आज कल हर किसी व्यक्ति को कभी न कभी पैसों की आवश्यकता ज़रूर पड़ती है। चाहें वह अपने काम को आगे बढ़ाने में हो या फिर अपना खुद का मकान लेना हो या कोई अन्य काम हो ऐसी स्थिति में हमें पैसों की बहुत आवश्यकता पड़ती है। इसी ज़रूरत को पूरा करने के लिए हम बैंक या किसी अन्य संस्था से लोन लेते है। आज कल अधिकतर बैंक व्यक्ति के काम के अनुसार अलग-अलग तरह लोन उपलब्ध करवाती है। जिसे बाद में व्यक्ति EMI के रूप में चुकाता है।

ईएमआई का अर्थ बहुत ही सरल और साधारण है। EMI यानि किस्तों में लिए हुए पैसों को जमा करना है। जैसे आप किसी बैंक या संस्था से लोन लेते है या किसी शो-रूम से कोई सामान खरीदते है। तो उस लिए हुए पैसे या उस सामान के पैसों को आपको उन्हें वापस EMI के रूप में देना होते है। अगर आप EMI से जुड़ी जानकारी जैसे- ईएमआई क्‍या होती है, EMI Par Phone Kaise Le और EMI Par Laptop Kaise Kharide के बारे में जानना चाहते है तो हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

EMI Kaise Nikale

EMI Kya Hai (ईएमआई क्‍या है)

EMI Ka Meaning एक समान रूप से किस्तों का होना होता है। अगर आप बैंक से कोई लोन लेते है तो बैंक वह पूरा पैसा आपको एक बार में दे देती है। या अगर आप कोई सामान ले रहे है तो उसका पूरा पैसा दे देती है। लेकिन आपको यह पूरा पैसा बैंक को एक साथ नहीं देना होता है। बैंक आपकी सहूलियत के लिए इस पैसे को किस्तों में विभाजित कर देती है अपना ब्याज़ जोड़ कर। आपको बस उन किस्तों को हर महीने भरना होता है। जिससे आपके द्वारा लिए गए लोन के पैसे धीरे-धीरे करके खत्म हो जाते है।

EMI Ka Full Form:

EMI का फुल फॉर्म – Equated Monthly Installment होता है !

EMI Ka Full Form In Hindi:

ईएमआई का पूर्ण रूप हिंदी में – मासिक किस्त होता है !

EMI Kaise Nikale

अब आपको EMI के बारे में तो पता चल गया होगा, कि यह एक मासिक किस्त होती है। लेकिन क्या आपको पता है की ईएमआई गणना और ईएमआई कैलकुलेटर किस तरह की जाती है। नहीं पता है तो परेशान ना होए हम आपको बताते है इसके बारे में-

मान ले कि आपने किसी बैंक से 5,00,000 रूपये का लोन लिया है 24 महीनों के लिए और उस बैंक की ब्याज़ दर 10% है, तो अब आपके 5,00,000 के लोन की मासिक किस्त 20,833 रुपए निकलेगी और इस पर बैंक का हर महीने का ब्याज 2,238 रूपए लगेगा। जिससे अब आपके लोन की मासिक किस्त 23,072 रुपए की आएगी। जो आपको 24 महीने तक भरना होगी। ईएमआई गणना सूत्र समझने के लिए EMI Kaise Banaye की वेबसाइट emicalculator.net पर जाए।

EMI Par Bike

अगर आप ईएमआई पर बाइक, EMI Par Car या EMI Par Scooty Kaise Le के बारे में सोंच रहे है तो यह कोई ज़्यादा मुश्किल काम नहीं है। इसके लिए बस आपके पास अपने कुछ ज़रुरी दस्तावेज़ और कुछ पैसे चाहिए होते है। आगे हम आपको बाइक लेने की जानकारी देने जा रहे है। उसी तरह आप कार और स्कूटी भी ले सकते है।

सबसे पहले आपको अपनी सिटी के बाइक शो-रूम पर जाना होगा। वहाँ आपको कई Bikes दिख जाएगी, आपको अपनी पसंद की Bike का चुनाव कर लेना है। उसके बाद आपको वहीं पर बहुत से एजेंट मिल जायेगा। आप उनसे जाकर मिले वह आपको Bike की सारी जानकारी और EMI पर बाइक लेने की सारी जानकारी दे देंगे।

अगर आप Bike लेना चाहते है तो वह आपसे कुछ दस्तावेज़ माँगेगे, जैसे- पहचान पत्र, एड्रेस प्रूफ, बैंक की जानकारी, बैंक चेक़ आदि। अब कुछ प्रक्रिया के बाद आपको Bike के लिए कुछ डाउन पेमेंट देना होगा। उसके कुछ समय बाद आपको आपकी पसंद की बाइक EMI पर दे दी जाएगी। तो इस तरह आप आसानी किसी भी शहर के किसी भी बाइक शो-रूम से EMI पर बाइक ले सकते है।

EMI Par Ghar

अगर आप होम लोन लेकर अपना घर बनाना चाहते है तो इसके लिए आपको होम लोन से जुड़ी आवश्यक जानकारी होना चाहिए। यदि आपको इसकी जानकारी नहीं है तो परेशान ना होए इसके बारे में आगे पूरी जानकारी दी गयी है।

होम लोन के लिए आपके पास कुछ दस्तावेज़ का होना ज़रूरी है जैसे- पहचान प्रमाण, पता प्रमाण, पेन कार्ड, आय प्रमाण पत्र, 6 महीने पुराना बैंक अकाउंट, बैंक स्टेटमेंट, पासपोर्ट फोटो, प्लॉट रजिस्ट्री और गवा आदि। अब आप जिस भी बैंक से होम लोन लेना चाहते है उसकी ब्याज दर पता कर लें, क्योंकि हर बैंक की ब्याज दर अलग-अलग होती है। सामान्यतः यह ब्याज दर 8.30% से लगाकर 13.50% तक होती है।

अब आपको अपने सभी दस्तावेज़ ले जाकर बैंक में होम लोन के लिए अप्लाई करना है। इस प्रक्रिया में कुछ समय लगता है। जिसमे बैंक आपकी प्रॉपटी को चेक करती है और फिर उसी आधार पर आपका होम लोन पास करती है। होम लोन देने पर बैंक आपकी प्लॉट रजिस्ट्री अपने पास सिक्योरिटी के लिए रख लेती है। तो इस तरह आप ईएमआई पर अपना घर बना सकते है और अधिक जानकारी के लिए अपने आस-पास की बैंक से संपर्क करें।

ईएमआई का आकलन कैसे करे

ईएमआई की गणना और आकलन करने की लिए सबसे पहले आपको अपने फोन या कंप्यूटर में emicalculator.net वेबसाइट ओपन करना होगी। इस वेबसाइट में आपको तीन ऑप्शन दिखेंगे, जैसे- होम लोन, पर्सनल लोन और कार लोन आप यहाँ से जिस तरह का लोन ले रहे है उसकी गणना कर सकते है। हम आपको एक पर्सनल लोन की गणना करके बताएँगे तो चलिए जानते है EMI Kaise Check Kare.

EMI कैलकुलेटर की वेबसाइट ओपन हो जाने के बाद Personal Loan वाले टैब को सलेक्ट करे।

  • Personal Loan Amount – इसमें आपने जितने भी पैसे का लोन लिया है उतना अमाउंट दर्ज करना है।
  • Interest Rate – इसमें आपको बैंक की ब्याज़ दर को भरना है।
  • Loan Tenure – यहां आपको अपने लोन की समय अवधि को दर्ज करना है।

जैसे ही आप यह सब जानकारी दर्ज करेंगे आपको नीचे के ग्राफ़ में Loan EMI, Total Interest Payable और Total Payment के बारे जानकारी मिल जाएगी, जैसे-

उदाहरण: Personal Loan

  • Personal Loan Amount – 3,50,000
  • Interest Rate – 7.5
  • Loan Tenure – 3 Year

तो अब आपको लोन EMI के 10,887 रूपए महीने के भरने होंगे जिसमें कुल ब्याज 41,938 रूपए होगा तथा अब आपको मूलधन और ब्याज मिलाकर कुल 3,91,938 रूपए भरना है।

अब आपको EMI Kaise Nikalte Hain के बारे में पता चल गया होगा इस तरीके से आप अपने लोन की गणना आसानी से कर सकते है।

ईएमआई भुगतान क्‍या है (ईएमआई भुगतान करने के तरीक़े)

EMI पर लोन लेने की जानकारी हमने आपको दे दी है। अब बात आती है लोन लेने के बाद उसकी EMI किस तरह भरी जाए। तो इसके मुख्यतः दो तरीक़े है। जिसकी पूरी जानकारी हम आपको नीचे दे रहे है।

ऑनलाइन ईएमआई भुगतान

इस तरीक़े में आपको लोन देते समय आपसे साइन किए हुए चेक लिए जाते है या फिर आपके डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड की जानकारी ली जाती है। जिससे हर महीने आपके बैंक अकाउंट से आपके लोन की ईएमआई काट ली जाती है।

ऑफलाइन ईएमआई भुगतान

ऑफलाइन तरीक़े में आपको लिए हुए लोन की ईएमआई बैंक या जिस संस्था से आपने लोन लिया है। वहाँ जाकर हर महीने ईएमआई के पैसे जमा करना होते है या फिर आपने जिस जगह से लोन लिया है उस संस्था का कोई एजेंट आपके पास आ कर हर महीने की ईएमआई ले कर जा सकता है।

Conclusion:

EMI एक ऐसी प्रक्रिया है जिसकी मदद से आप एक बड़े अमाउंट को बैंक या अन्य किसी संस्था से लोन के रूप में ले सकते है और अपने ज़रूरी काम को पूरा कर सकते है तथा उस बड़े अमाउंट को EMI के रूप में धीरे-धीरे करके वापस कर सकते है। यह प्रक्रिया आम व्यक्तियों के लिए बहुत ही लाभकारी और उपयोगी है क्योंकि इसी की वजह से वह अपने सपनों को पूरा कर पाते है। आज के इस लेख में हमने आपको EMI Ke Liye Kya Chahiye, EMI Par Mobile Kaise Le आदि सभी ईएमआई के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी से अवगत करवाया। अगर आपको आज की पोस्ट EMI Ke Bare Me Jankari पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले, धन्यवाद!

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here