Web Design Kya Hai? Web Designing Course Kaise Kare? जानिए हिंदी में - Hindi Sahayta
Akansha Panwar Tutorial

हैलो दोस्तों Hindi Sahayta में आपका स्वागत है। आज की पोस्ट में हम आपको बताने जा रहे है Web Design Kya Hai क्या आप भी Web Designing कोर्स सीखना चाहते है तो आप बिल्कुल सही पोस्ट पढ़ रहे है। इसके साथ ही आप यह भी जानेंगे की Web Designing Course Kaise Kare

Web Developer Kaise Bane यह भी आप आज इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे। हम आपको यह बिल्कुल सरल भाषा में समझाएँगे। आशा करते है की आपको हमारी सभी पोस्ट पसंद आ रही होगी। इसी तरह आप आगे भी हमारे ब्लॉग पर आने वाली प्रत्येक पोस्ट को पसंद करते रहे।

आजकल ऐसे बहुत से काम है जिसे आप अपने Free Time में सिख सकते है और बहुत से काम ऐसे होते है जिसे आप अपनी पढ़ाई करने के साथ भी सिख सकते है। ऐसे ही Web Designing का कोर्स है जिसे सीखने के लिए आपको ज्यादा समय की आवश्यकता नहीं होती है। अपनी पढ़ाई पूरी करने के साथ-साथ Web Designing Course भी किया जा सकता है।

Contents

बहुत से लोग अपनी वेबसाइट बनाते है और उसे डिज़ाइन करने के लिए Web Developers और Web Designer की मदद लेते है लेकिन अगर आप चाहे तो अपनी वेबसाइट के लिए Web Development और Web Designing का काम आप स्वयं ही कर सकते है। इसके लिए आपको इन दोनों कोर्स को सीखना होता है जिसके बारे में आज आपको जानकारी मिलेगी।

तो आइये जानते है Web Design Kya Hota Hai Web Designing और Web Developers का कोर्स सीखने के लिए आपको यह पोस्ट What Is Web Designing In Hindi? शुरू से अंत तक पढ़ना होगी। पोस्ट को पूरा पढ़ने के बाद ही आपको इसकी सही और पूरी जानकारी प्राप्त होगी।

Web Design Kya Hai

वेबसाइट को बनाने, अपडेट करने के लिए Web Designing की जाती है। जिसमें Webpage Layout, Graphic Layout, Content Production शामिल होते है। वेबसाइट बनाने का मतलब Web Designing होता है। Web Designing में वेबसाइट बनाने के लिए प्लानिंग की जाती है और Plan के अनुसार ही वेबसाइट को आकार दिया जाता है। और रंग निर्धारित किया जाता है। वेबसाइट पर जो जानकारी दी गई है जो Contents है वह Users को किस तरह से दिखाई देंगे और वह किस तरह से काम करेंगे इन सब बातों का ध्यान रखा जाता है।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: Cache Memory Kya Hai? Types Of Cache Memory – जानिए Difference Between Virtual And Cache Memory In Hindi!

Web Designing Ke Prakar

Web Designing 2 तरह की होती है पहले डिज़ाइन तैयार किया जाता है जिसे Front End Web Design कहते है फिर उस डिज़ाइन को देखकर Coding के द्वारा पूरी वेबसाइट बनाई जाती है जिसे Back End Web Design कहते है।

1. Front End Web Design: 

इसका मतलब होता है वेबसाइट के सामने की डिज़ाइन करना जो Visitors को दिख रहा होता है। वेबसाइट को ओपन करने पर वेबसाइट पर जो भी बना आता है वो सारा काम Front End Web Designer का होता है। इसका मतलब सिर्फ वेबसाइट को सुंदर बनाना ही नहीं है बल्कि वेबसाइट पर कौन सी चीज कहाँ पर जोड़ना है वो सब होता है। जिसकी वजह से Visitors को किसी तरह की कोई परेशानी ना आये।

2. Back End Web Design:

यह किसी भी वेबसाइट का सबसे ज़रुरी भाग होता है। यह इस तरह की Designing होती है जो यूज़र को दिखाई नहीं देती है। लेकिन किसी वेबसाइट को बनाने में इसका ही सबसे बड़ा योगदान होता है।

How To Become A Web Designer In Hindi

आपको यदि Web Designer बनना है तो Front End और Back End दोनों ही तरह की Designing आनी चाहिए। इसके लिए आपको बताएँगे की Web Designing Course Kaise Kare

Front End Web Designing Kaise Sikhe

Front End Web Designer बनने के लिए आपको कौन सा कोर्स करना होगा और क्या सीखना होगा यह आपको आगे बताया गया है।

  • Photoshop Basic

Front End Web Designing के लिए आपको सबसे पहले Photoshop का Basic Course करना होता है। इसकी मदद से आप किसी वेबसाइट का प्रिंट बना सकते है। वेबसाइट डिज़ाइन करने से पहले आपको पता होना चाहिए की आपकी वेबसाइट किस तरह की दिखेगी।

  • HTML

Html एक भाषा है जिसे Code में लिखा जाता है। इसका इस्तेमाल वेबसाइट का Structure बनाने में किया जाता है। इससे Code के द्वारा वेबसाइट को डिज़ाइन किया जाता है।

  • CSS

Html से वेबसाइट का जो Structure बनाया जाता है उसे डिज़ाइन करने के लिए Css का प्रयोग किया जाता है। इससे डिज़ाइन को Style दिया जाता है।

  • Javascript

इसमें पूरी तरह से Programming करना शुरू हो जाती है। Html/ Css वेबसाइट को पूरी तरह से बनाती है। डिज़ाइन को Interactive बनाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। वेबसाइट पर जो Image ऊपर घूम रही होती है वो Javascript के द्वारा घुमती है। Javascript यह भी Detect करता है की किसी यूज़र ने आपकी वेबसाइट पर क्या एक्शन किया है। उस एक्शन के अनुसार वह डिज़ाइन को बदल देता है।

Back End Web Designing Kaise Sikhe

Front End Web Designer बनने के लिए आपको कौन सा कोर्स करना है और इसके लिए क्या सीखना है यह आप आगे जानेंगे।

  • PHP

Web Designing को दूसरी भाषा में भी किया जा सकता है। पर इसके लिए Php एक आसान भाषा है। इससे WordPress पर वेबसाइट डिज़ाइन करना भी सिखा जा सकता है।

  • Database

सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला डाटा Mysql है। इसे सीखने के बाद वेबसाइट पर Logo का डाटा भी Store किया जा सकता है। Mysql में अगर कुछ Store करवाना है तो उसके लिए Php भाषा का प्रयोग किया जाता है।

Web Designing Course Ke Fayde

यदि आप Web Designing Course करते है तो इसके आपको बहुत से फ़ायदे होते है जो आपको आगे बताये गए है।

  1. इसके द्वारा आप अपनी स्वयं की वेबसाइट डिज़ाइन करके पैसे भी कमा सकते है।
  2. Web Designing Course करके आप अपनी खुद की इंस्टिट्यूट भी खोल सकते है।
  3. इस कोर्स को करके आप Marketable Skill को भी सिख सकते है।
  4. Web Designing Course करने के लिए आपको सीमित ज्ञान की जरुरत होती है।
  5. आप कम समय में ही Web Designing Course सिख सकते है।

Web Developer Kya Hai

Web Developer यह काम करता है की जो वेबसाइट इंटरनेट से जुड़ी होती है जैसे वेबसाइट को बनाने का Database Web Based Software, Domain Hosting Management इस तरह के बहुत से काम Web Development में आते है। इस पर काम करने के लिए आपको कंप्यूटर का ज्ञान होना चाहिए क्योंकि इसमें Computer Field में काम करना होता है।

जरूर पढ़े: Cyber Crime Kya Hai? Cyber Security Kya Hai – जानिए Cyber Law Kya Hai विस्तार से!

How To Become A Web Developer In Hindi

Web Developer बनने के लिए आपको अलग से Qualification की जरुरत नहीं होती है। सिर्फ आपको इस फ़ील्ड का ज्ञान होना चाहिए। आपको Html, PHP, CSS और Java Script की पूरी तरह से जानकारी होना चाहिए। Engineering किये बिना भी आप Web Developer बन सकते है। इसके लिए आपको BCA, BSC Computer Science, B.com Computer Science सब्जेक्ट से 12th करना ज़रुरी है और 12th के बाद ग्रेजुएशन करना होगा। आप चाहे तो इसके बाद MCA या MBA It भी कर सकते है। जानते है Web Developer Kaise Bane इसके लिए क्या आवश्यक Skills होना चाहिए।

  • Web Developer बनने के लिए आपको HTML सीखना होगी। यह भाषा थोड़ी टेक्निकल होती है पर कोशिश करने पर आप इसे सिख सकते है। HTML के बिना वेबसाइट नहीं बन सकती।
  • HTML के बाद आपको CSS सीखना पड़ेगी। इसके बाद आप किसी वेबसाइट की Styling कर सकते है। वेबसाइट को अच्छा Look देने के लिए CSS का प्रयोग किया जाता है।
  • HTML और CSS की Knowledge होने के बाद आपको Java Script सीखना होगी। Java Script का Use एनीमेशन के लिए भी करते है।
  • अब इन सब के बाद आपको PHP सीखना है। यह एक प्रोग्रामिंग भाषा है सबसे ज्यादा वेबसाइट WordPress पर ही बनाई जाती है। अगर आप PHP सिख जाते है तो इससे आप WordPress पर आसानी से Theme बना सकते है।

इन सबके बाद आपको योजना बनाना ज़रुरी है। इन चारों भाषा कों सीखने के बाद आप एक अच्छे Web Developer बन सकते है। Web Developer की Salary भी अच्छी होती है। अगर आप ज़्यादा काबिल है तो आपको और अच्छी Salary मिल सकती है। Web Developer की Salary 15,000 से 20,000 तक हो सकती है।

Difference Between Web Designing And Web Development In Hindi

Web Designing और Web Development में अंतर उनके काम में होता है की वो किस तरह से काम को करते है और किस जरुरत को पूरा करने से सम्बन्धित काम करते है।

  1. वेबसाइट की Designing करने के काम को Web Designing कहा जाता है मतलब जो काम वेबसाइट के Presentation से सम्बन्धित होते है Web Designing में आते है। वेबसाइट की Working को कंट्रोल करने से सम्बन्धित काम Web Development में आते है।
  2. Web Developer एक तरह से Programmer ही होते है। Web Designer वेबसाइट के Front को बनाने का काम करते है।

चाहे आप Web Designer बनना चाह रहे हो या Web Developer दोनों ही स्थितियों में आपको Html, Css और Javascript का ज्ञान होना ज़रुरी है। इन तीनों Technology को सीखे बिना आप किसी वेबसाइट को नहीं बना सकते है।

Conclusion

आज की पोस्ट में आपने जाना Web Design Course Kya Hota Hai और इसके साथ ही Web Designing Kaise Sikhe In Hindi यह भी आपने जाना। आशा करते है की हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी।  

Web Design Course Kya Hai यह जानने के लिए हमारी इस पोस्ट की मदद ज़रुर ले। Web Developer Kaise Bane In Hindi यह आप इस पोस्ट के द्वारा अच्छे से जान गये होंगे। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके बताये।  

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: Tinder Kya Hai? Tinder Par Account Kaise Banaye – जानिए Tinder Kaise Use Kare विस्तार से!

इस पोस्ट की जानकारी आप अपने फ्रेंड्स को भी दे। तथा सोशल मीडिया पर भी यह पोस्ट Web Developer Course In Hindi ज़रुर शेयर करे। जिससे ज्यादा लोगों के पास यह जानकारी पहुँच सके। हमारी पोस्ट Web Designing Course In Hindi में आपको कोई परेशानी है या आपका कोई सवाल है इस पोस्ट से सम्बन्धित तो आप कमेंट करके हमसे पूछ सकते है। हमारी टीम आपकी मदद ज़रुर करेगी।

अगर आप हमारी वेबसाइट के Latest Update पाना चाहते है, तो आपको हमारी Hindi Sahayta की वेबसाइट को सब्सक्राइब करना होगा। फिर मिलेंगे आपसे ऐसे ही आवश्यक जानकारी लेकर तब तक के लिए अलविदा दोस्तों हमारी पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद, आपका दिन शुभ हो।

Leave a comment

अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न

हिंदी सहायता क्या है?







हिंदी सहायता एक वेबसाइट है जिस पर अनेक प्रकार की जानकारियों को लेखों के माध्यम से पाठकों तक पहुँचाया जाता है। जिन्हें हिंदी भाषा में लिखकर सरल रूप में समझाया जाता है।

हिंदी सहायता की शुरुआत किसने की?







हिंदी सहायता 15 अगस्त 2017 को नीरज जीवनानी के द्वारा शुरू की गई थी।

हिंदी सहायता का उद्देश्य क्या है?







हमारी वेबसाइट हिंदी सहायता का सबसे मुख्य उद्देश्य लोगों तक इंटरनेट और आधुनिक तकनीकों से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारियों को प्रदान करना है। इसके साथ ही देश की मातृभाषा हिंदी के महत्व को बनाये रखना भी है। जो भारत देश की सबसे प्रिय भाषा है।

हिंदी सहायता पर किस प्रकार के लेख मौजूद है ?







हिंदी सहायता पर कई तरह के लेख है जिनके बारे में जानना आपके जीवन के लिए आवश्यक है जैसे – शिक्षा संबंधी लेख, तकनीकी संबंधी लेख, स्वास्थ्य संबंधी लेख, ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए तथा और भी विभिन्न प्रकार के लेख मौजूद है। जिनसे आपको बहुत कुछ सीखने को भी मिलता है और आपका काम भी आसान हो जाता है।

हिंदी सहायता अन्य वेबसाइट से क्यों बेहतर है ?







इस वेबसाइट पर आपको बहुत ही सरल भाषा में जानकारी दी जाती है लेख इस प्रकार से लिखे गए होते है जो आसानी से समझ में आ सके शब्दों को बिल्कुल सामान्य रूप में अभिव्यक्त किया जाता है

क्या हिंदी सहायता पर मेरे सवालों का उत्तर दिया जाएगा ?







हाँ आपके सभी सवालों के जवाब दिए जाएँगे आपको किसी लेख में कोई परेशानी आती है तो आप हमसे जरुर पूछे लेखों से जुड़ी परेशानी को दूर करने में हम आपकी मदद करेंगे

अपना बहुमूल्य सुझाव दे |