विज्ञापन
विज्ञापन

LLB Kya Hai – एलएलबी (LLB) कैसे करें की पूरी जानकारी।

विज्ञापन
विज्ञापन

LLB का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ लेजिस्लेटिव लॉ है। एलएलबी लॉ में की जाने वाली एक 3 साल की बैचलर डिग्री कोर्स है, जिसे उन छात्रों द्वारा किया जा सकता है, जिन्होंने किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से न्यूनतम 50% कुल अंकों या इसके समकक्ष अपना ग्रेजुएशन पूरा किया हो। अगर आपका सपना भी वकील (एडवोकेट) बनने का है तो आपको LLB Kaise Kare की पूरी जानकारी (LLB Course Details) होना चाहिए।

इस 3 वर्षीय बैचलर ऑफ लेजिस्लेटिव लॉ को आमतौर पर छह सेमेस्टर में विभाजित किया जाता है, जिसमें छात्र संवैधानिक कानून, परिवार कानून, न्यायशास्त्र, आईपीसी (IPC), सीआरपीसी (CRPC), अनुबंध के कानून आदि जैसे अन्य विषयों में जाने से पहले कानून की मूल बातें सीखते है। जिस किसी की इच्छा कानून (Law) में है वह एलएलबी (LLB) करके उसमें अपना करियर बना सकता है।

विज्ञापन
विज्ञापन

एक वकील बनाना अपने आप में एक बहुत बड़ी बात होती है जिसमें सम्मान भी मिलता है और साथ ही साथ हम किसी निर्दोष के पक्ष में लड़कर उसे भी बचा सकते है। हालांकि इसके लिए आपको सही मार्गदर्शन और मेहनत करने की जरुरत है जो आपको इस लेख के माध्यम से प्राप्त होगा। यहां मैं आपको 12 वीं के बाद एलएलबी के लिए पात्रता क्या होती है, इसके लिए कौन सी एग्जाम देना पड़ती है एवं LLB Karne Ke Liye Kya Karna Padta Hai यह सब आसान और सरल भाषा में बताऊंगा।

LLB Kya Hai Kaise Kare

LLB Kaise Kare

एलएलबी (LLB) करने के लिए आपको 12वीं या ग्रेजुएशन करने के बाद CLAT (Common Law Admission Test) प्रवेश परीक्षा देनी होती है। इस परीक्षा में पास होने के बाद आप लॉ कॉलेज में प्रवेश ले सकते है। CLAT परीक्षा देने के लिए आपके 12वीं या ग्रेजुएशन में कम से कम 45% होना अनिवार्य है। भारत में LLB Entrance Exam (CLAT) का आयोजन NLU (नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी) और अन्य संस्थानों में प्रवेश के लिए किया जाता है।

आईये अब हम आपको एलएलबी कैसे करें या LLB Me Admission Kaise Le इसके बारे में और विस्तार से समझाते है –

1. 12वीं कक्षा पास करें।

एलएलबी कोर्स करने के लिए सबसे पहले आपको अपनी 12th क्लास किसी भी स्ट्रीम से न्यूनतम 45% अंकों से पास करना है। अगर आप 12th के बाद LLB Course करते है तो इसके लिए आपको 5 वर्ष का समय लगता है और अगर आप ग्रेजुएशन के बाद LLB कोर्स करना चुनते है तो इसके लिए आपको 3 वर्ष का समय लगता है।

12वीं कक्षा आप किसी भी विषय में कर सकते है। फिर भी यदि आप अपनी 12th क्लास आर्ट्स (Arts) विषय से पास करते है तो यह आपके लिए बहुत ही फादेमंद होगा, क्योंकि इस विषय में बहुत कुछ लॉ के बारे में भी पढ़ाया जाता है।

2. CLAT एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करें।

LLB कोर्स में प्रवेश पाने के लिए आपको CLAT एंट्रेंस एग्जाम देना होती है। उम्मीदवार इस परीक्षा को तभी दे सकते है जब वे 12वीं पास हों अथवा उनके पास स्नातक (ग्रेजुएशन) की डिग्री हो। साथ ही CLAT प्रवेश परीक्षा को पास कर लेने के बाद ही वे LLB कोर्स को कर सकते है।

जो उम्मीदवार इसमें पास हो जाते है, उन्हें कॉलेज द्वारा एलएलबी डिग्री प्रदान की दी जाती है। हालांकि बहुत से कॉलेज एवं संस्थान बिना एंट्रेंस एग्जाम के भी एलएलबी पाठ्यक्रम प्रदान करते है।

3. कोर्स पूरा करें और डिग्री लें।

यह तो आप जान ही गए होंगे कि एलएलबी कोर्स 12th के बाद 5 साल का और ग्रेजुएशन के बाद 3 साल का होता है। अगर आप इन दोनों में से किसी भी रास्ते को चुनते है तो उस LLB कोर्स के दौरान आपको कानून से जुड़े कई विषयों के बारे में पढाया जाता है। इसी पाठ्यक्रम के दौरान आप कानून के विषय में अधिक गहराई से जानते है।

4. इंटर्नशिप पूरी करें।

लॉ की पढ़ाई करने के बाद अब आपको इंटर्नशिप (Internship) करना होगा। इसके दौरान ही आप अपने किताबी ज्ञान को प्रैक्टिकल में देखते है और उससे एक बेहतर वकील बनने के गुण सीखते है। इस इंटर्नशिप में आपको कोर्ट के बारे में सब कुछ सिखाया जाता है जैसे- किसी पक्ष के लिए किस तरह से दो वकील आपस में केस लड़ते है, कोर्स किसी केस को सॉल्व करने के लिए क्या स्टडी करना पढ़ती है आदि बहुत कुछ।

5. अब अंत में स्टेट बार कॉउन्सिल के लिए एनरोल करें।

इंटर्नशिप करने के बाद अब आपको State Bar Council में नामांकन (Enroll) करना होता है। नामांकन करने के बाद आपको All India Bar Examination को क्लियर करना होता है जो Bar Council Of India (BCI) के द्वारा आयोजित किया जाता है। इसे क्लियर करने के बाद आपको प्रैक्टिस का सर्टिफिकेट मिलता है। इस तरह से आपकी एलएलबी की पढ़ाई पूरी हो जाती है।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: CA Kaise Bane? – CA बनने से जुड़ी पूरी जानकारी!

LLB Kya Hai

Bachelor of Laws यानि LLB तीन साल की एक बैचलर डिग्री कोर्स है, जो कि ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद की जाती है। भारत के कई प्रसिद्ध लॉ कॉलेजों में एलएलबी कोर्स की पेशकश BCI (Bar Council of India) द्वारा अनिवार्य दिशा निर्देशों के अनुसार की जाती है। बीसीआई भारत में कानूनी शिक्षा और कानूनी पेशे को नियंत्रित करता है। इसी के चलते हर साल कई सारे छात्र LLB की पढ़ाई शुरू करते है और बहुत से छात्र अपनी मेहनत और सही मार्गदर्शन के कारण एक अच्छा वकील बन पाते है।

LLB Full Form In Hindi

एलएलबी का फुल फॉर्म ‘Bachelor of Legislative Law‘ है, जिसे हिंदी में फुल फॉर्म ‘विधायी कानून में स्नातक‘ या फिर ‘विधायी कानून का स्नातक‘ होता है।

advocate logo

यदि आप भी एक अच्छा वकील बनने के बारे में सोच रहे है और जानना चाहते है कि LLB Ki Taiyari Kaise Karen तो यह पूरी जानकारी आपको आगे LLB Kaise Kare in Hindi में स्टेप बाय स्टेप बताई गयी है।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: BBA Kya Hai? – बीबीए का फुल फॉर्म एवं कोर्स डिटेल्स इन हिंदी।

LLB Course Details In Hindi

LLB Course Details In Hindi

निचे आपको टेबल के माध्यम से LLB कोर्स के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की गई है –

LLB फुल फॉर्म बैचलर ऑफ लेजिस्लेटिव लॉ
अवधि3-5 साल
योग्यताकिसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज से स्नातक (ग्रेजुएशन) की डिग्री होना है।
न्यूनतम प्रतिशतकिसी भी विषय से स्नातक डिग्री में 45%
औसत फीस1-3 लाख रुपये वार्षिक
औसत वेतन2-7 लाख रुपये वार्षिक

LLB Ke Liye Qualification 

वकील बनने के लिए या इसकी पढ़ाई करने के लिए आपके पास यह एलएलबी पात्रता (LLB Eligibility) होनी चाहिए तभी आप इसकी पढ़ाई कर सकते है। आइये जानते है LLB Karne Ke Liye Qualification या Law Ke Liye Qualification क्या होना चाहिए है।

  • अगर आप 12वीं के बाद LLB की पढ़ाई करना चाहते है तो 12वीं के बाद एलएलबी कोर्स की अवधि पांच साल की होती है।
  • यदि आप 12वीं के बाद LLB कर रहे है तो 12वीं में आपके 45% होना चाहिए।
  • आप ग्रेजुएशन के बाद भी Law कर सकते है जो कि 3 साल का होता है। इसके लिए ग्रेजुएशन में आपके कम से कम 45% अंक होना चाहिए।
  • भारत में एलएलबी करने के लिए कोई आयु सीमा नहीं है।

CLAT एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी कैसे करें?

CLAT प्रवेश परीक्षा को पास करने के लिए आपको पहले इसके सिलेबस और एग्जाम पैटर्न को अच्छे से समझना होगा। इसके बाद आप 2-3 वर्ष के प्रश्न पत्रों को सोल्व करके देखें, रोज प्रैक्टिस और रिविजन करें। यह एग्जाम केवल इंग्लिश में ही होता है, जिसमें सही आंसर देने पर 1 अंक मिलता है और गलत आंसर देने पर 0.25 मार्क्स काट लिए जाते है।

इसलिए अगर आप सही स्ट्रेटेजी बनाकर CLAT की तैयारी करेंगे तो आप इस प्रवेश परीक्षा को जरुर पास कर सकते हैं, जिसके बाद आपको किसी अच्छे कॉलेज में एडमिशन मिल जाएगा। CLAT एंट्रेंस एग्जाम में निम्न टॉपिक पर प्रश्न पूछे जाते है जो कुछ इस प्रकार है –

  • लीगल एप्टीट्यूड (Legal Aptitude)
  • लॉजिकल रीजनिंग (Logical Reasoning)
  • जनरल नॉलेज और कर्रेंट अफेयर्स (General Knowledge or Current Affair)
  • एलेमेंट्री मैथ्स (Elementary Math)
  • इंग्लिश इन्क्लुडिंग कॉम्प्रिहेंशन (English Including Comprehension)

LLB Kitne Saal Ka Hota Hai

एलएलबी (LLB) 3 साल की अवधि का बैचलर डिग्री कोर्स है जिसे उम्मीदवार अपनी स्नातक (ग्रेजुएशन) डिग्री के बाद कर सकते है। इसके अलावा अगर आप 12वीं कक्षा के बाद एलएलबी कोर्स करते है तो इसके लिए अवधि (LLB Course Duration) 5 वर्ष है।

विज्ञापन
विज्ञापन

LLB Ke Liye Kitne Percentage Chahiye

एलएलबी (LLB) कोर्स में प्रवेश पाने के लिए उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज / विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक (10 + 2 + 3 पैटर्न) उत्तीर्ण होना चाहिए। सामान्य श्रेणी के लिए कुल मिलाकर न्यूनतम 45% अंक और SC/ST वर्ग के लिए कुल मिलाकर 40% अंक प्राप्त करना अनिवार्य है।

LLB Subjects In Hindi

लॉ या LLB Ki Padhai करने के लिए आपको कौन से कोर्स की पढ़ाई करनी होगी या इसमें कौन से एलएलबी विषय होते है इसके बारे में आपको आगे बताया गया है:

  • Corporate Law
  • Criminal Law
  • Patent Attorney
  • Cyber Law
  • Family Law
  • Tax Law
  • Banking Law

Corporate Law

कॉर्पोरेट लॉ में Corporate की Field में होने वाले अपराधों के लिए नियम और कानून की पढ़ाई की जाती है। Corporate Law से Corporate Sector में होने वाले अपराधों को रोकने के लिए तथा वित्त परियोजना, टैक्स लाइसेंस और संयुक्त स्टॉक से संबंधित काम किये जाते है।

Criminal Law

यह सबसे मुख्य कानून होता है। इस Law की पढ़ाई सभी छात्रों को करनी होती है। इसकी पढ़ाई से ही कानून और अपराध को रोकने की जानकारी प्राप्त होती है।

Patent Attorney

इसमें यदि कोई व्यक्ति किसी वस्तु पर अपना पूर्ण अधिकार रखता है तो उसकी मर्ज़ी के बिना कोई अन्य व्यक्ति उस अधिकार का प्रयोग नहीं कर सकता है।

Cyber Law

आजकल साइबर क्राइम सबसे ज्यादा बढ़ गया है। इस कानून में साइबर क्राइम से जुड़े मुद्दों पर कानून जानकारी दी जाती है की उनसे कैसे निपटा जाये और उनके लिए सजा का क्या प्रावधान है।

Family Law

यह महिलाओं के लिए उपयुक्त होता है इस Law के अंतर्गत तलाक, गोद लेने, शादी, पर्सनल लॉ तथा सभी तरह के पारिवारिक मामले आते है। परिवार के मामलों को सुलझाने के लिए हर राज्य के सभी जिलों में परिवार न्यायालय (Family Court) की स्थापना की गई है।

Tax Law

इसके अंतर्गत सभी प्रकार के टैक्स जैसे- बिक्री कर (Sale Tax), सेवा कर (Service Tax), आदि से सम्बन्धित समस्या का समाधान किया जाता है।

Banking Law

बैंकिंग Law में लोन, लोन रिकवरी, बैंकिंग विशेषज्ञ आदि से सम्बन्धित कार्यों का समाधान किया जाता है। एल एल बी पाठ्यक्रम के इस विषय में बैंकिंग और उससे सम्बन्धित नियम और कानून का अध्ययन करवाया जाता है।

जरूर पढ़े: IPS Kaise Bane? – आईपीएस की तैयारी से जुड़ी पूरी जानकारी!

LLB Ki Taiyari Kaise Kare

Law Ki Padhai Kaise Kare अथवा Law की तैयारी करने के लिए आपको क्या करना चाहिए इसकी जानकारी आपको नीचे दी गई है:

Exam Pattern देखें

LLB Exam की पढ़ाई करने के लिए सबसे पहले LLB सिलेबस और परीक्षा पैटर्न समझ लेना चाहिए। परीक्षा पैटर्न समझने के लिए आप पुराने प्रश्न पत्रों को भी हल कर सकते है। अगर आप पुराने प्रश्न पत्रों को हल करते है तो इससे आप परीक्षा की तैयारी अच्छे से कर सकते है।

Coaching ज्वाइन करें

आप अच्छी कोचिंग जॉइन कर सकते है। जिससे अगर आपका कोई सवाल है या आपको कुछ समझने में समस्या आती है तो आप अपने सवालों को हल कर सकते है। तो आप एक अच्छी कोचिंग सेंटर के बारे में Research करे और फिर Join करे।

Time मैनेजमेंट करें

परीक्षा में पास होने के लिए Time Management पर ध्यान दे की आप प्रश्नों को हल करने में कितना समय लेते है। परीक्षा में आपको एक निश्चित समय दिया जाता है उसके अनुसार ही आपको प्रश्न पत्र हल करना होता है।

Study Plan करें

आप LLB Ki Study का Plan भी बना सकते है। जिसे रोजाना फॉलो करे। LLB Ke Subject में आप जिस Subject में कमजोर है उस पर ज्यादा ध्यान दे और उसकी पढ़ाई ज्यादा से ज्यादा करे। अपने सभी LLB Subjects के लिए एक समय निर्धारित कर ले।

Mock Test लगाएं

आप मॉक टेस्ट की भी मदद ले सकते है मॉक टेस्ट से आपको प्रश्नों को हल करने की गति के बारे में पता चलता है और आप उसके अनुसार अपनी परीक्षा की तैयारी कर सकते है।

रोज Practice करें

इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए अंग्रेजी भाषा पर ध्यान दे। इस Field में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए आपकी अंग्रेजी अच्छी होना चाहिए, क्योंकि इसमें वकीलों के बात करने की क्षमता अच्छी होती है और कभी-कभी उन्हें अंग्रेजी भाषा का प्रयोग करना पड़ता है। पर अगर आपकी इंग्लिश कमजोर है, और आप इंग्लिश सीखना चाहते है, तो इसके लिए हमारी यह पोस्ट English Bolna Kaise Sikhe आपके बहुत काम आने वाली है।

इन सभी तरीकों को Follow करने से आप आप परीक्षा में अच्छे नंबर प्राप्त कर सकते है। तो रोजाना इन Tips की मदद से अपनी पढ़ाई करे। हमें उम्मीद है कि अब आपको LLB Kaise Kare इसके बारे में जानकारी प्राप्त हो गई होगी। आईये अब आगे हम आपको LLB के बाद आप क्या कर सकते हैं इसके बारे में बताते हैं।

LLB Ke Baad Kya Kare

LLB करने के बाद आप LLM और PHD भी कर सकते है। और इसके बाद Judiciary (न्यायपालिका) की परीक्षा देकर जज बनने के लिए भी आवेदन कर सकते है। अब बहुराष्ट्रीय कंपनी अपने ज़रुरी काम को देखने के लिए अच्छे पैकेज पर अपने यहाँ वकील रखती है।

इसके साथ ही LLB करने के बाद आप  किस- किस प्रोफेशन में जा सकते हैं आईये जानते हैं-

  • ऐडवोकेट
  • नोटरी
  • लीगल एडवाइजर
  • सॉलिसिटर
  • साइबर लॉयर
  • लेक्चरर

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: SAP Course Kaise Kare? – सैप कोर्स लिए समय, फीस, इंस्टिट्यूट की पूरी जानकारी हिंदी में!

वकील की सैलरी 

वकील की सैलरी सरकार से किया गया एक अनुबंध होता है। इसमें हर केस की LLB Ki Fees निर्धारित होती है और इन केस को लड़ने के लिए यह वकील फ़ीस लेते है। सामान्य तौर पर सरकारी वकील की सैलरी 15,000 रूपये से 40,000 रूपये तक हो सकती है तथा अनुभव प्राप्त होने पर सैलरी बढ़ती जाती है।

Conclusion

तो दोस्तों उम्मीद करते है कि आपको LLB Kaise Kare In Hindi की पूरी जानकारी यहां मिल गयी होगी। यदि आपका सपना भी वकील बनने का है तो ऊपर बताई जानकारी आपके लिए जरूर उपयोगी साबित होगी, जिसमें मैंने आपको एलएलबी की तैयारी के लिए महत्वपूर्ण टिप्स भी बताई है जिसके अनुसार अगर आप पढ़ाई करेंगे तो आप इसमें जरूर सफल होंगे। इस पोस्ट में अगर आपका कोई सवाल हो तो आप मुझे कमेंट करके बता सकते है मैं आपके सवालों का जवाब देने का प्रयास करूँगा, धन्यवाद!

एलएलबी (LLB) से जुड़े FAQs

  • कानून में एलएलबी की डिग्री क्या है?

LLB एक प्रोफेशनल कानून (लॉ) की डिग्री है जिसे भारत में वकील (Advocate) के पेशे को आगे बढ़ाने के इच्छुक किसी भी व्यक्ति के लिए बुनियादी योग्यता माना जाता है।

  • एलएलबी का फुल फॉर्म क्या है?

LLB का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ लेजिस्लेटिव लॉ होता है।

  • क्या मैं दूरस्थ शिक्षा (डिस्टेंस एजुकेशन) के माध्यम से एलएलबी कर सकता हूँ?

बार काउंसिल ऑफ इंडिया (BCI) डिस्टेंस एजुकेशन के माध्यम से किसी भी एलएलबी की डिग्री की अनुमति नहीं देता है।

  • चार प्रकार के कानून कौन से होते है?

चार प्रकार के कानून सामान्य (Common), दीवानी (Civil), आपराधिक (Criminal) और क़ानून (Statute) है।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 4.8 / 5. Vote count: 228

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

Default image
एडिटोरियल टीम

एडिटोरियल टीम, हिंदी सहायता में कुछ व्यक्तियों का एक समूह है, जो विभिन्न विषयो पर लेख लिखते हैं। भारत के लाखों उपयोगकर्ताओं द्वारा भरोसा किया गया।

Email के द्वारा संपर्क करें - [email protected]

Articles: 207

9 Comments

  1. Sir,uper likha hua h CLAT k lie 20 sal se jayda age nhi honi chahiye,to graduation he 21 sal ki age me pura hota h,to kya kia ja skta h.meri age 28 ho chuki h,kya ab main llb nhi kr skta.after graduation?Plz rply

    • जी शशांक, CLAT entrance exam के लिए आपकी Age 20 वर्ष से ज्यादा नहीं होनी चाहिए, वरना आप यह entrance exam नहीं दे सकते।

  2. क्या ग्रेजुएशन में पचास /से कम अंक है तो वो एल एल बी नहीं कर सकता?

  3. Sir, I am graduating after I want to do llb but sir my age 30complete so why do I can\’t it sir please tell me about it. thanks

Leave a Reply