Home » General News » WWW Ka Full Form – WWW क्या है, इतिहास, कार्य, विशेषताएं।

WWW Ka Full Form – WWW क्या है, इतिहास, कार्य, विशेषताएं।

WWW Ka Full Form वर्ल्ड वाइड वेब (World Wide Web) होता है। यह HTML, HTTP, वेब सर्वर और वेब ब्राउज़र इत्यादि पर काम करता है। वर्ल्ड वाइड वेब, जिसे आमतौर पर वेब के रूप में जाना जाता है, एक सूचना प्रणाली है जो इंटरनेट पर उपलब्ध डॉक्यूमेंट का समूह है। यह आपस में एक दूसरे के साथ Hypertext (टेक्स्ट, इमेज, ध्वनि) से जुड़े हुए होते है।

किसी वेबसाइट के नाम को उसका URL (Uniform Resource Locator) भी कहा जाता है जिसके माध्यम से यूजर उस वेबसाइट तक पहुँचते है। इस वेब पते की सहायता से ब्राउज़र प्रोग्राम तक पहुँचता है जिस सर्वर पर वेबसाइट है और फिर उससे एक वेबपेज प्राप्त करके उसे हमारे डिवाइस की स्क्रीन पर प्रदर्शित कर देता है।

[toc]

WWW को वेब के नाम से इसलिए जानते है क्योंकि यह वेबसाइट्स का एक संग्रह है. जहाँ दुनिया भर की सभी जानकारियों को वेबसाइट में संग्रहित किया जाता है। बहुत से इंटरनेट उपयोगकर्ता होंगे जिन्हे शायद ही ववव (WWW) ‘वर्ल्ड वाइड वेब’ (World Wide Web) की उपयोगिता के बारे में पता होगा।

यदि आप भी WWW Ka Kya Arth Hai या वर्ल्ड वाइड वेब की परिभाषा (World Wide Web Ki Paribhasha) नहीं जानते। तो यहां आपको WWW फुल फॉर्म, डब्लूडब्लू डब्लू क्या है (What is WWW in Hindi) इत्यादि के बारे में जानने को मिलेगा।

WWW Kya Hai_WWW Ka Full Form

WWW Ka Full Form

WWW Full Form या मतलब – “World Wide Web” होता है जिसे हिंदी “वर्ल्ड वाइड वेब” या “विश्वव्यापी वेब” कहते है।

W – World

W – Wide

W – Web

  • WWW Full Form in English – World Wide Web
  • WWW Full Form in Hindi – वर्ल्ड वाइड वेब
  • डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू का फुल फॉर्म – वर्ल्ड वाइड वेब
  • WWW Full Form in Computer – World Wide Web

WWW Kya Hai

WWW का फुल फॉर्म वर्ल्ड वाइड वेब (World Wide Web) होता है जिसका उपयोग जानकारी को संगृहीत करने के लिए किया जाता है. इसके द्वारा ही सभी वेबसाइट्स को अपना एक विशेष नाम दिया जाता है, जो उनके पहचान के तौर पर काम करता है और जिसे हम URL के नाम से जानते है. जानकारी प्राप्त करने का यह एक ऐसा माध्यम है जो Links के रूप में होता है। WWW तकनीक के द्वारा दुनियाभर के सभी कंप्यूटर आपस में जुड़े होते है।

हम इन वेबसाइट्स को और इनमें मौजूद इनफार्मेशन, जो कि चित्र, टेक्स्ट, ऑडियो या वीडियो के रूप में होते है, दुनिया के किसी भी कोने से Access कर सकते है। Laptop हो, Mobile हो, या Computer हो, ये सब पर आसानी से उपलब्ध हो सकते है। WWW है, तभी हम इंटरनेट को एक्सेस कर सकेंगे।


सरल शब्दों में समझे तो जब भी हम Google खोलते है, तो Website की URL की जगह पर एक WWW होता ही है। पर क्या आपने कभी सोचा कि आखिर इस डब्लूडब्लूडब्लू का अर्थ (WWW Meaning in Hindi) क्या होता है, क्यों ये हर वेबसाइट के नाम से पहले रहता है तो इसके द्वारा ही हम वेबसाइट तक पहुँच पाते है। तो चलिए अब जान लेते है WWW Ka Full Form Kya Hai?

WWWW Full Form in Hindi के बारे में सभी को पता होना चाहिए, क्योंकि यह बहुत ही आम प्रश्न है जो किसी प्रतियोगी परीक्षा एवं सामान्य ज्ञान की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है।

क्या आपने इसे पढ़ा: कंप्यूटर का फुल फॉर्म – Computer Full Form in Hindi

WWW का इतिहास

क्या आप जानते है कि www.com इन का जन्म कहां हुआ और वर्ल्ड वाइड वेब के आविष्कारक कौन है? अगर नहीं जानते तो मैं आपको बताता हूँ। वर्ल्ड वाइड वेब का आविष्कार ब्रिटिश वैज्ञानिक टिम बर्नर्स ली (Tim Berners-Lee) ने, 1989 में किया था. वर्ल्ड वाइड वेब की हिस्ट्री कुछ इस तरह है- Tim Berners-Lee, CERN में काम करते थे। उनकी 1700 से अधिक वैज्ञानिकों की टीम थी, जो लगभग 100 देशों में थे।

इन सभी वैज्ञानिकों को अपनी जानकारियाँ एक दूसरे तक पहुंचाने का एक ऐसा माध्यम चाहिए था, जो विश्वसनीय हो। इसी बात को ध्यान में रखते हुए कंप्यूटर प्रौद्योगिकियों, डेटा नेटवर्क और हाइपरटेक्स्ट को एक प्रभावी और यूज़र फ्रेंडली वैश्विक सूचना प्रणाली में संयोजित करने के मकसद से, वर्ल्ड वाइड वेब का जन्म हुआ।

वर्ल्ड वाइड वेब की विशेषताएँ

WWW (वर्ल्ड वाइड वेब) का लाभ हम सब बड़े मजे से उठाते है। वर्ल्ड वाइड वेब की विशेषताओं की लिस्ट भी काफी लंबी है। पर यहां मैं आपको कुछ खास विशेषताओं के बारे में बता रहा हूँ।

  • वर्ल्ड वाइड वेब या WWW की वजह से ही हम इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकते है। WWW नहीं, तो इंटरनेट नहीं।
  • WWW को हम दुनिया के किसी भी कोने से बैठकर इस्तेमाल कर सकते है।
  • दुनिया के एक कोने में बैठकर, हम दूसरे कोने में किसी से भी जुड़ सकते है व संपर्क कर सकते है। ये WWW का ही तो कमाल है।
  • हम दुनिया भर की जानकारी मिनटों में पा सकते है सिर्फ वर्ल्ड वाइड वेब यानि WWW की वजह से।
  • ऑनलाइन पढ़ाई, Online Shopping, ऑनलाइन काम, ऑनलाइन पेमेंट, और भी कितने ही ऑनलाइन काम, सब कुछ WWW की वजह से ही मुमकिन हो पाया है।

इसे भी जरूर पढ़े: Computer Ka Avishkar Kisne Kiya – आविष्कारक, इतिहास, वर्ष।

वर्ल्ड वाइड वेब के उपयोग
  • आप कहीं से भी किसी भी तरह की जानकारी प्राप्त कर सकते है।
  • सोशल साइट्स का उपयोग कर सकते है।
  • ऑनलाइन खरीददारी कर सकते है।
  • आप इससे जो चाहें सीख सकते है।
  • यह किसी के साथ कम्युनिकेशन का बहुत ही अच्छा माध्यम है।
वर्ल्ड वाइड वेब के नुकसान
  • युवा पीढ़ी कई गलत और पायरेटेड वेबसाइटों के प्रति आकर्षित हो रही है।
  • इसका गलत इस्तेमाल करके  समय की बर्बादी होती है।
  • इसके ज्यादा इस्तेमाल से आपके स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ता है।
  • यहाँ आपको कई Fake और Spam Emails और Sites मिलेंगी जो आपके डिवाइस को हैक कर सकते है।

WWW कैसे काम करता है?

  • यदि URL में एक डोमेन नाम है, तो ब्राउज़र (जहां पर हम जानकारी खोजते है) पहले एक डोमेन नेम सर्वर से जुड़ता है और वेब सर्वर के लिए संबंधित IP Address प्राप्त करता है।
  • वेब ब्राउज़र वेब सर्वर से जुड़ता है और वांछित वेब पेज के लिए एक HTTP अनुरोध (प्रोटोकॉल स्टैक के माध्यम से) भेजता है।
  • वेब सर्वर वांछित पेज के लिए अनुरोध और जांच प्राप्त करता है। यदि सर्च किया गया पेज मौजूद होता है, तो वेब सर्वर इसे भेजता है। और यदि सर्वर अनुरोधित पेज नहीं ढूंढ पाता है, तो यह एक HTTP 404 त्रुटि संदेश भेजेगा।
  • पेज मैच होने के बाद आप इसे अपने वेब ब्राउज़र पर देख सकते है।

कुछ इस तरह से WWW वेब ब्राउज़र काम करता है।

Web Browser

वेब ब्राउज़र एक प्रोग्राम होता है जिसे आमतौर पर एक ब्राउज़र के रूप में जाना जाता है। यह टेक्स्ट, डेटा, इमेज, वीडियो, एनीमेशन और बहुत कुछ इंटरनेट के माध्यम से प्रदर्शित करता है। वेब ब्राउज़र एक सॉफ्टवेयर इंटरफ़ेस प्रदान करता है जो उपयोगकर्ताओं को वर्ल्ड वाइड वेब यानी WWW पर हाइपरलिंक्ड संसाधनों पर क्लिक करने की अनुमति देता है। जिसे कोई भी व्यक्ति यूआरएल पर डबल क्लिक करके देख सकते है।

कुछ पॉपुलर वेब ब्राउज़र की लिस्ट आपको निचे दी गयी है –

  • Google Chrome
  • Mozilla Firefox
  • Microsoft Edge
  • Internet Explorer
  • Opera
  • Safari
  • Vivaldi
  • Brave

एक नज़र इस पर भी: Intranet क्या है? – Internet, Intranet और Extranet के बीच अंतर।

Conclusion

तो दोस्तों, उम्मीद है आपको वर्ल्ड वाइड वेब मीनिंग इन हिंदी (World Wide Web Meaning In Hindi), एवं WWW Ka Ful Form समझ में आ गया होगा। WWW Ka Matlab Kya Hota Hai ये भी आप हमारे इस लेख को पढ़कर अब जान गए होंगे। अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आया हो, तो WWW Ke Baare Mein Jankari अपने दोस्तों के साथ भी ज़रूर Share करें, और अगर आपके पास हमारे लिए कोई सवाल है, तो उसे Comment में लिख कर हमें बताइए।

WWW से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

  • क्या अब WWW का इस्तेमाल करना जरूरी है?

जी हाँ, किसी वेबसाइट तक केवल उसके सही डोमेन नेम के माध्यम से पहुँचने के लिए WWW का उपयोग जरूर करना चाहिए।

  • WWW का आविष्कार किसने किया था?

वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) का आविष्कार ब्रिटिश वैज्ञानिक Tim Berners-Lee ने सं 1989 में किया था।

  • डब्लू डब्लू डब्लू का पूरा नाम क्या है?

WWW का फुल फॉर्म World Wide Web होता है इसकी मदद से आप वेबसाइट को सर्च कर सकते है।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 4.7 / 5. Vote count: 225

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

एडिटोरियल टीम

एडिटोरियल टीम, हिंदी सहायता में कुछ व्यक्तियों का एक समूह है, जो विभिन्न विषयो पर लेख लिखते हैं। भारत के लाखों उपयोगकर्ताओं द्वारा भरोसा किया गया।Email के द्वारा संपर्क करें - [email protected]

2 thoughts on “WWW Ka Full Form – WWW क्या है, इतिहास, कार्य, विशेषताएं।”

Leave a Comment