चुनना चाहते है अपने Career के रूप में तो जिन्हें छोटे बच्चों को पढ़ाना पसंद है और जो Teaching को ज्यादा समय नहीं दे सकते उनके लिए D.Ed Course बेहतर होता है और जिन्हें 12th Class तक के Students को पढ़ाना पसंद है और जो Teaching Profession के लिए Serious है उनके लिए B.Ed Course करना बेहतर है।

Conclusion

यदि आप शिक्षक बनकर देश का उज्जवल भविष्य बनाना चाहते है तो आप B.Ed Course अवश्य करे। जिसमें यह Post आपकी पूरी तरह से मदद करेगी।jobs

तो यहाँ आपने B.Ed Course करने के बारे में Full Information प्राप्त की।

जिसमें आपने जाना…

  • B.Ed / D.Ed Course क्या होता है। 
  • B.Ed कैसे करे और इस Course के क्या फ़ायदे है। 
  • आपने यह भी जाना की B.Ed करने के बाद आप क्या कर सकते है। 

इसके साथ ही B.Ed से जुड़ी वो सभी जानकारी आपको यहाँ पर दी गई है जो B.Ed Course करने के लिए संपूर्ण है।

तो दोस्तों ऊपर बतायी गई B.Ed / D.Ed Course की Full Information पर आपकी क्या राय है मुझे Comment Box में Comment करके बताए और इस Post को Social Media Sites जैसे Facebook, Whatsapp, Instagram पर अपने दोस्तों के साथ  Share करना ना भूले

Thank You.

People reacted to this story.
Show comments Hide comments
Comments to: B.Ed / D.Ed Course Kaise Kare पूरी जानकारी हिंदी में – Which One Is Better-B.Ed OR D.Ed ?
  • June 4, 2019

    Madam agr graduation m 50 persant na ho thode km ho jase 49 persant to kya b.ed nhi kr skte. .plz reply

    Reply
    • June 5, 2019

      जी नहीं, आपके ग्रेजुएशन में कम से कम 50% Marks होने चाहिए!

      Reply
  • June 26, 2019

    Maine Bihar SE isi sal graduation pas Kiya hai main B.ed isi sal Bihar SE kar sakta hun

    Reply
    • June 27, 2019

      जी हाँ बिलकुल कर सकते है लेकिन B.Ed करने के लिए आपको सबसे पहले एक प्रवेश परीक्षा देनी होती है। उसके बाद काउंसलिंग की जाती है। काउंसलिंग में उम्मीदवार को रैंक के अनुसार कॉलेज मिलते है।

      Reply
Write a response

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Attach images - Only PNG, JPG, JPEG and GIF are supported.

नयी जानकारियों को सबसे पहले पाने के लिए "I Accept" पे क्लिक करें।