इंजीनियरिंग की शिक्षा प्राप्त करने के लिए IIT Institute सबसे अच्छा माना जाता है। IIT Institute में प्रवेश पाना जितनी अच्छी बात होती है उतना ही कठिन इसमें प्रवेश पाना होता है। इसमें प्रवेश के लिए आपको बहुत मेहनत करनी पड़ती है तो आज आपको हम इस पोस्ट के माध्यम से बताएँगे की IIT Ki Taiyari Kaise Kare.

आईआईटी कॉलेज में प्रवेश पाने के लिए हर साल लाखों छात्र मेहनत करते है। अगर आप भी इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है और IIT संस्थान में प्रवेश पाना चाहते है। तो आज हम आपको इसकी पूरी जानकारी देंगे की IIT Karne Ke Liye Kya Kare और साथ ही आपको IIT Ka Full Form भी जानने को मिलेगा।

IIT

IIT Kya Hai (What Is IIT)

IIT (भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान) भारत में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए सार्वजनिक संस्थान है। प्रथम भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान की स्थापना खड़गपुर में 1951 में हुई थी। आईआईटी भारत की मुख्य शिक्षण संस्थानों में से एक है।

आईआईटी की परीक्षा स्नातक स्तर (Graduation Level) पर प्रवेश (Admission) के लिए ली जाती है। यह परीक्षा बहुत ही कठिन होती है। अब भारत के बहुत से शहरों में IIT संस्थान खुल गए है। भारत में कुल 23 IIT Institute है।

IIT Full Form:

IIT Ki Full Form होती है : INDIAN INSTITUTE OF TECHNOLOGY

IIT Full Form In Hindi:

आईआईटी फूल फॉर्म हिंदी में होती है : भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान

IIT Kaise Kare

आईआईटी में प्रवेश पाने के लिए आईआईटी की परीक्षा 2 स्तर पर ली जाती है। जिसमें पहली जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) और दूसरी जेईई एडवांस्ड परीक्षा (Advanced Exam) होती है। आईआईटी प्रवेश परीक्षा के लिए पहले जेईई मेन परीक्षा के लिए आवेदन (Apply) करना होता है। इस परीक्षा को पास करने के बाद छात्रों को जेईई एडवांस्ड परीक्षा देने का मौका मिलता है। तथा जेईई एडवांस्ड परीक्षा पास करने के बाद Graduation Level की पढ़ाई के लिए B.Tech में एडमिशन मिल जाता है। आईआईटी संयुक्त प्रवेश परीक्षा 2019 ऑनलाइन मोड में आयोजित की जाती है।

JEE Main Exam Pattern (Paper-1)

यदि आप आईआईटी 2019 JEE परीक्षा की तैयारी कर रहे है, तो यह एक बात जरूर याद रखें कि कक्षा XII की बोर्ड परीक्षा में आपके अंक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। इसलिए, आपको अपनी बोर्ड परीक्षाओं पर उचित ध्यान देना चाहिए।

जेईई मेन परीक्षा (पेपर-1) में रसायन विज्ञान, भौतिकी और गणित विषयों के वैकल्पिक प्रश्न होंगे जिसके लिए 3 घंटे की अवधि होगी। हालाँकि 40% विकलांगता वाले उम्मीदवारों के लिए 4 घंटे का समय होगा। जेईई मेन परीक्षा पेपर-1 के सभी शहरों के केंद्रों के लिए, प्रश्न पत्र माध्यम अंग्रेजी और हिंदी है। उम्मीदवार आवेदन पत्र भरते समय प्रश्नपत्र के लिए भाषा का चयन कर सकते है। प्रत्येक सही प्रश्न के उत्तर के लिए 4 अंक होंगे जबकि प्रत्येक गलत जवाब के लिए 1/4 की नेगेटिव मार्किंग की जाएगी।

विषय प्रश्न अंक
भौतिकी 30120
रसायन विज्ञान30120
गणित 30120
कुल90360

JEE Main Exam Pattern (Paper-2)

जेईई मेन परीक्षा (पेपर-2) में गणित, एप्टीट्यूड और ड्राइंग विषयों से प्रश्न होंगे जिसके लिए 3 घंटे का समय होगा। हालाँकि 40% विकलांगता वाले उम्मीदवारों के लिए 4 घंटे का समय होगा। जेईई मेन परीक्षा पेपर-2 के सभी शहरों के केंद्रों के लिए, प्रश्न पत्र माध्यम अंग्रेजी और हिंदी है। उम्मीदवार आवेदन पत्र भरते समय प्रश्नपत्र के लिए भाषा का चयन कर सकते है। प्रत्येक सही प्रश्न के जवाब के लिए 4 अंक होंगे जबकि प्रत्येक गलत जवाब के लिए 1/4 की नेगेटिव मार्किंग की जाएगी।

विषय प्रश्न अंक
गणित30-
एप्टीट्यूड 50-
ड्राइंग 270
कुल82390

JEE Advanced Exam Pattern 2019

JEE एडवांस्ड परीक्षा कंप्यूटर आधारित परीक्षा (CBT) मोड में आयोजित की जाती है JEE एडवांस्ड 2019 में 3 घंटे की अवधि के दो अनिवार्य पेपर है – पेपर I और II। प्रत्येक पेपर में भौतिकी, रसायन विज्ञान और गणित से प्रश्न पूछे जाते है। उम्मीदवारों को प्रत्येक विषय (या अनुभाग) से प्रश्नों का उत्तर देना होता है। परीक्षा अंग्रेजी और हिंदी भाषाओं में उपलब्ध होगी। लेकिन ध्यान रहे कि केवल एक ही भाषा को चुना जा सकता है। उदाहरण के लिए, यदि उम्मीदवार परीक्षा के शुरुआत के दौरान अंग्रेजी का चयन करता है, तो इसे बीच में हिंदी में नहीं बदला जा सकता है।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: MBA Kaise Kare? – एमबीए करने के लिए योग्यता, परीक्षा, फीस तथा कॉलेज!

IIT Ke Liye Yogyata

यदि आप आईआईटी पात्रता के लिए सर्च कर रहे है तो आपको दे कि आईआईटी प्रवेश परीक्षा के लिए छात्रों को राज्य बोर्ड और केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित 10वीं/12वीं कक्षा पास होना अनिवार्य है। यदि आपने 10वीं/12वीं परीक्षा अच्छे अंकों से पास की है तो और भी अच्छा है।

IIT Ki Tayari Kaise Kare

चाहे कोई भी परीक्षा हो बिना तैयारी के आप किसी भी परीक्षा में पास नहीं हो सकते। अगर आप पूरी तैयारी के साथ परीक्षा की तैयारी करते है तो आप उसमें जरूर सफल होंगे। तो आइये आपको बताते है IIT Karne Ke Liye Kya Karna Chahiye

मुख्य विषय पर फोकस

परीक्षा में पास होने के लिए आपको सबसे ज्यादा ध्यान उन IIT Ke Subject पर देना चाहिए जो सबसे मुख्य होते है। इसके लिए 11th और 12th के भौतिकी (Physics), रसायन विज्ञान (Chemistry), गणित (Maths) पर ध्यान देना ज़रुरी होता है।

समय निर्धारित करे

किसी भी परीक्षा में समय का सबसे ज्यादा ध्यान रखा जाना चाहिए। आप समय निर्धारित करके पढ़ाई करे। और निश्चित समय में सभी प्रश्नों को हल करने की कोशिश करे। आप सभी विषयों के लिए एक निश्चित समय भी बना सकते है।

पिछले साल के पेपर हल करे

परीक्षा का पैटर्न कैसा होता है इसकी जानकारी भी आपको पुराने पेपर से मिल जाती है। पिछले साल के IIT Ke Question के मॉडल पेपर की मदद ले। इससे आपको यह भी पता चलेगा की प्रश्न कैसे पूछे जाते है। इस प्रकार आप पिछले साल के परीक्षा पैटर्न से पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

कोचिंग क्लास करे

अगर आप परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग क्लास जाते है। तो इससे आपको पढ़ाई में और भी मदद मिलती है। छात्रों के साथ पढ़ाई करने से और टीचर के द्वारा पढ़ाये जाने से आपको पढ़ाई में मदद मिलती है। आप जिस विषय की जानकारी चाहते है आप टीचर से पूछकर उसका हल निकाल सकते है।

जरूर पढ़े: Pan Card Kaise Check Kare? – यहां जाने ऑनलाइन पैनकार्ड स्टेटस चेक करने का तरीका!

IIT Colleges In India

यदि आप भारत में IIT Ke Kitne College Hai के बारे में जानना चाहते है तो हम आपको बता दें कि भारत में 23 आईआईटी संस्थान है। जिसके बारे में नीचे आपको बताया गया है।

  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, मुंबई
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, कानपुर
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, मद्रास
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, दिल्ली
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, गुवाहाटी
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, रुड़की
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, रोपड़
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, भुवनेश्वर
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, गांधीनगर
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, हैदराबाद
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, जोधपुर
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, पटना
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, इंदौर
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, मंडी
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, वाराणसी
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, पलक्कड़
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, तिरुपति
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, धनबाद
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, भिलाई
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, गोवा
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, जम्मू
  • भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, धारवाड़

IIT Kitne Year Ki Hoti Hai

यदि आप यह खोज रहे है कि IIT Kitne Year Ka Course Hai तो आपकी जानकारी के लिए बता देते है कि यह निर्भर करता है कि आप बीटेक या बीटेक+एमटेक कर रहे है। बीटेक में लगभग 4 साल लगते है जबकि संयुक्त कोर्स में 6 साल लगते है। इसके अलावा यदि आप किसी विशेष वर्ष में असफल होते है, तो आपको इसे दोहराना होगा।

यह पोस्ट भी पढ़े: NEET Exam Ki Taiyari Kaise Kare? – नीट परीक्षा 2019 के लिए शैक्षणिक योग्यता, सिलेबस, परीक्षा प्रारूप के बारे में जानकारी!

IIT Karne Ke Fayde

आईआईटी करने के भी हमें फायदे मिलते है जिनके बारे में आपको आगे बताया जा रहा है।

Get Respect

अगर आप आईआईटी करते है और आपकी Family में या Friends को इसके बारे में पता चलता है, तो आप उनके और अन्य लोगों के बीच में सम्मान महसूस करेंगे क्योंकि यह उच्च स्तर की शिक्षा प्रदान करने वाली संस्थान होती है।

Good Facilities

आईआईटी के माध्यम से आपको अच्छी सुविधाएँ प्राप्त होती है। आपको पढ़ने के लिए अच्छी Lab और Computer Center की सुविधा मिलती है।

Learn More Things

आईआईटी में Students को सिर्फ Engineering और Research के अलावा बहुत सी चीजें सीखने को मिलती है। इसमें Management, Finance, और Social Skills के बारे में भी सिखाया जाता है।

Provide Free Benefits

आपको आईआईटी Campus के Private Restaurants में 10-15% Discount मिलता है। तथा Free Doctor Consultation की सुविधा भी मिलती है।

Easy Placement

IIT Ke Baad आपको आसानी से एक अच्छी नौकरी मिल जाती है। और आपका अच्छी जगह Placement होता है।

Conclusion:

तो दोस्तों IIT Kaise Kare In Hindi के बारे में आप सब कुछ अच्छे से जान गए होंगे। यदि आप, IIT JEE की तैयारी शुरू करने जा रहे है तो हमारी आपके लिए यही सलाह है की सबसे पहले आप, JEE एडवांस्ड पेपर पैटर्न पर एक बार नजर डाल ले। क्योंकि यह परीक्षा के दौरान आपके द्वारा की जा सकने वाली मूल त्रुटियों को समाप्त करने आपकी मदद करेगा।

इसके अलावा उम्मीदवारों को जेईई एडवांस्ड के सिलेबस का पूरा अवलोकन भी प्राप्त करना चाहिए। यह एक महत्वपूर्ण अध्ययन सामग्री है जिसे छात्रों को अनदेखा नहीं करना चाहिए। छात्रों को सिलेबस के माध्यम से ही अपनी पढ़ाई करनी चाहिए। यदि IIT Ki Puri Jankari Hindi Me में आपका कोई सवाल या Query हो तो आप हमे कमेंट करके बता सकते है हम आप तक पहुंचने का पूरा प्रयास करेंगे, IIT Kaise Hota Hai की जानकारी यदि आपको पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर ताकि वे भी IIT Ki Information प्राप्त कर सके, धन्यवाद!

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...