हैलों दोस्तों ! Hindi Sahayta में आपका स्वागत है। आज हम आपको बताएँगे कि Computer Software Kya Hota Hai और Software Kitne Prakar Ke Hote Hai अगर आप नहीं जानते हैं कि Software Kya Hai तो यह पोस्ट आपके लिए बहुत उपयोगी होगी।

आज के दौर में चाहे कोई भी चीज़ हो वो पूरी तरह खुद अपने-आप नहीं चल सकती, जैसे कि कोई गाड़ी पेट्रोल के बिना और कोई बिजली का उपकरण बिजली के बिना नहीं चल सकता। हर एक चीज़ को चलने के लिए किसी-न-किसी दूसरी चीज़ की जरूरत होती हैं।

ठीक उसी तरह आज हम जिस भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण का उपयोग करते हैं वो किसी ना किसी Software की सहायता से चलते हैं जैसे कि Mobile, Computer, TV आदि।

Software के बिना कोई भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण नहीं चल सकता। आज आपको अपने चारों तरफ ऐसे ही इलेक्ट्रॉनिक उपकरण देखने को मिलेंगे जो किसी-न-किसी Software के द्वारा ही चलते हैं, Software के बिना उनका चलना नामुमकिन हैं।

सन 1935 में Alan Turing ने अपने एक निबन्ध “Computable Numbers With An Application To The Entscheidungsproblem” में लिखा था! जिसमें उन्होंने Software की Theory को सबसे पहले दुनिया के सामने प्रस्तुत किया।

हालांकि ‘Software’ शब्द गणितज्ञ और सांख्यिकीविद् John Tukey के द्वारा 1958 में एक कार्यक्रम के दौरान “Issue Of American Mathematical Monthly” (अमेरिकी गणितीय मासिक का मुद्दा) दिया गया था। जिसमें उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक Calculator के Programs पर चर्चा की थी।

Software Kya Hota Hai

किसी विशिष्ट कार्य को करने के लिए Computer को कुछ निर्देश दिए जाते हैं और Computer को दिए जाने वाले ये निर्देश Instructions या Programs के एक Set के रूप में होते हैं, इन्हीं Instructions या Programs के Set को Software कहते हैं।

Software का कोई आकार नहीं होता हैं और इसलिए आप इनको अपने हाथों से छू भी नहीं सकते हैं। मोबाइल एप्लीकेशन, Java Scripts, Programs और Instructions का Set ये सभी Software ही हैं।

अब आप ये तो जान ही गए होंगें कि Software Kya Hai अब हम आपको बताएँगे Software Meaning In Hindi, और Types Of Software In Hindi तो हमारी इस पोस्ट को ध्यान से और पूरी पढ़िए
वैसे अगर देखा जाय तो Software का Meaning यह होता हैं कि ऐसा Tool या साधन जिसका उपयोग तो हम करते हैं लेकिन उस Tool को हम छू नहीं पाते हैं।

जरूर पढ़े: CPU Kya Hai? CPU Kaise Kaam Karta Hai? जानिए CPU के कार्य सरल भाषा में!

Software Kitne Prakar Ke Hote Hai

आमतौर पर Software 3 प्रकार के होते हैं:

  • System Software
  • Programming Software
  • Application Software

ये तीन Software Ke Prakar मुख्य होते हैं तथा इन तीनों में भी अलग-अलग प्रकार के Software अलग-अलग तरह के कार्यों के लिए उपयोग में लाये जाते हैं।

System Software Kya Hai

System Software किसी भी Computer के Hardware को सीधे संचालित (Operate) करते हैं जिससे की उपयोगकर्ता (Computer को चलाने वाला) तथा दूसरे Software को बुनियादी कार्य-क्षमता उपलब्ध हो सके, और उपयोगकर्ता आसानी से Computer पर अपने कार्यों को कर सकें।

System Software, Application Software के आधार के रूप में भी कार्य करते हैं। आमतौर पर System Software ‘C’ Programming Language में लिखे जाते हैं।

System Software Kitne Prakar Ke Hote Hai

अलग-अलग कार्यों को करने के लिए अलग-अलग तरह के Software की जरूरत के अनुसार इन System Software को बनाया गया हैं।

  • Device Drivers
  • Operating Systems (OS)
  • Compilers
  • Text Editors
  • Utilities
  • Shells And Windowing Systems

ऊपर 7 तरह के System Software Ke Prakar दिए गए हैं और इनमें  से सबसे ख़ास Software, Operating Systems (OS) हैं जो कि कंप्यूटर को स्टार्ट होने में मदद करता हैं तथा Computer के Hardware और Software के बीच एक पुल (Bridge) की तरह काम करता हैं।

कोई Computer अधिक कुशलता के साथ कार्य कर सके इसके लिए उस Computer के System Software में Device Drivers, Operating Systems (OS), Compilers, Disk Formatters, Text Editors और Utilities आदि होते हैं जो Computer की अच्छे से चलने में मदद करते हैं।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: Cloud Computing Kya Hai? – जानिए Cloud Computing Ke Prakar और इसके फायदे हिंदी में!

Programming Software Kya Hai

Programming Software Computer का एक Program हैं। इसको Programming Tool या Software Development Tool भी कहते हैं। Software Developers जो किसी Software या Program को बनाते हैं वो Programming Software का उपयोग किसी Program को बनाने, Edit करने, Debug करने और Maintain करने के लिए करते हैं।

जैसे कि Assemblers, Compilers और Linkers ऐसे Programming Tools हैं जो इंसानों के द्वारा पढ़ी और लिखने वाली भाषा को Bits और Bytes में बदल देते हैं जिसको Computer आसानी से समझ सकते हैं, तथा इन्ही की सहायता से Software Developers किसी Program को Edit, Debug और Maintain कर पाते हैं।

Application Software Kya Hai

Application Software भी एक Computer Program की तरह हैं तथा ये Software कुछ विशिष्ट कार्य करने के लिए बनाए जाते हैं जैसे शैक्षिक कार्य, व्यक्तिगत कार्य और व्यावसायिक कार्य आदि।

जिससे उस कार्य की उत्पादकता और रचनात्मकता बढ़ जाती हैं। Application Software को उपयोगकर्ता की जरूरत के अनुसार उनके उपयोग के लिए बनाया जाता हैं इसलिए इन्हे End User Program (अंतिम उपयोगकर्ता Program) भी कहते हैं।

Application Software के कार्य निम्न हैं।

  • दृश्यों का निर्माण करना (Constructing Visuals)
  • संसाधनों का समन्वय करना (Coordinating Resources)
  • आंकड़ों की गणना करना (Calculating Figures)
  • प्रबंधन की जानकारी (Managing Information)
  • डेटा में हेरफेर करना (Manipulating Data)

Application Software के उदाहरण निम्न हैं।

  • Office के कार्यों के लिए Microsoft Office, Word, Excel, Powerpoint, Outlook आदि।
  • Internet चलाने के लिए Chrome, Mozilla Firefox, Safari और Opera आदि।
  • Skype
  • Media Player
  • Photo Editor
  • Console Game

अब आप जान ही गए होंगें कि Application Software Kya Hota Hai और इनका हम अपने दिन-प्रतिदिन के कार्यों में बहुत उपयोग करते हैं। आज हमने बहुत सी  Software Ki Jankari इस पोस्ट के द्वारा प्राप्त की।

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: Bluestacks Kya Hai? Bluestacks Kaise Download Kare? – जानिए Bluestacks से जुडी सारी जानकारी हिंदी में!

Conclusion:

हाँ तो दोस्तों आपको हमारी आज की पोस्ट कैसी लगी आज हमने आपको बताया कि What Is Software In Hindi और Software Kitne Prakar Ke Hote Hai ये हमने आज की पोस्ट में जाना। उम्मीद है आपको समझ आया होगा और पसंद भी आया होगा, क्योंकि आज हमने सरल भाषा में आपको और Update जानकारी बताई है, जो आपके लिए उपयोगी और महत्वपूर्ण हैं।

हम आशा करते है आपके कई सवालों के जवाब आज आपको यहाँ मिले होंगे, अगर आपके मन में अब भी कुछ सवाल है तो वो भी आप Comment Box में Comment करके हमसे पूछ सकते हैं, हमारी टीम आपकी सहायता करने की कोशिश करेगी।

अगर आपको हमारी आज की पोस्ट पसंद आई है तो आप Comment Box में Comment करके भी हमें बता सकते हैं और इसी प्रकार की अन्य जानकारी के लिए आप हमारी वेबसाइट Hindi Sahayta की Notification को Subscribe भी कर सकते हैं जिससे आपको हमारी नयी पोस्ट की जानकारी मिल सके।

आप हमारी पोस्ट अपने दोस्तों से भी शेयर कर सकते हैं और शेयर करके अपने दोस्तों को भी इसके बारे में बता सकते हैं, तो दोस्तों आज के लिए बस इतना ही हम फिर नयी टेक्नोलॉजी और एजुकेशन से संबंधित पोस्ट लेकर हाज़िर होंगे तब तक के लिए अलविदा दोस्तों। आपका दिन शुभ हो! धन्यवाद।

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here