Home » Technology » RTGS Kya Hai – RTGS Full Form एवं RTGS फॉर्म कैसे भरे।

RTGS Kya Hai – RTGS Full Form एवं RTGS फॉर्म कैसे भरे।

RTGS Full Form “Real Time Gross Settlement” होता है जिसका उपयोग एक बैंक से दूसरे बैंक में पैसे Transfer करने के लिए किया जाता है। जैसा कि इसके नाम से ही समझ आ रहा है कि इसके जरिये आप रियल टाइम में पैसा एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में सुरक्षित रूप से ऑनलाइन भेज सकते है। यदि आप RTGS Kya Hai व RTGS Form Kaise Bhare की जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो यहां आपको RTGS का फुल फॉर्म (RTGS Full Form in Hindi) एवं आरटीजीएस करने का तरीका क्या होता है यह सब के बारे में बताया गया है।

[toc]

RTGS Kya Hai

RTGS Kya Hai (What Is RTGS In Hindi)

आरटीजीएस (RTGS) पैसे Transfer करने की सबसे तेज़ सर्विस है। RTGS से आप एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में पैसा ऑनलाइन पैसे भेज सकते है वो भी किसी भी समय। आरटीजीएस का उपयोग बड़े फंड Transfer के लिए किया जाता है। इसमें फंड प्राप्त करने के 30 मिनट के अंदर ही बैंक को इसे अकाउंट में ट्रांसफर करना होता है। आरटीजीएस में न्यूनतम 5 लाख रूपये तक का फंड ट्रांसफर किया जा सकता है।

rtgs kya hai

और अगर किसी वजह से आपके द्वारा ट्रांसफर किये पैसे जिसे आपने भेजे थे उन तक नही पहुँच पाते है तो पूरा अमाउंट 2 घंटे में आपके अकाउंट में वापस आ जाता है। आरटीजीएस से 2 से 5 लाख रुपये तक का ट्रान्सफर करने पर 30 रुपये तक फ़ीस लगती है।

RTGS Kya Hota Hai? यह तो आप अच्छे से जान गए होंगे, चलिए अब आरटीजीएस का फुल फॉर्म क्या होता है (RTGS Full Form in Banking) व RTGS Cheque Kaise Bhare (RTGS Kaise Kare) के बारे में बताते है।

यह पोस्ट भी पढ़े: Bank Me Account Kaise Khole in Hindi? बैंक में खाता खोलने की पूरी जानकारी।

RTGS Full Form in Hindi

आरटीजीएस का पूरा नाम या RTGS Full Form – “Real Time Gross Settlement” होता है। हिंदी में RTGS Ka Full Form – “रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट” होता है।

RTGS Form Kaise Bhare

ऑफलाइन RTGS करने के लिए सबसे पहले बैंक जाकर RTGS का फॉर्म ले। फॉर्म में सबसे उपर RTGS/NEFT लिखा होता है, उनमें से आपको जो सिलेक्ट करना है उस पर टिक कर दे। अब फॉर्म पर जिस दिन को RTGS करनी है उसे दिनांक (Date) के ऑप्शन में लिख दे। चलिए अब आगे जानते है कि RTGS Form Kaise Bhara Jata Hai है –

स्टेप 1: Beneficiary

इसमें आपको खाता संख्या, खाता धारक का नाम, IFSC कोड और शाखा, रुपये के ऑप्शन मिलेंगे।

  1. खाता संख्या (Account Number) – अकाउंट नंबर में जिसे आपको पैसे भेजना या ट्रांसफर करना है उसका Account Number भरे।
  2. खाता धारक का नाम (Holder Name) – होल्डर नाम में जिसे आपको पेमेंट ट्रांसफर करनी है उसका अकाउंट जिस नाम से है वो भरे।
  3. आईएफएससी कोड (IFSC Code) – जिस ब्रांच में आपको पेमेंट ट्रांसफर करनी है और उसका IFSC कोड और ब्रांच नाम भरे।
  4. रूपये (Rupees) – इसमें आपको जितनी पेमेंट करनी है वो अमाउंट भरे।

स्टेप 2: Detail of Applicant

इस ऑप्शन में भी आपको आवेदक की Detail भरनी है।

  1. खाता संख्या (Account Number) – Account Number में आपको आपका Account Number टाइप करना है।
  2. खाता धारक का नाम (Account Holder Name) – इसमें आपका Bank Account जिस नाम से है वो नाम भरे।
  3. रूपये (Rupees) – Rupees में अपनी Payment Amount भरे।
  4. मोबाइल नंबर (Mobile Number) – इसमें अपना Mobile Number टाइप करे।

स्टेप 3: RTGS Cheque Kaise Bhare

चेक जो RTGS करने के लिए आवश्यक होता है उस पर 2 ऑप्शन होते है; एक रूपये (Rupees) और दूसरा नाम (Name)।

  • नाम (Name) – इस पर आपको Your Self लिखना है।
  • रूपये (Rupees) – इसमें आपको में Payment Amount भरना होगा।

अब Cheque पर अपने Signature कर दे, अब ये Cheque और फॉर्म अटैच करके आप बैंक ऑफिसर को दे दे आपकी आरटीजीएस हो जाएगी।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: SBI Cash Deposit Machine Kya Hai – SBI Cash Deposit मशीन कैसे Use करें!

RTGS Kaise Karte Hain

आप Internet Banking का उपयोग करके RTGS कर सकते है। इसके अंदर आपको जिसे Fund Transfer करना है उसे Payee तथा Beneficiary Customer के रूप में अपने Account में Add करना होता है, जहाँ आपको उस Customer के बारे में सभी जानकारी दर्ज करना होती है। और उसके बाद में बैंक उस Beneficiary की डिटेल्स को चेक करता है, इस काम के लिए Bank को Beneficiary की Detail Check करने में 12-24 घंटे का समय लगता है।

बैंक के द्वारा जब चेकिंग की प्रोसेस पूरी हो जाती है तब बैंक के द्वारा Beneficiary Customer को Activate कर दिया जाता है। जिसके बाद आप उस Beneficiary Customer को Fund Transfer कर सकते है। किसी भी व्यक्ति को अपने Bank Account में Beneficiary अथवा Payee के रूप में Add करने के लिए आपके पास Beneficiary Customer की कुछ इनफार्मेशन का होना जरूरी होता है नहीं तो आप अपने इंटरनेट बैंकिंग द्वारा उसे Beneficiary के रूप में Add नहीं कर सकते।

  • बैंक और बैंक ब्रांच का नाम
  • नाम और अकाउंट नंबर
  • उनके बैंक का IFSC कोड

RTGS करने के लिए ज़रूरी चीजे

RTGS के माध्यम से पैसे Transfer करने के लिए आपके पास इन सभी चीजों की आवश्यकता होगी:

  • बैंक का नाम (Bank Name)
  • बैंक अकाउंट नंबर (Bank Account Number)
  • ब्रांच का नाम (Branch Name)
  • आईएफएससी कोड (IFSC Code)

Difference Between RTGS And NEFT In Hindi

  • NEFT द्वारा Transfer किया गया पैसा दूसरे अकाउंट में कुछ घंटो बाद पहुँचता है। जबकि RTGS द्वारा ट्रांसफर किया गया पैसा तुरंत पहुँच जाता है।
  • NEFT में आप एक रुपये से लेकर ज्यादा से ज्यादा कितने भी रुपये ट्रांसफर कर सकते है RTGS में कम से कम 2लाख और अधिकतम आप जितने चाहे ट्रांसफर कर सकते है।
  • RTGS करने की Time Limit सुबह 8:00 बजे से लेकर शाम 4:30 बजे तक की होती है और NEFT में पैसा ट्रांसफर करने की Time Limit सुबह 8:00 बजे से लेकर शाम 7:00 बजे तक की होती है।

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: NEFT Kya Hai? NEFT Kaise Use Kare – जानिए NEFT Se Paise Kaise Transfer Kare हिंदी मे!

Conclusion

आज की पोस्ट में आपको RTGS Kya Hai व RTGS Kaise Hota Hai की जानकारी मिली, उम्मीद है दी गयी जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी। अगर दी गयी जानकारी आपको पसंद आयी हो तो RTGS Form Kaise Bhare को अपने सोशल मीडिया अकाउंट एवं दोस्तों के साथ जरूर शेयर। Meaning Of RTGS In Banking Terms In Hindi एवं RTGS In Hindi की जानकारी आपको कैसी लगी हमें Comment करके ज़रुर बताये और अगर आपके कोई सवाल या सुझाव हो तो वो भी आप हमे कमेंट करके बता सकते है।

FAQs

  • RTGS द्वारा कितना पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं?

आरटीजीएस (RTGS) से पैसे ट्रांसफर करने की लिमिट अब एक दिन में 2 लाख रुपये के बजाय 5 लाख रुपये हो गयी है।

  • RTGS ट्रांसफर में कितना समय लगता है?

RTGS द्वारा बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर करने के 30 मिनट के भीतर पैसे लाभार्थी के खाते में क्रेडिट हो जाते है।

  • भारत में आरटीजीएस की शुरुआत कब हुई?

RTGS की सेवा भारत में 26 मार्च 2004 को सर्विस शुरू की गई थी, हालांकि पहले ये सुविधा केवल 4 बैंकों में ही थी पर अब यह सेवा लगभग सभी बैंक्स द्वारा प्रदान की जा रही है।

इन्हें भी पढ़े:

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 4.8 / 5. Vote count: 188

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

एडिटोरियल टीम

एडिटोरियल टीम, हिंदी सहायता में कुछ व्यक्तियों का एक समूह है, जो विभिन्न विषयो पर लेख लिखते हैं। भारत के लाखों उपयोगकर्ताओं द्वारा भरोसा किया गया।Email के द्वारा संपर्क करें - [email protected]

Leave a Comment