Home » Technology » BSC Ka Full Form – बीएससी (Bsc) क्या है, व कैसे करें पूरी प्रक्रिया।

BSC Ka Full Form – बीएससी (Bsc) क्या है, व कैसे करें पूरी प्रक्रिया।

Bsc Ka Full Form का पूरा नाम ‘Bachelor of Science’ होता है तथा जिसका हिंदी में मतलब विज्ञान में स्नातक होता है। बैचलर ऑफ़ साइंस (Bsc) स्नातक लेवल का एक डिग्री कोर्स है जो विज्ञान के विभिन्न विषयों जैसे- फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ्स, बायोलॉजी, कंप्यूटर साइंस, इत्यादि में किया जाता है। यह एक 3 वर्षीय अंडरग्रेजुएट अकादमिक प्रोग्राम होता है। अगर आपको विज्ञान में रुचि है तो बीएससी क्या है? के बारे में जानना आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है।

[toc]

दोस्तों विद्यार्थियों से अक्सर ये सवाल किया जाता है कि तुम्हें बड़े होकर क्या बनना है। परन्तु जानकारी के अभाव में कई छात्रों को इसका जवाब ढूँढने में काफी समय लग जाता है। दसवीं के बाद साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स में से एक स्ट्रीम का चुनाव करना और 12वीं के बाद करियर बनाने के लिए क्या पढ़ाई की जाए, ये एक मुख्य सवाल होता है। आज का ये लेख उन छात्रों के लिए है जो विज्ञान में अपना करियर बनाना चाहते है।

BSC विज्ञान के छात्रों में एक बहुचर्चित और लोकप्रिय करियर विकल्प है। इसलिए इस आर्टिकल में हम जानेंगे BSc क्या होता है, बीएससी फुल फॉर्म क्या होती है, Bsc करने के बाद क्या जॉब कर सकते हैं, सैलरी कितनी होगी आदि सम्पूर्ण बीएससी कोर्स से संबंधित जानकारी। आइये सबसे पहले जानते है बीएससी का फुल फॉर्म क्या होता है और हिंदी में इसे किस नाम से जाना जाता है।

BSC Ka Full Form

Bsc Ka Full Form

Bsc Ki Full Form होती है ‘Bachelor of Science’, जिसे हिंदी में (Bsc Full Form In Hindi) ‘बैचलर ऑफ़ साइंस’ या ‘विज्ञान में स्नातक’ कहा जाता है। यह विज्ञान में स्नातक यानि ग्रेजुएशन लेवल का 3 वर्षीय डिग्री कोर्स होता है। इसे 12वीं कक्षा साइंस (फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी) विषय से उत्तीर्ण छात्र ही कर सकते है। विज्ञान के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए BSc डिग्री हासिल की जाती है।

उम्मीद है अब आप जान गए होंगे कि, Bsc Ka Full Form Hindi Mai क्या होता है। आइये अब विस्तार से जानते है Bsc Means क्या होता है।

Bsc Kya Hai

Bsc विज्ञान में किया जाने वाला एक तीन वर्षीय स्नातक (बैचलर डिग्री) कोर्स होता है, जिसे विज्ञान के छात्रों द्वारा Science और Technology से संबंधित क्षेत्र में करियर बनाने के लिए किया जाता है। विज्ञान के छात्रों के बीच Bsc एक लोकप्रिय शैक्षणिक डिग्री प्रोग्राम है, इसे पूरा करने के बाद छात्र ग्रेजुएट की केटेगरी में आ जाता है। इस पाठ्यक्रम की अवधि हर देश में भिन्न हो सकती है। भारत में बीएससी की अवधि 3 वर्ष की होती है। वहीं अर्जेंटीना में बीएससी की डिग्री 5 वर्ष की होती है।

दुनियाभर में Bsc की डिग्री सबसे अधिक की जाने वाली डिग्रियों में से एक मानी जाती है। यह डिग्री विज्ञान के कई विषयों में प्रदान की जाती है। भारत में बीएससी की डिग्री विभिन्न विषयों में प्रदान की जाती है जैसे- Agriculture, Biology, Physics, Biochemistry, Computer Science, Mathematics, Nursing आदि।

BSC Full Form in Hindi

Bsc कोर्स दो प्रकार का होता है- BSc General और BSc Honors. आगे हम जानेंगे इन दोनों में क्या अंतर होता है जिससे विद्यार्थियों को इनमें से कौनसी डिग्री करनी है, इसका निर्णय लेने में आसानी होगी। विद्यार्थी अपनी रुचि के अनुसार विज्ञान के Science और Technology के जिस भी क्षेत्र में डिग्री प्राप्त करना चाहते है, कर सकते है।

Bsc General और Bsc Hons में अंतर

उम्मीद है अब आप जान गए होंगे कि Bsc Ka Full Form In Hindi क्या होता है और Bsc General और Bsc Hons में क्या अंतर होता है। आइये अब जानते है BSc कोर्स में एडमिशन की प्रक्रिया क्या होती है।

Bsc General Bsc Honors
1. Bsc General में आपको विज्ञान के अलग-अलग विषयों के बारे में पढ़ाया जाता है।Bsc Honors में मुख्य रूप से विद्यार्थी द्वारा चुने गये एक विशेष विषय के बारे में ही जानकारी प्रदान की जाती है।

इसमें आपको आपके चुने गये विषय में विशेषज्ञ बनाने पर ज़ोर दिया जाता है।

2. Bsc General कोर्स पार्ट टाइम भी किया जा सकता है और फुल टाइम भी।BSc Hons पूरा फुल टाइम कोर्स है।
3. इसे एक साधारण पास डिग्री माना जाता है।बीएससी (ऑनर्स) को बीएससी जनरल की तुलना में बेहतर माना जाता है। इसे असाधारण (Extraordinary) डिग्री के रूप में देखा जाता है।

BSc में एडमिशन लेने के लिए योग्यता

अगर आप भी BSc कोर्स करने की सोच रहे है तो आपके लिए ये जानना बहुत ही आवश्यक है की कॉलेज में BSC कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपकी योग्यता क्या होनी चाहिए। इसलिए हमने इसकी जानकारी नीचे दी है।

  • विद्यार्थी को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड या संस्थान से इंटरमीडिएट (12वीं कक्षा) में उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • आवेदक का 12वीं कक्षा में विज्ञान विषय में उत्तीर्ण होना आवश्यक है।
  • BSc में एडमिशन लेने के लिए आवेदक का बोर्ड परीक्षा में न्यूनतम अंक जो की 50% है, प्राप्त करना आवश्यक है।

Bsc में एडमिशन कैसे ले?

BSC कोर्स के लिए जब आप सारी योग्यताएं पूरी कर लेते है तब आप बीएससी के किसी भी कोर्स के लिए योग्य माने जाते है। BSc में एडमिशन लेने की दो प्रक्रिया होती है।

1. डायरेक्ट एडमिशन

इसमें मेरिट लिस्ट यानी अंको के आधार पर कॉलेज में सीधा एडमिशन मिल जाता है। ज़्यादातर कॉलेज में मेरिट के आधार पर ही दाखिला दिया जाता है। हालांकि हर कॉलेज में न्यूनतम अंकों की योग्यता भिन्न हो सकती है। देश के बड़े-बड़े विश्वविद्यालयों जैसे- दिल्ली विश्वविध्यालय (DU), जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय (JNU) में मेरिट के आधार पर एडमिशन दिए जाते है।

निजी संस्थानों (Private Institutes) के मुकाबले सरकारी संस्थानों की फीस कम होती है, इसलिए BSc करने वाले अधिकतर छात्रों की प्राथमिकता सरकारी विश्वविद्यालय होते है। परन्तु सरकारी संस्थानों के द्वारा तय किये गए न्यूनतम अंक बहुत अधिक होते है।

2. एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर एडमिशन

कई नामचीन विश्वविद्यालयों में प्रवेश परीक्षा के द्वारा छात्रों को दाखिला दिया जाता है। एंट्रेंस एग्जाम देने के लिए भी संस्थान द्वारा तय किये गये न्यूनतम अंक प्राप्त करना ज़रूरी होता है, उसके बाद ही आप एंट्रेंस एग्जाम देने के लिए योग्य माने जाते हो। प्रवेश परीक्षा में न्यूनतम अंक हासिल करने के बाद विद्यार्थियों को रैंक दी जाती है, उसी के आधार पर उन्हें कॉलेज में भर्ती किया जाता है।

प्रवेश परीक्षा पास करने के लिए आपको विज्ञान से संबंधित मूल विषयों की जानकारी होना आवश्यक है। साथ ही आप BSC की जिस स्ट्रीम के लिए परीक्षा दे रहें है, उदाहरण के तौर पर अगर आप बीएससी नर्सिंग की तैयारी कर रहे है तो आपको Bsc Nursing Syllabus से जुड़ी कुछ बेसिक जानकारी भी होनी चाहिए।

Bsc करने के फायदे

किसी भी क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए या करियर बनाने के लिए उसमें रुचि होना बहुत आवश्यक है। जो विद्यार्थी बीएससी करना चाहते है या Bsc करने की सोच रहे है उनके लिए बीएससी करना क्यों फायदेमंद हो सकता है इसकी जानकारी नीचे दी गयी है।

  • विज्ञान के क्षेत्र में तरक्की करने के लिए या विशेषज्ञ बनने के लिए बीएससी की पढ़ाई आवश्यक है।
  • विज्ञान के क्षेत्र में उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु जैसे- MSC, PhD आदि करने के लिए BSc डिग्री होना ज़रूरी है।
    BSc के बाद आकर्षक नौकरी के कई द्वार आपके लिए खुल जाते है। आप सरकारी नौकरी जैसे- SSC, UPSC, NASA, NDA, ISRO आदि या MNCs, निजी कंपनियों में नौकरी करने के लिए BSc कर सकते है।
  • बीएससी करते हुए आप कई आविष्कार कर सकते है, या रिसर्च के क्षेत्र में भी जा सकते है।
  • Bsc करने वाले छात्रों में तर्कशक्ति विकसित हो जाती है, समय के साथ उनका हर चीज़ को देखने का एक साइंटिफिक नजरिया विकसित होता है।
  • बीएससी में अच्छे अंक हासिल करके आप छात्रों को घर पर ही बीएससी का प्रशिक्षण दे सकते है। आप खुद का कोचिंग इंस्टिट्यूट शुरू कर सकते है, ऑनलाइन या ऑफलाइन ट्यूशन दे सकते है आदि।
  • पिछले कुछ सालो में देखा गया है कि भारत सरकार रिसर्च और डेवलपमेंट के क्षेत्र में छात्रों को योगदान देने के लिए प्रोत्साहित कर रही है। रिसर्च, डेवलपमेंट और उद्यमिता से रोजगार के अवसर बढ़ते है। विज्ञान के ज्ञान से भारत में विकास हो सकता है।
  • Bsc डिग्री धारकों का करियर सिर्फ विज्ञान तक ही सिमित नहीं रहता है। BSC स्नातक के पास रोजगार के बेहतरीन अवसर होते है। इस कोर्स को करने के बाद आप Law, Management, Engineering आदि के क्षेत्र में अध्ययन कर सकते है और रोजगार प्राप्त कर सकते है।

बीएससी में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

BSC में छात्रों के पास विषयों में बहुत सारे विकल्प होते है, छात्र अपनी रुचि के अनुसार BSC की स्ट्रीम का चयन करके अपने Bsc Subjects चुन सकते है।

ध्यान रहे BSC Hons वाले छात्रों को सिर्फ एक ही विषय तीन साल पढ़ना होता है क्योंकि उसमें छात्रों को एक ही विषय में विशेषज्ञ बनाने पर ज़ोर दिया जाता है। BSC के प्रमुख स्ट्रीम की सूची हमने यहाँ दी है इसमें आप जान सकते है कि, बीएससी में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं या आप किन Subjects In Bsc में अपना करियर बनाना चाहते है।

BSC MathematicsBSC Medical
BSC PhysicsBSC Multimedia
BSC Hotel ManagementBSC Biology
BSC Software EngineeringBSC Zoology
BSC AgricultureBSC Horticulture
BSC Computer ScienceBSC Botany
BSC EconomicsBSC Geology
BSC ChemistryBSC Environment Science
BSC Food TechnologyBSC Anatomy
BSC Information technologyBSC Nursing
BSC GeneticsBSC Electronics

बीएससी के बाद क्या जॉब करें

BSC की पढ़ाई पूरी करने के बाद आप जॉब करने के योग्य हो जाते हैं। आप चाहे तो प्राइवेट क्षेत्र में नौकरी कर सकते हैं या चाहे तो सरकारी नौकरी कर देश की सेवा कर सकते हैं। नीचे हमने आपको बीएससी के बाद क्या-क्या जॉब कर सकते हैं इसके बारे में बताया है।

  • Anesthesiologist
  • Clinical Research Manager/Specialist
  • Consultant
  • Chemist
  • Cytologist
  • Doctor
  • Dairy Technologist
  • Ecologist
  • Geneticist
  • Lecturer/Teacher
  • Laboratory Technician
  • Marine Geologists
  • Oceanographers
  • Pharmacist
  • Plant Biochemist
  • Researcher
  • Research Analyst
  • Scientist
  • Scientific Assistant
  • Science Adviser
  • Technical Writer/Editor
  • Toxicologist
  • Taxonomist

इसके अलावा भी और बहुत सारी जॉब प्रोफाइल या विकल्प BSC स्नातक के पास उपलब्ध होते हैं। वो अपनी कार्य कुशलता और रुचि के आधार पर अपने करियर का चयन कर सकते हैं।

BSC करने के बाद आप निम्नलिखित सरकारी नौकरी प्राप्त करने हेतु इन परीक्षाओं के लिए आवेदन कर सकते हैं।

  • यूपीएससी परीक्षा (UPSC)
  • एसएससी सीजीएल (SSC CGL)
  • रेलवे परीक्षा (Railway)
  • बैंक परीक्षा (Bank)
  • एलआईसी एएओ परीक्षा
  • भारतीय वन सेवा परीक्षा
  • एएफसीएटी परीक्षा
  • राज्य लोक सेवा आयोग परीक्षा

भारत में BSC के टॉप विश्वविद्यालय / कॉलेज

भारत में BSC स्नातक के लिए बहुत सारे सरकारी और निजी संसथान हैं, उसमें से हमने बेस्ट 10 कॉलेजों की सूची तैयार की है –

विश्विद्यालय/कॉलेज के नामशहर
सेंट स्टीफ़न कॉलेजनई दिल्ली
हिन्दू कॉलेजनई दिल्ली
लेडी श्री राम कॉलेज फॉर वीमेननई दिल्ली
मिरांडा हाउसनई दिल्ली
लोयोला कॉलेजचेन्नई
हंसराज कॉलेजनई दिल्ली
प्रेसीडेंसी कॉलेजचेन्नई
फेर्गुस्सों कॉलेजपुणे
सेंट जेवियर्स कॉलेजकोलकाता
रामकृष्णा मिशन विवेकानंदा सेनेटरी कॉलेजकोलकाता

Conclusion

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको B.Sc Full Form और उससे संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी देने का प्रयास किया है। इसमें हमने Bsc Ka Full Form Kya Hota Hai, BSC क्या होता है (What Is Bsc), BSC करने के क्या फायदे हैं, बीएससी में कितने सब्जेक्ट होते हैं के साथ-साथ बीएससी के लिए भारत में टॉप कॉलेजेस कौनसे है इत्यादि, के बारे में बताया है। हमें पूरी उम्मीद है की इस पोस्ट में दी गयी जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी।

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों एवं सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर ज़रूर करें। साथ ही अगर इस पोस्ट से संबंधित आपके कोई सवाल, सुझाव या विचार हो तो वो भी आप हमें Comment करके दे सकते है।

Bsc फुल फॉर्म से जुड़े FAQs

  • क्या BSC में किसी भी स्ट्रीम के छात्र दाखिला ले सकते हैं?

नहीं, BSC में दाखिला लेने के लिए 12वीं में विद्यार्थी का विज्ञान (Science) विषय से उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।

  • BSC करने के लिए फीस कितनी लगती है?

BSC कोर्स की फीस कॉलेज की लोकप्रियता, क्षेत्रों और राज्यों के हिसाब से अलग-अलग होती है। सरकारी कॉलेज की फीस प्राइवेट या निजी संस्थानों की फीस के मुकाबले कम होती है।

  • बीएससी करने के बाद कौन सी नौकरी मिल सकती है?

बीएससी की पढ़ाई करने से आप कई निजी संस्थानों, MNCs, और सरकारी नौकरी करने के लिए योग्य हो जाते हैं। आप वैज्ञानिक, लेक्चरर, टीचर, रिसर्चर, नर्स, इत्यादि बन सकते हैं।

  • BSC के बाद कौन-कौन से कोर्स कर सकते हैं?

बीएससी की पढ़ाई पूरी करने के बाद आप Msc, B.Ed आदि कर सकते है। आप चाहें तो बीएससी के बाद मेडिकल कोर्स जैसे- ANM, GNM, MBBS, BAMS या अन्य डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते है। साथ ही सरकारी नौकरी की परीक्षा हेतु आवेदन कर UPSC एग्जाम की तैयारी कर सकते है।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 4.8 / 5. Vote count: 98

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

एडिटोरियल टीम

एडिटोरियल टीम, हिंदी सहायता में कुछ व्यक्तियों का एक समूह है, जो विभिन्न विषयो पर लेख लिखते हैं। भारत के लाखों उपयोगकर्ताओं द्वारा भरोसा किया गया।Email के द्वारा संपर्क करें - [email protected]

Leave a Comment