विज्ञापन
विज्ञापन

RTO Officer Kaise Bane – RTO ऑफिसर बनने की पूरी जानकारी।

विज्ञापन
विज्ञापन

क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (RTO) एक सरकारी संगठन है जो वाहनों के पंजीकरण, ड्राइवर लाइसेंस जारी करने, मोटर बीमा, और परिवहन वाहनों को फिटनेस का अनुदान प्रमाण पत्र देने आदि कार्यों के लिए जिम्मेदार है। यह भारत में उच्च प्रतिष्ठित सरकारी नौकरियों में से एक है। बहुत से छात्र RTO ऑफिसर बनने का ख्याब देखते है अगर आप भी RTO Officer Kaise Bane के बारे में जानना चाहते है तो आप बिलकुल सही जगह है।

RTO एक ग्रेड-बी प्रकार का अधिकारी होता है जिनकों अच्छे वेतन के साथ विभिन्न सुविधाएं प्राप्त होती है। वे उम्मीदवार जो आरटीओ अधिकारी बनने की चाह रखते है, उनका किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक उत्तीर्ण होना आवश्यक है। इतना ही नहीं आपको आरटीओ ऑफिसर क्या होता है (RTO Officer in Hindi), RTO Office Me Job Kaise Paye या आरटीओ कैसे बनते हैं? इससे जुड़ी सभी आवश्यक बातों के बारे में पता होना चाहिए।

विज्ञापन
विज्ञापन

RTO Kya Hai

RTO यानी क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय भारतीय सरकार का संगठन होता है। जिनका काम अपने क्षेत्र में वाहनों और ड्राइविंग लाइसेंस के डेटाबेस को बनाए रखना है। ये भारत के विभिन्न राज्यों के लिए वाहनों के डेटाबेस को बनाये बनाए रखने के लिए जिम्मेदार होते है। और इन कार्यालयों में जिनके पास वाहनों और ड्राइविंग लाइसेंस के डेटाबेस को बनाए रखने की जिम्मेदारी होती है वे RTO Officer कहलाते है।

कई प्रकार के वाहन दस्तावेज जैसे- बीमा, वाहन पंजीकरण, लाइसेंस, फिटनेस, परमिट, कर, प्रदूषण परीक्षण आदि सत्यापन के बाद, जिसके द्वारा इन्हे पारित किया जाता है वो आरटीओ अधिकारी होता है।

RTO Officer In Hindi

RTO Officer फुल फॉर्म इन हिंदी

RTO Full Form – “Regional Transport Officer” होता है जिसका हिंदी में पूरा नाम (RTO Full Form in Hindi) – “क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी” होता है।

अब सबसे जरुरी जानकारी जो है आरटीओ ऑफिसर कैसे बने, आईये जानते है इस बारे में।

यह भी देखे: Income Tax Officer Kaise Bane – क्वालिफिकेशन, परीक्षा, सैलरी।

RTO Officer Kaise Bane

अगर आप आरटीओ अधिकारी बनना चाहते है, तो उसके लिए आपके पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री होनी चाहिए। लेकिन आरटीओ पद के लिए कोई सीधी भर्ती नहीं है। उम्मीदवारों को पहले ARTO या MVI जैसे निम्न स्तर के पद पर कार्य करना होता है और कुछ अनुभव प्राप्त करने के बाद और कार्य प्रोफ़ाइल के आधार पर उन्हें RTO Officer बनने के लिए पदोन्नति मिलती है।

RTO Office में तीन तरह की पोस्ट होती है जिन पर सभी चरणों को सफलतापूर्वक उत्तीर्ण होने के बाद, उम्मीदवारों को तैनात किया जाता है।

  • Clerical Or Clerk Post
  • Sub Assistant Engineer Post
  • Judicial Post

तो इन 3 पदों पर आप RTO Office में काम कर सकते है।

RTO Ke Liye Qualification

गाड़ियों का जो पंजीकरण किया जाता है वह भारतीय सरकार के एक विभाग के द्वारा होता है और वो है आरटीओ। और एक आरटीओ अधिकारी बनने के लिए उम्मीदवारों को इन पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा।

RTO बनने के लिए Qualification

  • उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं या इसके समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • उम्मीदवारों को मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से किसी भी विषय में स्नातक (Graduation) में उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • डिप्लोमा वाले उम्मीदवार भी कुछ पद के लिए पात्र है।

RTO Age Limit

RTO Officer के लिए आयु सीमा लगभग 21 से 30 साल तक के बीच होना चाहिए। OBC वर्ग के उम्मीदवारों के लिए इसमें 3 साल तक की छूट है। जबकि SC/ST के आवेदकों को 5 साल की छूट मिलती है।

आरटीओ ऑफिसर कैसे बनते हैं

आरटीओ (RTO) ऑफिसर बनने के आपको राज्य सरकार द्वारा आयोजित PSC (पब्लिक सर्विस कमीशन) उत्तीर्ण करना होगी। इस परीक्षा में शामिल होने के लिए उम्मीदवार का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से ग्रेजुएशन होना चाहिए। आरटीओ परीक्षा को तीन चरणों (लिखित परीक्षा, फिजिकल फिटनेस टेस्ट, और साक्षात्कार) में बांटा गया है।

Written Exam

सबसे पहले आपकी लिखित परीक्षा होती है। पेपर में कुल 200 अंक होते है जिन्हे हल करने के लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है। इसमें आपसे इन विषयों पर विभिन्न तरह के प्रश्न पूछे जाते है।

  • राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय वर्तमान घटनाक्रम (National And International Current Events)
  • भारत का इतिहास (History Of India)
  • भूगोल (Geography)
  • आर्थिक और सामाजिक विकास (Economic And Social Development)
  • पर्यावरण और पारिस्थितिकी (Environment And Ecology)
  • सामान्य विज्ञान (General Science)
  • अंग्रेजी भाषा (English Language)

Physical Test

लिखित परीक्षा के बाद आपका फिजिकल फिटनेस टेस्ट होता है। इसमें आपका शारीरिक रूप से फिट होना आवश्यक होता है।

Interview

दोनों एग्जाम को पास करने के बाद आपका इंटरव्यू होगा। जिसमें आपकी बुद्धि, क्षमता, मूल्यों और गुणों के आधार पर आपको जांचा जाता है और आपसे कुछ सवाल किये जाते है। इसमें पास होने के बाद आपको RTO Officer पद के लिए चुन लिया जाता है और ट्रेनिंग पूरी हो जाने के बाद नियुक्ति पत्र प्रदान कर दिया जाता है।

विज्ञापन
विज्ञापन

इसे भी पढ़े: Loco Pilot Kaise Bane – लोको पायलेट के लिए योग्यता और सिलेबस!

RTO Officer Exam Ka Syllabus

आरटीओ की परीक्षा देने के लिए इसका Syllabus पता होना ज़रुरी है। इससे आपको केवल वही विषय पढ़ना होंगे जो कि परीक्षा में पूछे जाते है।

  • सामान्य ज्ञान
  • सामान्य राज्य भाषा
  • वैकल्पिक विषय
  • सामान्य अंग्रेजी
  • सामान्य अध्ययन

यह है वो Syllabus जो आपको RTO Officer Banne Ke Liye पढ़ने होंगे।

चाहे कोई सी भी नौकरी हो हम सबसे पहले उसकी सैलरी जानना चाहते है की इस नौकरी से हमें कितनी सैलरी प्राप्त होगी। आपके मन भी यह सवाल तो ज़रुर आया होगा की RTO Officer को कितना वेतन मिलता है? तो आईये जानते है इस बारे में।

RTO Officer Ki Salary

आरटीओ अधिकारी की सैलरी में बहुत सी रैंक शामिल होती है और उसी RTO Officer Rank के अनुसार उनका वेतन अलग-अलग होता है। RTO Officer की Salary शुरुआत में 20,000 से 40,000 रूपये मासिक तक हो होती है जो कि अनुभव, समय एवं प्रमोशन के साथ बढ़ती जाती है।

यदि आप RTO Officer बनने के लिए मेहनत कर रहे है तो आपको इसकी तैयारी पर पूरी तरह से फोकस करना होगा।

RTO Ki Taiyari Kaise Kare

RTO की परीक्षा पास करने के लिए आपको इसकी तैयारी पर ध्यान देना होगा। किस तरह से आपको इस परीक्षा की तैयारी करनी है यह हम आगे जानते है।

  • आपको खुद को सामयिक घटनाओं (करंट अफेयर्स) से डेली अपडेट रखना होगा जिसके लिए आप न्यूज़ पेपर, मंथली मैगजीन आदि का सहारा ले सकते है।
  • अच्छी बुक्स का सिलेक्शन करें, जो पढ़ने में आसान और अच्छी हो।
  • परीक्षा के सिलेबस को अच्छे को देख ले, और उसी के अनुसार अपनी पढाई करें।
  • जिस विषय में आप कमजोर उस पर अधिक ध्यान दें।
  • पीछले वर्ष के पेपर को हल करें, इससे आपको परीक्षा में किस प्रकार के प्रश्न आते है यह जानने में आसानी होगी।
  • जिस भी विषय में आपको डाउट हो, उसे समय पर ही क्लियर कर लें।
  • डेली ऑनलाइन मॉक टेस्ट दें

अब हम जानेंगे कि RTO Officer को क्या कार्य करना होते है।

RTO के कार्य (RTO Works)

यदि आप भी RTO Officer बनना चाहते है तो आपके लिए जानना जरुरी है की RTO Officer क्या कार्य करते है –

Driving License

ड्राइविंग लाइसेंस RTO डिपार्टमेंट द्वारा दिया जाता है। Driving License प्राप्त करने के लिए ड्राइवर के कुछ टेस्ट होते है और उन टेस्ट को पास करने के बाद ही आरटीओ ऑफिसर उसे जारी करते है।

Vehicle Registration

जब भी कोई व्यक्ति नया वाहन खरीदता है तो उस वाहन पर कानूनी तौर से हक़ पाने के लिए उसका रजिस्ट्रेशन करना होता है। बिना नंबर प्लेट के गाड़ी चलाना गैरकानूनी होता है। किसी वाहन का रजिस्ट्रेशन करना RTO का कार्य होता है।

Pollution Test

RTO के द्वारा गाड़ियों का प्रदूषण स्तर का परीक्षण किया जाता है जो वाहन ज्यादा प्रदूषण करता है उनका लाइसेंस रद्द कर दिया जाता है।

Insurance

इंश्योरेंस का काम भी RTO ऑफिसर के द्वारा किया जाता है। यदि आपको अपनी गाड़ी का बिमा कराना है तो आपको आरटीओ ऑफिस जाना होगा।

एक नजर इस पर भी: Forest Guard Kaise Bane – वन विभाग में हाइट, योग्यता, वेतन व भर्ती प्रक्रिया।

Conclusion

इस लेख में आपने RTO ऑफिसर कैसे बने के बारे में संक्षेप में जाना, उम्मीद करता हूँ कि यहां मैने आपके सभी प्रश्नों के उत्तर दिए होंगे। अगर फिर भी कोई ऐसा प्रश्न जो इस में आपको नहीं मिला हो तो वह आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते है हम सही उत्तर के साथ आपसे जरूर मिलेंगे।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

  • आरटीओ बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

RTO बनने के लिए आपके पास ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए।

  • आरटीओ का फुल फॉर्म क्या है?

RTO का फुल फॉर्म रीजनल ट्रांसपोर्ट कार्यालय होता है।

  • आरटीओ का प्रमुख कौन होता है?

परिवहन आयुक्त RTO (क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय) का प्रमुख होता है।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 4.4 / 5. Vote count: 85

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

Default image
एडिटोरियल टीम

एडिटोरियल टीम, हिंदी सहायता में कुछ व्यक्तियों का एक समूह है, जो विभिन्न विषयो पर लेख लिखते हैं। भारत के लाखों उपयोगकर्ताओं द्वारा भरोसा किया गया।

Email के द्वारा संपर्क करें - [email protected]

Articles: 207

3 Comments

Leave a Reply