आजकल की बदलती जीवनशैली में बीमारियाँ होना सामान्य बात हो गई है। बदलती जीवनशैली का असर हमारे शरीर पर भी होता है जिससे शरीर कई तरह की बिमारियों से घिर जाता है। इनमें से एक बीमारी है Diabetes जो अभी लोगो में ज्यादा देखी जा रही है। तो इसके लिए आज हम आपको बताएँगे की Diabetes Kaise Khatam Kare

Diabetes Ke Karan शरीर में अन्य प्रकार की बीमारियाँ भी जन्म लेती है। इसका बुरा प्रभाव शरीर के सभी अंगों पर पड़ता है। यदि समय पर डायबिटीज़ का इलाज नहीं किया जाये तो यह जानलेवा भी हो सकती है। तो आगे आप जानेंगे की Diabetes Ke Kya Lakshan Hai जिससे आप समय पर डायबिटीज़ कंट्रोल कर पाएँगे।

Diabetes Kya Hai

जब रक्त में शुगर की मात्रा अधिक हो जाती है तो उसे डायबिटीज़ कहते है। डायबिटीज़ की बीमारी किडनी को बहुत प्रभावित करती है। डायबिटीज़ को हिंदी में मधुमेह कहते है। बड़ों के साथ ही यह बीमारी बच्चों में भी देखी जा रही है डायबिटीज़ के सबसे ज्यादा मरीज़ भारत में मौजूद है।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: Tumor Kya Hai? Brain Tumor Ke Lakshan क्या होते है? – जानिए Brain Tumor Se Kaise Bache के बारे में पुरे विस्तार से!

Diabetes Kaise Hota Hai

शरीर के पैंक्रियास में इंसुलिन जब कम मात्रा में पहुँचता है और जिस वजह से खून में ग्लूकोज बढ़ जाता है तो इससे डायबिटीज़ की बीमारी होती है। इंसुलिन हार्मोन शरीर की पाचक ग्रंथि से बनता है। इंसुलिन हार्मोन भोजन को उर्जा में परिवर्तित करता है। इस हार्मोन के द्वारा ही शुगर का स्तर कंट्रोल में रहता है और जब डायबिटीज़ होती है तो शरीर भोजन से ठीक तरह से उर्जा प्राप्त नहीं कर पाता है जिससे ग्लूकोज की अधिक मात्रा शरीर के कुछ अंगों को नुकसान पहुँचाने लगती है।

Pre Diabetes Kya Hai

यह टाइप 2 डायबिटीज़ होने से पहले की अवस्था होती है। Pre Diabetes के जो मरीज़ होते है उन्हें इसके लक्षण पता नहीं चलता है। इसमें व्यक्ति को डायबिटीज़ तो होती है लेकिन टेस्ट के समय इसका पता नहीं लगाया जा सकता है।

Gestational Diabetes Kya Hai

गर्भावस्था के समय जो डायबिटीज़ होती है उसे Gestational Diabetes कहते है। गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला के शरीर में बहुत से तरह के बदलाव होते है। जिससे ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ जाती है। इस अवस्था को Gestational Diabetes बोलते है।

जरूर पढ़े: Cancer Kya Hai? Cancer Kaise Hota Hai? – जानिए Cancer Ke Prakar और Cancer Se Bachne Ke Tarike की पूरी जानकारी हिंदी में!

Diabetes Ke Lakshan In Hindi

डायबिटीज़ होने पर शरीर में विभिन्न प्रकार के लक्षण दिखाई देते है। जिससे आप पता लगा सकते है की आपको डायबिटीज़ हुआ है।

  • डायबिटीज़ होने पर बाथरूम ज्यादा जाना यह इसका सबसे मुख्य लक्षण है।
  • आँखों पर भी इसका प्रभाव पड़ता है। नज़रें कमजोर हो जाती है और आँखों की रोशनी कम हो जाती है।
  • जब शरीर में शुगर की मात्रा ज्यादा हो जाती है तो भूख ज्यादा लगने लगती है और पेट भी भरा नहीं लगता है।
  • डायबिटीज़ होने पर स्किन समस्याएं भी होने लगती है जैसे- फोड़े-फुंसी, मुहाँसे होना आदि।
  • प्यास भी ज्यादा लगने लगती है।
  • अगर शरीर में कहीं चोट लग जाती है या घाव हो जाता है तो वह जल्दी नहीं भरता है।

तो अगर आपको इस प्रकार के डायबिटीज़ के लक्षण दिखाई दे तो तुरंत डॉक्टर से अपनी जाँच करवाए।

Diabetes Ke Nuksan

अगर आप डायबिटीज़ से ग्रस्त है तो आपको पूर्ण रूप से देखभाल की जरुरत है। डायबिटीज़ के कारण शरीर में बहुत से तरह के नुकसान होते है।

  • डायबिटीज़ से किडनी पर सबसे ज्यादा बुरा प्रभाव पड़ता है।
  • शरीर के विभिन्न अंगों पर इसका असर होता है।
  • पैरो में रक्त प्रवाह कम हो जाता है जिससे पैर कटने की समस्या बढ़ जाती है।
  • इससे दिल की बीमारियाँ होने का खतरा बढ़ जाता है और हार्ट अटैक भी आ सकता है।
  • आँखों में, ब्रेन में और दाँतों को भी इससे बहुत से नुकसान होते है।

Diabetes Kaise Check Karte Hain

आप Glucometer की मदद से घर पर भी डायबिटीज़ की जांच कर सकते है तो आईये जानते है Glucometer से डायबिटीज़ कैसे चेक करें।

  • सबसे पहले अपने हाथों को साफ़ पानी से धोकर अच्छे से पोछ लें।
  • Glucometer पर जो लेबल लगा है उसके निर्देश पढ़े और Glucometer तैयार कर लीजिये।
  • अब टेस्ट स्ट्रिप को मीटर में लगाये।
  • इसके बाद Lancing Device को अपनी ऊँगली पर लगाकर ब्लड की एक बूंद लेना है।
  • अब डिवाइस को Test Strip के पास में ले जाये और उस पर थोड़ा सा ब्लड बहुत ही कम मात्रा में Touch करे।
  • बस कुछ ही सेकंड में आपका Glucose Level मीटर पर Show हो जाएगा।

Diabetes Ke Gharelu Upchar

डायबिटीज़ को कम करने के लिए डायबिटीज़ का घरेलू उपचार भी किया जा सकता है। जिससे डायबिटीज़ कंट्रोल में की जा सकती है।

  • डायबिटीज़ से ग्रस्त मरीज़ के लिए जामुन खाना फ़ायदेमंद रहता है।
  • दालचीनी के पाउडर का इस्तेमाल करना भी शुगर लेवल को कंट्रोल में रखता है।
  • करेले का जूस डायबिटीज़ को नियंत्रित करने में काफी मदद करता है।
  • गाजर, चुकंदर, खट्टे फल शरीर से शुगर की मात्रा को कम कर देते है।

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: CT Scan Kya Hai? CT Scan Aur MRI Scan Kaise Hota Hai? – जानिए Difference Between MRI And CT Scan In Hindi!

Diabetes Ke Liye Dawai

नियमित तौर से अपना शुगर लेवल Check करवाते रहे और डॉक्टर की सलाह ज़रुर लेते रहे। डायबिटीज़ की दवा अपने मन से ना ले चिकित्सक से परामर्श लेने के बाद ही किसी तरह की दवाओं का सेवन करे। अगर आप गर्भवती है तो आपको बहुत सावधानी बरतनी चाहिए। डायबिटीज़ होने पर आप यदि किसी तरह की दवाओं का सेवन करना चाहते है तो डॉक्टर से अवश्य सलाह ले।

Diabetes Ke Liye Yoga In Hindi

डायबिटीज़ को दूर करने में योगासन आपकी मदद करेंगे। इन योगासन को करके आप डायबिटीज़ को नियंत्रित कर सकते है।

सेतुबंधासन

डायबिटीज़ में यह आसन बहुत लाभकारी होता है। इस आसन से ब्लडप्रेशर भी कंट्रोल होता है और पाचनतंत्र भी सही रहता है। डायबिटीज़ के मरीज़ को यह नियमित करना चाहिए।

कुर्मासन

यह आसन पैंक्रियास को सक्रिय करता है। जिससे इंसुलिन की मात्रा में वृद्धि होती है। कुर्मासन ह्रदयरोग के लिए भी लाभकारी होता है।

बलासन

यह आसन भी डायबिटीज़ को खत्म करने में मदद करता है। इस आसन से थकान और तनाव भी दूर होता है।

Conclusion:

यदि आप डायबिटीज़ का इलाज समय रहते नहीं करवाते है तो यह आपके लिए बहुत ही खतरनाक हो सकता है। अपनी दैनिक जीवनचर्या पर अधिक ध्यान दे, खान-पान में संतुलन बनाये और Daily Routine में व्यायाम को शामिल करे, मोटापे को बढ़ने ना दे इसके साथ ही आज जो हमनें आपको Diabetes Ke Baare Mein Jankari दी वह डायबिटीज़ कंट्रोल करने में आपकी मदद करेगी।

तो दोस्तों कैसी लगी आपको यह पोस्ट हमें Comment करके बताये और इस पोस्ट को अपने Friends और Family के साथ Share करे। अगर वह भी Diabetes के मरीज़ है तो यह पोस्ट उनकी मदद करेगी। पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे Like ज़रुर करे। दोस्तों स्वस्थ रहे और खुश रहे, धन्यवाद!

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here