आप सभी ने पॉलिटेक्निक के बारे में तो ज़रूर सुना होगा नही सुना तो कोई बात नहीं यह एक डिप्लोमा कोर्स होता है जिसे 10th और 12th Ke Baad Polytechnic में प्रवेश के लिया जा सकता है। जब आप अपनी स्कूल की पढ़ाई पूरी कर लेते है उसके बाद सोंचते है कि अब आगे क्या करे, तब आपको अपने दोस्त और रिश्तेदार विभिन्न तरह के सुझाव देते है कि यह कोर्स कर ले वह कोर्स कर ले तो उन सभी विकल्पों में से एक विकल्प पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स का भी होता है।

कई विद्यार्थी पॉलिटेक्निक कोर्स ले तो लेते है लेकिन उन्हें यह पता नही होता की Polytechnic Ka Matlab क्या होता है या इसमें आप क्या बन सकते है। पॉलिटेक्निक कोर्स बहुत ही पॉपुलर कोर्स होता है जिसमे आप अपनी रूचि के हिसाब से पढ़ाई करके अच्छी Job प्राप्त कर सकते है। अगर आप इसके बारे में और अधिक जानकारी पाना चाहते है तो हम आपको Polytechnic Courses Details In Hindi इस बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे है।

Polytechnic Kya Hai (What Is Polytechnic Courses)

पॉलिटेक्निक एक डिप्लोमा कोर्स होता है जो 10वीं और 12वीं कक्षा पास करने के बाद होता है इसमे आप अपनी रुचि के अनुसार किसी भी क्षेत्र में डिप्लोमा कोर्स कर सकते है। यह डिप्लोमा कोर्स 2 से 3 वर्ष का होता है।

पॉलिटेक्निक कोर्स को करने के बाद आप डिग्री के लिए सीधे बी.टेक के सेकंड ईयर में प्रवेश ले सकते है। इसमें बहुत सारे कोर्सेज और ब्रांचेज होते है, जिन्हें आप रूचि के अनुसार चुन सकते है।

क्या आपने यह पोस्ट पढ़ी: Architecture Kya Hota Hai? Architect Ka Kya Kaam Hota Hai? – जानिए Architect Engineer Kaise Bane की सम्पूर्ण जानकारी विस्तार में!

Polytechnic Kaise Kare

पॉलिटेक्निक में प्रवेश लेने के लिए 2 प्रक्रिया बनाई गई है पॉलिटेक्निक में आप 10वीं या 12वीं कक्षा पास होने के बाद भी प्रवेश से ले सकते हैं अगर आप 10वीं कक्षा अच्छे अंक से पास है तो आप सरकार पॉलिटेक्निक संस्थान में प्रवेश कर सकते है लेकिन यदि आपके 10वीं कक्षा में अच्छे अंक नहीं आते है, तो आपको किसी भी निजी संस्थान में प्रवेश लेना होगा।

10वीं कक्षा के बाद

10वीं कक्षा से पॉलिटेक्निक में प्रवेश लेने के लिए आपको प्रवेश परीक्षा देनी होगी जिसका नाम DET (Diploma Entrance Test) है। जो छात्र पॉलिटेक्निक में प्रवेश लेना चाहते है, उन्हें इस प्रवेश परीक्षा को पास करना होगा।

यदि आप इस परीक्षा में अच्छे अंक लाते है तो आप सरकारी संस्थान में आसानी से पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स के लिए प्रवेश ले सकते है, नहीं तो आपको निजी संस्थान में ही प्रवेश लेना होगा यदि आप 10वीं कक्षा से पॉलिटेक्निक का डिप्लोमा कोर्स करते हैं तो यह कोर्स करने की अवधि 3 वर्ष होती है।

12वीं कक्षा के बाद

यदि आप 12वीं कक्षा के बाद पॉलीटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करते है, तो इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि एक तो आप 12वीं कक्षा पास कर लेते है जिससे आगे आपके लिए प्रतियोगी परीक्षा (Competitive Exam) का बहुत ही अच्छा विकल्प होता है।

अगर आप 12वीं के बाद पॉलिटेक्निक का डिप्लोमा कोर्स करते है तब इस कोर्स की अवधि 2 साल की रह जाती है जिससे आप 12वीं और पॉलिटेक्निक डिप्लोमा हासिल कर लेते है और 12वीं के आधार पर पॉलिटेक्निक के साथ जॉब के लिए अप्लाई कर सकते है लेकिन 12वीं से पॉलिटेक्निक का डिप्लोमा कोर्स करने के लिए आपको 12वीं कक्षा में भौतिकी (Physics), रसायन विज्ञान (Chemistry) और गणित (Maths) विषय लेना होगा।

यदि उम्मीदवार 12वीं कक्षा से पॉलिटेक्निक कॉलेज में प्रवेश लेना चाहते है, तो उसके लिए उम्मीदवार को CET (कॉमन एंट्रेंस टेस्ट) की परीक्षा को अच्छे मार्क्स से पास करना होगा तभी आपको किसी सरकारी Polytechnic College में प्रवेश मिलेगा, नहीं तो आपको किसी निजी कॉलेज में प्रवेश लेना होगा।

Polytechnic Ke Subject (पॉलिटेक्निक कोर्स 2019)

तो दोस्तों अभी हमने Polytechnic Kaise Karte Hain इस बारे में आपको बताया चलिए अब जानते हैं की भारत में सबसे लोकप्रिय पॉलिटेक्निक कोर्स लिस्ट:

  • डिप्लोमा इन कम्प्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन सिविल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन माइनिंग
  • डिप्लोमा इन इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन मैकेनिकल (ऑटोमोबाइल) इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन मैकेनिकल (प्रोडक्शन) इंजीनियरिंग

Polytechnic Karne Ke Baad Kya Kare

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा करने के बाद अक्सर छात्र सोंचते है की अब इसके बाद क्या करे? पॉलिटेक्निक करने के बाद आपके पास दो विकल्प होते है पहला अगर आप नौकरी करना चाहते है तो किसी भी सरकारी या निजी क्षेत्र में कर सकते है। दूसरा अगर आप अपनी पढ़ाई को और आगे जारी रखना चाहते हैं तो रख सकते है।

यदि आप पॉलिटेक्निक की पढ़ाई को पूरा करने के बाद आगे अपनी पढ़ाई को जारी करके जॉब पाएंगे तो आपको Polytechnic Ke Baad Salary और अच्छी जॉब दोनों मिलेगी।

जरूर पढ़े: News Reporter Kaise Bane? Reporter Banne Ke Liye Yogyata – जानिए Journalism Diploma Course Ki Jankari हिंदी में!

Polytechnic Ke Baad Job

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करने के बाद उम्मीदवार आसानी से गवर्नमेंट और प्राइवेट फील्ड में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते है। गवर्नमेंट सेक्टर में ऐसे कई डिपार्टमेंट है, जिनमे पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स को प्राथमिकता दी जाती है। जैसे- रेलवे विभाग में ऐसे कई सारी रिक्तियां (वैकेंसी) निकलती रहती है, जिनके लिए पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स होना बहुत जरुरी होता है, बिना पॉलिटेक्निक डिप्लोमा के आप इन रिक्तियों के लिए आवेदन नहीं कर सकते।

Polytechnic Ke Baad B Tech Kaise Kare

आप पॉलिटेक्निक के बाद भी B.Tech कर सकते है आप दो परीक्षा के माध्यम से B.Tech में प्रवेश ले सकते हैं एक LEET (Lateral Entry Exam) के माध्यम से और अन्य इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा के माध्यम से।

यदि आप पॉलिटेक्निक के बाद लेटरल एंट्री एग्जाम के माध्यम से एडमिशन लेते है, तो आपको सीधे इंजीनियरिंग के सेकंड ईयर में एडमिशन मिलेगा।

लेटरल एंट्री एग्जाम स्टेट लेवल की परीक्षा होती है, आप अपनी रैंक के अनुसार काउंसलिंग के समय अपने स्टेट से कॉलेज चुनने में सक्षम होंगे, ज्यादातर इंजीनियरिंग कॉलेज में लेटरल एंट्री के लिए आरक्षित सीट है, लेकिन आईटीआई में कोई लेटरल सीट नहीं है।

Polytechnic Ke Baad ITI

अगर आप पॉलिटेक्निक करने के बाद आईटीआई में जाना चाहते है तो इसके लिए आपको JEE Main और JEE Advance देना होगा इसके अलावा आईटीआई में कोई लेटरल एंट्री नही है लेकिन इस परीक्षा के माध्यम से आप B.Tech के पहले वर्ष में प्रवेश लेने में सक्षम होंगे।

यह पोस्ट भी जरूर पढ़े: SAP Course Kaise Kare? – जानिए सैप कोर्स लिए समय, फीस, इंस्टिट्यूट की पूरी जानकारी हिंदी में!

Polytechnic Ke Fayde

आगे आपको पॉलिटेक्निक कोर्स करने के कुछ फायदे बताये गए है:

  • इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसे आप 10वीं और 12वीं कक्षा के बाद कर सकते है।
  • पॉलिटेक्निक डिप्लोमा में आपको कोर्सेज के बारे में Practical तरीके से सिखाया जाता है।
  • पॉलिटेक्निक डिप्लोमा को करने के बाद आप किसी भी सरकारी और निजी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते है।
  • इस डिप्लोमा कोर्स को करने के बाद आप सीधे इंजीनियरिंग के सेकंड ईयर में प्रवेश ले सकते हैं।

Conclusion:

हाँ तो दोस्तों अगर आपका सपना भी इंजीनियरिंग करने का है तो 10वीं या 12वीं कक्षा के बाद यह आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है। पॉलिटेक्निक संस्थानों द्वारा पेश किये सभी डिप्लोमा कोर्सेज छात्रों को सम्बन्धित विषयों के सभी पहलुओं के बारे में प्रशिक्षित करने के लिए होते है इसमें छात्रों को महत्वपूर्ण बातें सिखाई जाती है ताकि वे खुद का व्यवसाय शुरू करने के योग्य बन पाए। पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि दूसरे लोगों की भी मदद हो सके, धन्यवाद!

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (5 votes, average: 4.40 out of 5)
Loading...