in

DM Kaise Bane? – DM Kya Hota Hai जानिए पूरी जानकारी हिंदी में।

अगर आप नहीं जानते कि DM Kaise Bane? और DM Kise Kahate Hain तो जानने के लिए हमारे इस पोस्ट अंत तक जरुर पढ़ें।
विज्ञापन
लेख़ इसके बाद शुरु होगा।

दोस्तों अगर आप नहीं जानते हैं, DM Kaise Bane तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं, कि DM kaise bante hai और DM kya hota hai?, dm ka full form (District Magistrate) जिला अधिकारी होता है। जो जिले का मुख्य अधिकारी होता है। सभी सरकारी नौकरी में डीएम का पद सबसे बड़ा माना जाता है, और बहुत सम्मान भी मिलता है। DM बनने पर सरकार की तरफ से बहुत सारी सरकारी सुविधाऐं मिलती है। अगर आपको भी डीएम बनना और जानना चाहते हैं कि, DM kaise bante hain, डीएम कैसे बनते हैं, DM kise kahate hain, तो आप बिल्कुल सही पोस्ट पढ़ रहे हैं। इस पोस्ट के जरिये हम आपको डीएम कैसे बने इसकी पूरी जानकारी बिल्कुल आसान भाषा में समझाएँगे।

विज्ञापन
लेख़ इसके बाद शुरु होगा।
अगर आप भी डीएम बनना चाहते है और DM बनने की तैयारी भी कर रहे है, तो आज का यह आर्टिकल्स आपके बहुत काम आने वाला है। इसमें आपको DM meaning in hindi, dm kaise bante h से जुड़े सारे सवालों के जवाब आसानी से मिल जाएँगे। आप और अच्छी तरह से इसकी तैयारी भी कर पाएँगे। आइये जान लेते है, DM ki taiyari kaise kare, की पूरी जानकारी जो आज आपको हमारी इस पोस्ट DM Kaise Bante Hain, DM kon hota hai, डीएम किसे कहते है, DM kya hota hai in hindi के माध्यम से मिलेगी। इसके लिए यह पोस्ट शुरू से अंत तक अवश्य पढ़े।

DM Kya Hota Hai

आइये जानते हैं डीएम कौन होता है? डीएम जिला अधिकारी को कहा जाता है, जिसे जिले का मुखिया भी कहते है। जो अपने जिले की सुरक्षा और सेवा करता है। DM full form (District Magistrate) को District Collector भी कहते है। अगर आज हम किसी DM को देखते है, तो मन में सोचते काश हम भी DM बन पाते। आज के दौर में युवा चाहता है, की वह भी किसी बड़े पद पर कार्य करे। और अगर बात डीएम बनने की हो तो हर युवा चाहेगा कि वह डीएम। डीएम का पद बहुत ही सम्मानीय और Power Full होता है। डीएम को कई सारे अधिकार भी प्राप्त होते है। और DM को जिला न्यायाधीश भी कहा जाता है। प्रत्येक जिले में एक न्यायालय होता है। न्यायालय में जो न्यायाधीश होते है उन्हें जिला न्यायाधीश कहते है। डीएम के अंतर्गत जिले के सभी कार्य जैसे कानून व्यवस्था, कृषि व्यवस्था, सभी सरकारी योजनाएं, इत्यादि आते हैं।

DM Kaise Bane

आइये अब आपको आगे बताते है, डीएम कैसे बने, DM banne ke liye kiya kare, DM banne ke liye qualification, DM work in hindi, DM kaun hota hai इसके लिए क्या योग्यता होना चाहिए, आयु सीमा क्या होना चाहिए। ये पूरी जानकारी हम आपको Details में बताने वाले है। डीएम बनना बड़े गर्व की बात होती है। हम आपको इस आर्टिकल में बताएंगे की डीएम बनने के लिए क्या करे।

डीएम बनने के लिए योग्यता

आइये अब जानते हैं District Magistrate kaise bante hai, DM ke liye kya karana padta hai, DM ke liye subject क्या चुनने पड़ते है। आपका किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन होना चाहिए। Graduation Pass होने के बाद ही आप डीएम बनने की तैयारी कर सकते है। हम आपको आगे यह भी बताएंगे की डीएम बनने के लिए तैयारी कैसे करें।

डीएम बनने के लिए आयु

जिला न्यायाधीश बनने के लिए प्रत्येक वर्ग के लिए सरकार के द्वारा अलग-अलग आयु सीमा निर्धारित की गई है। General वर्ग के लिए आयु सीमा 21 वर्ष से 32 तक रखी गई है। OBC वर्ग के लिए आयु सीमा 21 वर्ष से 35 वर्ष तक रखी गई है, 3 साल की छूट के साथ। SC/ST वर्ग के लिए 21 वर्ष से 37 वर्ष तक रखी गई है, 5 साल की छूट के साथ।

डीएम बनने की चयन प्रक्रिया

DM (District Magistrate) बनने के लिए उम्मीदवार को UPSC में होने वाले CSE ( सिविल सर्विस एग्जाम) पास करना होता है। इसके बाद आपका IAS के लिए चयन किया जाता है। इसके बाद आप IAS अधिकारी बनते है। तथा पदोन्नति होने पर IAS अधिकारी को जिला न्यायाधीश अथवा डीएम (जिलाधिकारी) बनाया जाता है। UPSC की एग्जाम में हर साल लाखों लोग बैठते है। उनमें से कुछ लोगों का ही चयन हो पाता है।

डीएम परीक्षा पैटर्न (DM Exam Pattern)

अब आप जान गए होंगे कि जिला न्यायाधीश बनने के लिए आपको UPSC पास करना होती है। इसमें आपको CSE की परीक्षा देना होती है। जो 3 चरणों में होती है, जिसके बारे में आपको नीचे बताया गया है। डीएम बनने के लिए क्या करे और क्या प्रोसेस है, हम इसकी जानकारी आपको नीचे दे रहे है:
यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: IBPS Kya Hai? IBPS Exam Ki Taiyari Kaise Kare? IBPS से जुडी सभी Details जानिए हिंदी में

प्रारंभिक परीक्षा

UPSC के लिए Apply करने के बाद आपको प्रारंभिक परीक्षा क्लियर करना होती है। यह पहला चरण होता है।

मुख्य परीक्षा

प्रारंभिक परीक्षा क्लियर होने के बाद आपको मुख्य परीक्षा देनी होती है। और यह दूसरा चरण होता है। जो उम्मीदवार प्रारंभिक परीक्षा में पास होते है, वही मुख्य परीक्षा में भाग लेते है। और यह अंतिम परीक्षा होती है। इसके बाद आपका Interview लिया जाता है।

साक्षात्कार

लिखित परीक्षा में पास होने के बाद आपका Interview होता है। जिसमें आपसे कुछ सवाल किये जाते है। जिसके आधार पर ही आपका चयन होता है।

डीएम की तैयारी कैसे करें

अब हम आपको बताएंगे की DM Ki Taiyari Kaise Kare? ऊपर बताई गई जानकारी के अनुसार आप समझ गए होंगे कि डीएम बनने के लिए पहले आपको UPSC के अंतर्गत होने वाले CSE एग्जाम को क्लियर करना होगा। CSE एग्जाम में आप पास हो जाते हैं, तो आप IAS अधिकारी बन जाते हैं। आईएएस अधिकारी बनने के बाद आपको पदोन्नति कर आपको DM (District Magistrate) बना दिया जाता है। IAS बनना बहुत बड़ी बात होती है। आईएएस बनने के लिए आपको दिन-रात कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। हम आपको डीएम की तैयारी करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स बताने जा रहे हैं, आप आज से ही इन्हें फॉलो करना शुरू कर दीजिए।

  • अगर आपको IAS बनना ही तो आप ग्रेजुएशन के साथ-साथ आप IAS की तैयारी भी शुरू कर दें।
  • आपको अपना General Knowledge बढ़ाना होगा। इसके लिए अच्छी बुक्स पढ़े। और Daily News Paper पढ़े।
  • साथ ही करंट अफेयर्स और भारतीय के इतिहास के बारे में जरुर पढ़ें।
  • आपको इसके लिए कानूनी जानकारी होना भी आवश्यक है। तो इसके लिए आप Law की Books भी पढ़े सकते है।
  • तथा आप पिछले साल के प्रश्न पत्र का भी सहारा ले सकते है, इसमें आपको डी एम की तैयारी की जानकारी भी मिल जाएगी।

डीएम के कार्य

आइये अब जानते है डीएम के कार्य के बारे में की डीएम का क्या कार्य होता है:

  • डी एम का कार्य लॉ एंड आर्डर को बनाये रखना है। यह कानून व्यवस्था को बनाये रखता है।
  • वार्षिक अपराध की Report सरकार को  देना।
  • पुलिस और जेलों का निरीक्षण करना है।
  • सभी कामो की मंडल आयुक्त को समय-समय पर जानकारी देना।
  • जब मंडल आयुक्त उपस्थित नहीं होते है, तो जिला विकास प्राधिकरण के पद पर अध्यक्ष के रूप में कार्य करते है।
  • साथ में कार्य करने वाले मजिस्ट्रेटों का निरीक्षण करना।

Conclusion

आज की पोस्ट में हमने आपको DM Kaise Bane के बारे में बताया। और आपको इस पोस्ट के द्वारा DM Kya Hota Hai की जानकारी भी मिली। उम्मीद है दोस्तों आपको इसकी जानकारी हमने अच्छे से दी। डीएम कैसे बने, DM ki taiyari में आपको इसका Exam Pattern भी पता चला। हम यही आशा करते है, की आपने डी एम परीक्षा पैटर्न को अच्छी तरह से जान लिया होगा। DM Kise Kahate Hain की जानकारी आपको कैसी लगी हमें ज़रुर बताये। इस पोस्ट में आपको डीएम बनने की योग्यता के बारे पता चला होगा। आप इस पोस्ट की जानकारी आप अपने Friends को भी दे सकते हैं। तथा Social Media पर भी यह पोस्ट ज़रुर Share करे।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: SSC Ki Taiyari Kaise Kare – बिना कोचिंग के कैसे करे एसएससी की तैयारी
हमारी पोस्ट DM Kaise Bane में आपको कोई परेशानी है या आप इस पोस्ट के बारे में और कोई जानकारी चाहते है, तो Comment Box में Comment करके हमसे पूछ सकते है, हमारी Team आपकी Help ज़रुर करेगी।
अगर आप हमारी Website के Latest Update पाना चाहते है, तो आपको हमारी Hindi Sahayta की Website को Subscribe करना होगा। फिर मिलेंगे आपसे कुछ ऐसे ही New Article के साथ तब तक के लिए अलविदा दोस्तों आपका दिन शुभ हो।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 3.9 / 5. Vote count: 71

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

हिंदी सहायता एप्प को डाउनलोड करें।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा?

आपको क्या जानकारी नहीं मिली हमें ज़रूर बताएं

हम सभी जानकारियां आपको जल्द उपलब्ध कराएँगे

एडिटोरियल टीम

Written by एडिटोरियल टीम

एडिटोरियल टीम, हिंदी सहायता में कुछ व्यक्तियों का एक समूह है, जो विभिन्न विषयो पर लेख लिखते हैं। भारत के लाखों उपयोगकर्ताओं द्वारा भरोसा किया गया।

Email के द्वारा संपर्क करें - [email protected]

3 Comments

Leave a Reply

Leave a Reply

Avatar

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WWW Kya Hai? – जानिए WWW Full Form और WWW Meaning in Hindi

o level image

O Level Course Kaise Kare? – जानिए O Level Exam Kya Hota Hai!