1. Tutorial

Dairy Farm Business Kaise Shuru Kare? – डेरी फार्म व्यवसाय शुरू करने से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी!

हम सभी जानते है कि भारत एक कृषि प्रधान देश है जिसमें कोई संदेह नहीं है कि भारत में वाणिज्यिक और छोटे पैमाने पर डेयरी फार्मिंग हमारे देश के कुल दूध उत्पादन और अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। भारत के लगभग सभी क्षेत्र डेयरी फार्मिंग व्यवसाय स्थापित करने के लिए उपयुक्त है।

भारत में अधिकांश गाँवों में डेयरी किसान छोटे पैमाने पर पारंपरिक तरीकों से पशुओं को पाल रहे है परन्तु उन्हें आधुनिक खेती के तरीकों और डेयरी फार्मिंग की उन्नत तकनीकों के बारे में सही जानकारी नहीं है। किसी भी तरह के बिज़नेस को शुरू करने के पहले उसकी सही और आवश्यक जानकारी होना अनिवार्य है। तो आज हम इसके बारे में ही आपको बताने वाले है की Dairy Farm Ka Business Kaise Kare

यदि आप अपना खुद का व्यवसाय करने की सोंच रहे है तो इसके लिए Dairy Farm Business एक अच्छा विकल्प है। इस बिज़नेस की मांग इंडिया में बढ़ती ही जा रही है। यह दूसरे बिज़नेस से बिल्कुल अलग है। कोई भी किसान या अन्य कोई व्यक्ति Dairy Farm Management का कार्य करके अच्छी कमाई कर सकता है। भोज्य पदार्थों की जितनी मांग है उतनी ही डेयरी प्रोडक्ट की भी है। तो चलिए शुरू करते है और जानते है Dairy Farm Kholne Ka Tarika क्या है के बारे में विस्तार से।

Dairy Farming Kaise Shuru Kare

Dairy Farming Kya Hai

Dairy Farming का मतलब होता है दूध से बने पदार्थों का उत्पादन करना। इस बिज़नेस में दूध या दूध से बने पदार्थों को बाजार में बेचना होता है। दूध तो आसानी से प्राप्त किया जा सकता है लेकिन दूध से बने पदार्थ जैसे- घी, दही आदि पदार्थों के लिए अलग से मेहनत करनी होती है। तो अगर आप सिर्फ दूध बेचना चाहते है तो यह काम भी कर सकते है।

Dairy Farming Kaise Shuru Kare

Dairy Farm Ke Liye सबसे पहले हमें गाय और भैंसों की प्रजाति के बारे में जानना होगा जो सबसे महत्वपूर्ण है। पशुओं की खास नस्ल अपनाने पर ही इस बिज़नेस में सफलता पाई जा सकती है। तो भैंस और गाय की कुछ ऐसी नस्ल के बारे में जान लेते है जो अधिक दूध देने या दूध उत्पादन के लिए जानी जाती है।

भैंस

  • नील रवि
  • नागपुरी
  • सुरती
  • मेहसाना
  • मुर्रा
  • भाद्वारी

गाय

  • ब्राउन स्विस
  • गिर
  • जर्सी
  • साहिवाल
  • रेड सिंधी

Safal Dairy Farmer बनने के लिए गाय और भैसों की सही नस्ल का पता होना ज़रुरी है। तो ऊपर बतायी गई नस्ल में से किसी भी नस्ल को आप ख़रीद सकते है जिससे आप अधिक दूध उत्पादन कर पाएंगे।

पशुओं के लिए उचित स्थान

अपने पशुओं का चुनाव करने के बाद अब आपको उनके लिए उपयुक्त स्थान की आवश्यकता होगी। ऐसी जगह का चयन करे जहाँ पानी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हो क्योंकि गायों को और भैसों को अधिक मात्रा में पानी की आवश्यकता होती है। वहीँ गर्मी में गायों और भैसों को हवा देने की भी जरुरत होती है। तो देख ले की जो स्थान आपने चयन किया है वहां बिजली की व्यवस्था है। इसके लिए कितनी ज़मीन और जगह की आवश्यकता होगी। यह पशुओं पर निर्भर करता है की आप कितने पशुओं के साथ Dairy Farm Business Plan कर रहे है।

स्थान का निर्माण कार्य

जो स्थान आपने चुना है उसमें पशुओं के लिए कुछ कमरे बनवाने होंगे। जिससे किसी भी मौसम से अपने पशुओं को बचाया या उनको सुरक्षित किया जा सके। कमरे के साथ ही एक टिन की छत भी बनवानी होगी और चारा देने के लिए भी जगह का निर्माण करना होगा।

लोगों को चयनित करे

गाय, भैसों का दूध निकालने के लिए, उन्हें समय पर चारा देने व सफाई के लिए लोगों की आवश्यकता पड़ेगी, जिसके लिए आपको कुछ लोगों को कार्य पर रखना होगा। तो जो इस कार्य को करने में सक्षम हो ऐसे लोगों का चयन कर लीजिए।

पशुओं के खाने की व्यवस्था

पशुओं के लिए आपको उत्तम चारे की व्यवस्था करनी होगी। जितना पौष्टिक खाना पशुओं को दिया जाएगा उतना ही ज्यादा व अच्छा दूध पशुओं से प्राप्त होगा। भूसे खिलाने के साथ ही पशुओं को हरी घास भी खिलाए। हरी घास दूध में वृद्धि करने के साथ ही कीमत में भी सस्ती होती है। ज्यादा दूध के लिए पशुओं को मिनरल्स और पानी भी अत्यधिक मात्रा में देना होगा।

Dairy Farm Ke Liye Loan Kaise Le

अगर आपको अपना Dairy Farming का बिज़नेस शुरू करने में किसी प्रकार की पैसों की समस्या आ रही है या आप निवेश नहीं कर पा रहे है तो इसके लिए आप लोन भी ले सकते है। Dairy Farm Loan लेने के लिए आपको बैंक जाना होगा लोन के लिए आपसे कुछ गिरवी भी रखा सकते है जिसे सिक्योरिटी डिपोसिट कहते है।

सरकार द्वारा Dairy Farm Subsidy की बहुत सी तरह की सुविधाएँ दी जा रही है। इन सुविधाओं का भी आप लाभ प्राप्त कर सकते है। Dairy Farm Subsidy कितनी मिलेगी यह पशु-पालन पर आने वाले खर्च के ऊपर निर्भर करता है। मध्यप्रदेश की सरकार की बात करे तो यह आपके कुल खर्च का 25% सब्सिडी देगी तथा अन्य राज्यों में जो योजना है उस योजना के आधार पर वहां सब्सिडी दी जाएगी।

Conclusion:

अगर आप ग्रामीण इलाके से सम्बन्ध रखते है तो यह विकल्प आपके लिए बेहतर साबित हो सकता है। तो यदि इस पोस्ट से आपकी किसी तरह से कोई मदद हुई है तो पोस्ट को लाइक करे और जो लोग Dairy Farming खोलने का कार्य करना चाहते है उन्हें इस पोस्ट के द्वारा Dairy Farm Ke Bare Mein Bataiye यदि इससे जुड़ी आप और भी जानकारी पाना चाहते है तो हमें कमेंट में बताए और Dairy Farming Ke Baare Mein आपके कोई सुझाव है तो वो भी हमसे शेयर कर सकते है। मिलते है दोस्तों आपसे हिंदी सहायता पर अगली पोस्ट में, धन्यवाद!

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Average rating 1.5 / 5. Vote count: 2

अब तक कोई रेटिंग नहीं! इस लेख को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें।

हिंदी सहायता एप्प को डाउनलोड करें।

क्या आपको एडिटोरियल टीम के आर्टिकल पसंद आयें? अभी फॉलो करें सोशल मीडिया पर!
पाठकों की प्रतिक्रिया आयी।
कमेंट देखे। कमेंट छिपायें।
Comments to: Dairy Farm Business Kaise Shuru Kare? – डेरी फार्म व्यवसाय शुरू करने से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी!
  • Avatar
    September 16, 2019

    apne bahoot hi achha post likhi hai mam

    Reply
  • Avatar
    August 16, 2020

    हमे मिल्क पैकिंग करने के बारे में बताए, मिल्क को किस तरह पैक करना है, मिल्क पैक करने के लिए उसमे क्या मिलाना पड़ता है, टोटल विधि बताए, thanks

    Reply
Write a response

Your email address will not be published. Required fields are marked *