Biometric Device Kya Hai? - बायोमेट्रिक डिवाइस के कार्य, उपयोग व फायदे!
Akansha Panwar Gyankosh
बदलती दुनिया के साथ तकनीकें भी बदल रही है। तकनीकों के बढ़ने से सुरक्षा के साधनों में भी बढ़ोतरी हुई है जिसमें से एक साधन है Biometric Machine जिसका प्रयोग आज हर क्षेत्र में उपस्थिति दर्ज करने के लिए किया जा रहा है। यदि आपको बायोमेट्रिक डिवाइस की पूरी जानकारी नहीं है तो आज हम इस पोस्ट में विस्तार में समझाएँगे की बायोमेट्रिक क्‍या होता है।
तकनीकें अब तेजी से बढ़ रही है, तथा Biometrics Technology के आ जाने से उपस्थिति दर्ज करने की प्रणाली में काफी सुधार हुआ है। विभागों में अब Biometrics Security से उपस्थिति दर्ज करने में मदद मिलती है, साथ ही ऐसे और भी कई कार्य है जिसमें Biometric Device का प्रयोग किया जा सकता है।तो आइये अब जानते है बायोमेट्रिक क्या है और इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता है।

Biometric Device Kya Hai

Biometric System एक ऐसा सिस्टम है जिसके द्वारा व्यक्ति की पहचान की जा सकती है। बायोमेट्रिक मशीन की मदद से व्यक्ति को चेहरे, आँखों, आवाज़, ऊँगली या अँगूठे के निशान से पहचाना जा सकता है। किसी के बायोमेट्रिक डाटा की चोरी नहीं की जा सकती है। कंप्यूटर में भी Biometric Device Software डाउनलोड करके प्रयोग कर सकते है।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: Aadhar Biometric Kya Hai? Aadhar Biometric Lock/Unlock Kaise Kare – जानिए Aadhar Card Lock करना क्यों जरूरी है हिंदी मे!

Biometric Device Kaise Kaam Karta Hai

Biometric Machine 3 स्टेप्स में काम करती है। सबसे पहले किसी व्यक्ति का Biometric Device Registration प्रक्रिया की जाती है । जिसमें व्यक्ति के हाथ की उँगलियों की इमेज ली जाती है तथा नाम और आवश्यक जानकारी को रजिस्टर किया जाता है। अब जो फिंगरप्रिंट स्कैनर है वह इस इमेज को यूनिक कोड में बदलता है और फिर इसे कंप्यूटर में स्टोर कर दिया जाता है।

इसके बाद कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर द्वारा उँगलियों और लकीर से एक पैटर्न तैयार किया जाता है। इस पैटर्न के अंतर्गत प्रत्येक व्यक्ति का अपना अलग-अलग न्यूमेरिक कोड बन जाता है। तो अब जब कोई व्यक्ति स्कैनर पर अपनी ऊँगली लगाएगा तो Biometric Machine उस ऊँगली को स्कैन करती है। तो यह फिंगरप्रिंट के न्यूमेरिक कोड को कंप्यूटर में स्टोर न्यूमेरिक कोड से मिलाती है। जब यह मिलान हो जाता है तो आपकी उपस्थिति रजिस्टर हो जाती है।

Biometric Machine Uses

बायोमेंट्रिक मशीन उपस्थिति दर्ज करने के साथ ही और भी कई तरह के कार्य करने के लिए प्रयोग की जाती है।

  • Biometric Door Lock एक हाई टेक्नोलॉजी है किसी खास जगह पर प्रवेश करने की जैसे- कुछ स्थानों पर बायोमेट्रिक उपस्थिति मशीन को ऐसे लोगों के आने पर रोक लगाने के लिए प्रयोग किया जाता है जो अनधिकृत होते है, जहाँ पर Biometric Verification के बाद Door Open होता है।
  • बायोमेट्रिक क्लासेज में भी प्रयोग की जाने लगी है। समय पर उपस्थित होने के लिए Biometric Attendance System की तरह काम करता है जैसे- कोचिंग क्लासेज तथा स्कूल, कॉलेज और ऑफ़िस में बायोमेट्रिक का इस्तेमाल किया जा रहा है।
  • यदि कोई व्यक्ति गुम हो जाता है तो Biometric Authentication के द्वारा उस व्यक्ति का पता भी लगाया जा सकता है। भारत में आधार कार्ड बनाने के लिए भी इस तकनीक का प्रयोग किया जा रहा है और भारत के प्रत्येक व्यक्ति का आधार कार्ड होना ज़रुरी है। आधार कार्ड में कई तरह की जानकारी दर्ज होती है तो इसके माध्यम से गुम हुए व्यक्ति का पता लगा सकते है।
  • अब ATM मशीन पर भी Biometric System का प्रयोग किया जा रहा है। Biometric Machine के द्वारा Biometric Verification करने के बाद ही ATM मशीन से पैसे निकाले जा सकेंगे।

जरूर पढ़े: Storage Device Kya Hai? Primary और Secondary Storage क्या है – जानिए Types Of Storage Devices In Hindi!

Types Of Biometrics

Biometric Machine कई प्रकार की होती है। आइये जानते है कुछ ऐसे ही Biometric Device के प्रकारों के बारे में।

  • Finger Scanner – हाथों के अँगूठे या उँगलियों के द्वारा इससे व्यक्ति की पहचान की जा सकती है।
  • Hand Scanner – इस तरह के स्कैनर में व्यक्ति की हथेलियों का प्रयोग किया जाता है।
  • Face Scanner – चेहरे के द्वारा व्यक्ति को पहचाना जाता है। व्यक्ति के चेहरे की डिजिटल इमेज से पहचान करना आसान हो जाता है।
  • Iris Scanner – इस स्कैनर से इंसान की आँखों के द्वारा किसी व्यक्ति को पहचाना जाता है।

Biometric Device Cost

Biometric Devices Price अलग-अलग तरह की होती है। बायोमेट्रिक कीमत मशीन के ब्रांड, कार्य करने की क्षमता तथा कंपनी पर निर्भर करती है। अगर आप ऑनलाइन बायोमेट्रिक मशीन खरीदते है तो बेस्ट ऑफर में सस्ते दामों के साथ ख़रीद सकते है।

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: Web Design Kya Hai? Web Designing Course Kaise Kare? – जानिए Difference Between Web Designing And Web Development In Hindi!

Biometric Machine Ke Fayde

बायोमेट्रिक मशीन के कई बेहतरीन फायदे है जिनका सुरक्षा के तौर पर इस्तेमाल करना बहुत ही फ़ायदेमंद है। आगे आपको ऐसे ही कुछ फ़ायदों के बारे में बताया गया है।

  • एक बार इसमें जो डाटा सेव हो जाता है तो फिर कोई इसकी चोरी नहीं कर सकता।
  • बायोमेट्रिक सेंसर के माध्यम से जिस डिवाइस को Lock किया जाता है उसे कोई भी हैकिंग के द्वारा नहीं खोल सकता।
  • Biometric Machine के डाटा को कॉपी भी नहीं किया जा सकता है।

Conclusion:

इस तरह Biometrics Security के रूप में प्रयोग किया जाता है। कंप्यूटर और मोबाइल में भी फिंगरप्रिंट का इस्तेमाल करके उसे Lock किया जा सकता है, जिसके बाद कोई अन्य व्यक्ति आपके डिवाइस का प्रयोग नहीं कर सकता है। तो दोस्तों अब आपको बायोमेट्रिक का मतलब अच्छे से समझ में आ गया होगा। बायोमेट्रिक की जानकारी सोशल मीडिया पर भी शेयर करे तथा पोस्ट पसंद आयी हो तो पोस्ट को Like करे, धन्यवाद!

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...

Leave a comment