भारत में आज लगभग 70% से भी ज्यादा लोग एंड्राइड मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते है। जैसा कि हम जानते है कि दुनिया में सबसे मशहूर ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्राइड है। एंड्राइड मोबाइल फोन में सेंसर के बारे में आपने अवश्य सुना ही होगा। लेकिन आप एंड्राइड में उपयोग किये जाने वाले Gyroscope Sensor या Accelerometer सेंसर के बारे में शायद ही जानते हो, तो इसलिए हमारी इस पोस्ट को अंत तक ज़रूर पढ़े जिसमें Gyroscope Sensor In Hindi इस बारे में पूरे विस्तार से बताया गया है।

जहाँ तक हम सेंसर की बात करे तो सेंसर के प्रकार तो बहुत से है और उनका सबका अपना-अपना एक अलग ही महत्व है जैसे कि एंड्राइड मोबाइल में फोन को अनलॉक करने के लिए फिंगरप्रिंट का उपयोग करते है। वहीं जब हम मोबाइल सेंसर की बात करे तो मोबाइल फोन से कॉल करते समय जैसे ही फोन कान तक ले जाते है, फोन की डिस्प्ले बंद हो जाती है और जैसे ही हम कान से फोन को हटा देते है लाइट फिर से ऑन हो जाती है। यह सब Mobile Sensor से ही होता है।

Gyroscope Sensor Kya Hai

ग्यरोस्कोपे सेंसर बिलकुल एक्सीलेरोमीटर सेंसर की तरह हो होता है लेकिन यह इसका एडवांस्ड फीचर होता है। यह आपके मोबाइल फोन की एकदम बारीक़ से बारीक़ जानकारियों को देखता है और मोबाइल सॉफ्टवेयर को बताता है कि हमने फोन को कितने डिग्री या एंगल में झुका रखा है। इन सब जानकारियों का पता लगाता है। यह सेंसर 360 डिग्री की फोटो या विडियो को देखने के लिए बनाया गया है। यदि आप अपना फोटो या वीडियो 360 डिग्री का बनाना चाहते है तो आप ग्यरोस्कोपे सेंसर की मदद से 360 डिग्री का फोटो या वीडियो कैप्चर कर सकते है।

खासकर इस सेंसर का उपयोग Gyroscope In Pubg गेमिंग खेलने के लिए किया जाता है। Gyroscope Sensor In Android मोबाइल फोन के लिए ही उपयोग में किया जाता है, जो उपयोगकर्ता को काफी प्रभावित व आकर्षित करता है। यदि Gyroscope Sensor Mobile फोन में नहीं है और आप गूगल की Photosfear एप्लीकेशन में फोटो लेंगे तो आपको यह Error देगा – 360 Degree Photo Capture Is Not Supported On This Device.

हमारे स्मार्टफोन में सबसे पहले जो सेंसर होता है वह एक्सीलेरोमीटर सेंसर होता है, जो मोबाइल के सॉफ्टवेयर को यह बतलाता है कि आपने फोन को किस तरह से पकड़ा है और कैसे रखा है। जैसे कि जब हम अपने मोबाइल में Autorotate मोड का विकल्प On करते है तो उसके बाद जब भी कभी हम फोन में फोटो या विडियो देखते है तो फोन जिस दिशा में होता है या हम जिस दिशा में अपना फोन घुमाते है वह उसी दिशा में फोटो या वीडियो दिखलाता है। इन्ही सब में आपने एक फीचर यह भी देखा होगा, जब फोन में कोई कॉल आ रहा होता है और हम फोन को उल्टा कर देते है तो फोन Silent हो जाता है। इन सभी के काम के लिए Accelerometer Sensor का उपयोग किया जाता है।

Gyroscope Sensor Use (ग्यरोस्कोपे सेंसर का इस्तेमाल)

आमतौर पर ग्यरोस्कोपे सेंसर का उपयोग मोबाइल में गेम खेलने के लिए ही करते है। उदाहरण के लिए जब भी हम अपने मोबाइल मे गेम खेलते है तो उससे हर दिशा में घुमाना पड़ता है तभी हम गेम खेल पाते है। यह सिर्फ ग्यरोस्कोपे सेंसर की मदद से ही संभव होता है। ग्यरोस्कोपे सेंसर की वजह से हमारे मोबाइल की हर छोटी से छोटी जानकारियों का पता लगाया जाता है जैसे कि फोन कितने एंगल में, कितने डिग्री में और कितना झुका है। इस सेंसर के माध्यम से आप गूगल की Photosfear एप्लीकेशन में 360 डिग्री का फोटो और वीडियो तक बना सकते हो।

वैसे तो हमारे स्मार्ट फोन में कई तरह के सेंसर का उपयोग होता है जिनके कई फायदे होने के साथ-साथ कुछ नुकसान भी है। यदि इनमें से कोई सेंसर काम करना बंद कर दे तो ऐसे में हमारे मोबाइल फोन में दिक्कत भी आ सकती है। उदाहरण के तौर पर हमारे मोबाइल फोन का फिंगरप्रिंट सेंसर काम करना बंद कर दे तो हम अपने फिंगर की सहायता से मोबाइल लॉक नही कर पाएँगे।

Conclusion:

जैसा की आप लोग जान ही गए होंगे कि हमारे मोबाइल फोन में सेंसर किस तरह से काम करता है और ग्यरोस्कोपे सेंसर के माध्यम से हम हर तरह के फोटोवीडियो ले किसी भी एंगल से सकते है। तो दोस्तों उम्मीद करते है कि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी Gyroscope Sensor Se Kya Hota Hai काफी पसंद आई होगी। तो इसे लाइक और शेयर ज़रूर करे ताकि इस जानकारी का फायदा और भी लोग ले पाए, धन्यवाद!

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here